शहर के सबसे बड़े नौकरी मेले में लगभग 34 कोरपोरेट्स ने हिस्सा लिया, 1000 से अधिक उम्मीदवारों ने किए पंजीकरण

अल्मोड़ा। नौकरी ढूंढने वाले हजारों उम्मीदवारों ने गवर्नमेन्ट इंटरकालेज ग्राउण्ड, अल्मोड़ा, उत्तराखण्ड में आयोजित कौशल भारत रोजगार मेला में हिस्सा लिया। राष्ट्रीय कौशल विकास निगम द्वारा आयोजित इस रोजगार मेले में युवाओं को भावी नियोक्ताओं से मिलने और सीधे बातचीत करने का अवसर मिला।

शहर के सबसे बड़े नौकरी मेलो में से एक इस रोजगार मेले को बहुत अच्छी प्रतिक्रिया मिली। तकरीबन 34 कोरपोरेट्स, 1500 से अधिक कुशल उम्मीदवारों ने मेले में हिस्सा लिया।रोजगार मेले में 500 से अधिक उम्मीदवारों को नौकरी दी गई। श्री अजय तमता, राज्य के लिए माननीय टेक्सटाईलमंत्री एवं संसद सदस्य, अल्मोड़ा, उत्तराखण्ड उद्घाटन समारोह में मौजूद थे।

कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्रालय के तत्वावधान में राष्ट्रीय कौशल विकास निगम द्वारा आयोजित कौशल भारत के रोजगार मेले ने नौकरी ढूंढने वाले युवाओं को भावी नियोक्ताओं से जोड़ने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई, उन्हें उद्यमिता सहित रोजगार के अवसरों के बारे में जानने का मौका मिला। मेले ने संगठनोंको ऐसा मंच प्रदान किया, जहां नियोक्ताओं को भावी कर्मचारियों से मिलने का मौका मिला।मेले ने उम्मीदवारों को रोजगार के साथ उद्यमिता एवं एप्रेन्टिसशिप के अवसर भी प्रदान किए।

मेले में हिस्सा लेने वाले अग्रणी सगठनों में अशोक लेलैण्ड, आइकेया, सूर्या बल्ब्स लिमिटेड, आईसीआईसीआई बैंक और टाटामोटर्स शामिल थे। चुने गए उम्मीदवारों को सेल्स एक्जक्टिव, वेयरहाउस एक्जक्टिव, रीटेलटेनी एसोसिएट, कस्टमरसर्विस, सेल्स आफिसर, बैंकिंग फाइनेन्शियल सर्विसेज और बैंक सेल्समैनेजर के जाबरोल्स के लिए चुनागया। रोजगार मेले में कुशल उम्मीदवारों को नियोक्ताओं, एचआर प्रबंधकों, भर्ती अधिकारियों, प्रशिक्षण प्रदाताओं से मिलने का अवसर मिला।

इस मौके पर श्रीअजय तमता, राज्य के लिए माननीय टेक्सटाईल मंत्री एवं संसद सदस्य, अल्मोड़ा, उत्तराखण्ड ने कहा,‘‘हम उत्तराखण्ड के युवाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध हैं। एनएसडीसी द्वारा विभिन्न शहरों आयोजित रोजगार मेलों ने हजारों युवाओं को नियोक्ताओं के साथजोड़ने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

युवाओं को अपनी पसंद की नौकरी पाने के लिए उचित कौशल पर ध्यान देना चाहिए।सरकार युवाओं को कौशल एवं प्रशिक्षण के साथ सशक्त बनाने के लिए प्रयासरत है, ताकि वे अपने जीवन में सफलता हासिल कर सकें।’’

माननीय प्रधानमंत्री जी के कौशल भारत दृष्टिकोण के अनुरूप राष्ट्रीय कौशल विकास निगम कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्रालय के तत्वावधान में विभिन्न हितधार कों जैसे उद्योग, संस्थानों, प्रशिक्षण प्रदाताओं के साथ साझेदारी में रोजगार मेलों, कौशल मेलों, स्किल साथी आदि का आयोजन कर रही है जिसके माध्यम से युवाओं को नौकरी प्रदाताओं के साथ जोड़ा जा रहा है।

कौशल भारत मिशन को सशक्त बनाते हुए एनएसडीसी कई निजी एवं सरकारी कौशल प्रशिक्षण योजनाओं एवं पहलों का संचालन भी कर रही है जैसे प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना और प्रधानमंत्री कौशल केन्द्र। इस तरह की योजनाएं स्कूलध्कालेज छोड़ चुके युवाओंको प्रशिक्षण प्रदान कर उन्हें नौकरी के लिए तैयार करती हैं। अबतक 25 लाख उम्मीदवारों को प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के तहत प्रमाणपत्र दिए जा चुके हैं और लगभग 10 लाख उम्मीदवारों को नौकरियों या स्व-रोजगार के द्वारा सक्षम बनाया गया है।

Sushil Kumar Josh

"उत्तराखण्ड जोश" एक न्यूज पोर्टल है जो अपने पाठकों को देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, फिल्मी, कहानी, कविता, व्यंग्य इत्यादि समाचार सोशल मीडिया के जरिये आप तक पहुंचाने का कार्य करता है। वहीं अन्य लोगों तक पहुंचाने या शेयर करने लिए आपका सहयोग चाहता है।

Leave a Reply