निरंकारी मिशन में 207 रक्तदाताओं ने कमाया पुण्य एवं सद्गुरु माँता जी का आशीर्वाद

रक्तदान-महादान, स्वस्थ रहे हर इन्सान : श्री विनोद खन्ना, सहायक जोनल इंचार्ज दिल्ली

Sant Nirankari Mission 2018 Blood Donation देहरादून। सन्त निरंकारी चैरिटेबल फाण्डेशन (रजि.) दिल्ली द्वारा पूरे वर्ष विश्व भर में आयोजित रक्तदान शिविरों की श्रृखलों में आज ब्रांच-देहरादून, देहरादून में विशाल स्वैच्छिक रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। इस शिविर में 207 यूनिट ब्लड एकत्रित किया। इस शिविर में अनेकों भक्तों एवं समाज सेवकों ने रक्तदाताओं कमाया पुण्य एवं सद्गुरु माँता जी का आशीर्वाद के भागीदार भी बने।

इस रक्तदान शिविर का उद्घाटन रिबन काटकर माननीय वित्तय एवं पेयजल मंत्री प्रकाश पंत जी ने किया। उन्होंने निरंकारी मिशन द्वारा समाज को समर्पित सेवाओं की भूरी-भूरी प्रशंसा करते हुये कहा कि निरंकारी मिशन जहां एक आध्यात्मिक मिशन वहीं समाज को समर्पित अनेकों प्रकार की सेवाओं में अपना सुन्दर योगदान देता है, यह मिशन विश्व व्यापी मिशन है तथा हमेशा समाज की सेवाओं के लिए तत्पर रहता है। समागमों के माध्यम से मानव सेवा, राष्ट्र सेवा, नैतिक सेवा, समाजिक संगठन के रूप में निरंकारी मिशन का बहुत सुन्दर योगदान है जो वर्षभर लगातार अपने कार्यों के द्वारा समाज को नई दिशा प्रदान करते है। मैं सभी को साधुवाद देता हूं।

भारतीय रेड क्रॉस सोसाइटी जनपद देहरादून के सचिव डा. एम.एस. अंसारी के नेतृत्व में श्रीमती पार्वती पाण्डेय सदस्य रेड क्रॉस सोसाइटी एवं रक्त प्रबंधक समिति डा. शिफाअत अली, अनामिका, रूपाली एवं राजकीय दून मेडिकल कालेज ब्लड बैंक की टीम डा. टी.आर. जोशी, डा. वी.के. भट्ट, सत्येन्द्र सारर्थी, प्रीतम, दीपक, आशीष, चन्द्र मोहन तथा महन्त इंद्रेश ब्लड बैंक से डा. अभिलाषा, डा. वन्दना, विजय सागर भारद्वाज, अमित चंद्रा, कुकरेती, अमित भट्ट, दिनेश सिंह, पूजा, प्रमोद ने किया।

Sant Nirankari Mission 2018 Blood Donation मसूरी जोन के जोनल इंचार्ज जी के नेतृत्व में ब्रांच संयोजक कमल सिंह रावत, सेवादल संचालक मंजीत सिंह, कमेटी मेम्बर नरेश विरमानी एवं संत निरंकारी चेरिटेबल फाउण्डेशन के प्रभारी अमित भट्ट ने इस रक्तदान शिविर में अपना बहुत सुन्दर योगदान दिया। जोनल इंचार्ज श्री हरभजन सिंह ने बताया कि निरंकारी मिशन आध्यात्मिक जागृति के प्रति प्रतिबद्धता के साथ-साथ निरंकारी मिशन निरंकारी बाबाजी के इस संदेश को लागू करने के लिए ‘जीवन का अर्थ तभी है अगर यह दूसरों के लिए जिया जाता है।’ सन् 1986 में रक्तदान शिविर परम पावन सद्गुरु बाबा हरदेव सिंह जी और उनकी धर्मपत्नी पूज्य माता सविन्दर जी द्वारा व्यक्तिगत रूप से रक्तदान करने के साथ शुरू हुए। निरंकारी बाबा के कथन के अनुरूप कि- रक्त नाड़ियों में बहे, नालियों में नहीं’। बता दें कि 30 सितम्बर, 2016 तक मिशन द्वारा भारत में 4828 शिविरों का आयोजन किया गया। जिसमें कुल 8,38,609 यूनिट रक्तदान किया गया। इसके अलावा विदेशों की 200 शाखाओं में मिशन के भक्तों द्वारा नियमित रूप से रक्तदान शिविरों का आयोजन किया जाता है। शिविर में सुनील गामा मुख्यमंत्री प्रतिनिधि का भी आगमन हुआ जोन इंचार्ज जी उनको दुपट्टा पहनाकर उनका स्वागत किया।

रक्तदान सबसे बडा दान है विज्ञान ने मनुष्य के प्रत्येक अंग का विकल्प खोज लिया है लेकिन रक्त का विकल्प अभी विज्ञान को भी नही मिला है। आज विश्व में निरंकारी मिशन स्वैछिक रक्तदान करने वाली सबसे अग्रणिय संस्था है व विश्व में दैवीय आपदाओं में सेवा करने में भी अग्रिम पंक्ति में खडें दिखाई देते है जैसे भूकम्प, सुनामी, बॉढ इत्यादि घटनाओं में निरंकारी मिशन का सेवा-दल अपना सहयोग निस्वार्थ भाव से करते है। आज रक्तदान करके समाज में सराहनीय कार्य कर रहें है। देवभूमि उत्तराखण्ड में निरंकारी भक्तों द्वारा वर्ष में कई बार विशाल रंक्तदान शिविरों का आयोजन किया जाता है समाज में अच्छी सोच निरंकारी मिशन बच्चों के चरित्र निर्माण, वैयक्तिव एवं आचरण को अच्छा स्वरूप प्रदान कर रहें है। रक्तदान शिविर के दौरान मुख्य भवन में सत्संग कार्यक्रम चलता रहा, जिसमें सन्त निरंकारी मण्डल, नई दिल्ली से पधारे प्रशासक, प्रचार विभाग श्री विनोद खन्ना जी ने अपने आध्यात्मिक प्रवचनों में कहा कि आज पूरा ही विश्व मानव एकता दिवस मना रहा है बाबा गुरुवचन सिंह जी महाराज की उन शिक्षाओं को जीवन में उतरने का प्रयास कर रहे है। मंच संचालक रवि आहुजा जी ने किया।

Sushil Kumar Josh

"उत्तराखण्ड जोश" एक न्यूज पोर्टल है जो अपने पाठकों को देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, फिल्मी, कहानी, कविता, व्यंग्य इत्यादि समाचार सोशल मीडिया के जरिये आप तक पहुंचाने का कार्य करता है। वहीं अन्य लोगों तक पहुंचाने या शेयर करने लिए आपका सहयोग चाहता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *