जेईई के लिए शीर्ष 30 कोचिंग संस्थानों की सूची में भी आकाश आईआईटी जेईई 5वें स्थान पर -जानिए खबर

आकाश इंस्टीट्यूट को मेडिकल प्रवेश परीक्षा की तैयारी के लिए सर्वश्रेष्ठ कोचिंग संस्थान का दर्जा दिया
एनईईटी के लिए शीर्ष कोचिंग संस्थानों की सूची में लगातार दूसरे वर्ष आकाश इंस्टीट्यूट को प्रथम स्थान दिया गया है

देहरादून। पूरे देश में सबसे ज्यादा पढ़ी जाने वाली पत्रिकाओं में से एक, इंडिया टुडे मैगजीन द्वारा सर्वश्रेष्ठ कोचिंग संस्थानों की वार्षिक रैंकिंग में मेडिकल प्रवेश परीक्षा की तैयारी कराने वाले देश के 30 सर्वश्रेष्ठ कोचिंग संस्थानों की सूची में आकाश इंस्टीट्यूट को शीर्ष कोचिंग संस्थान का दर्जा दिया गया है, जो मेडिकल एवं इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी कराने वाला देश का अग्रणी संस्थान है। एनईईटी के लिए शीर्ष कोचिंग संस्थानों की सूची में लगातार दूसरे वर्ष आकाश इंस्टीट्यूट को प्रथम स्थान दिया गया है।

आकाश के जेईई डिवीजन, यानी कि आकाश आईआईटी जेईई को इंजीनियरिंग परीक्षाओं की तैयारी के लिए देश भर के कोचिंग संस्थानों की सूची में पूरे भारत में 5वां स्थान दिया गया है। यह संस्थान के लिए एक बड़ी उपलब्धि है क्योंकि बहुत ही कम समय के भीतर इस संस्थान को श्रम्म् के शीर्ष 5 कोचिंग संस्थानों में स्थान दिया गया है, जिसका श्रेय संस्थान की उच्च गुणवत्तायुक्त अध्ययन सामग्री, प्रशिक्षित एवं योग्य अध्यापकों की मौजूदगी तथा अच्छी तरह से शोध के बाद तैयार किए गए प्रश्न-पत्रों को जाता है।

मार्केट रिसर्च करने वाली एक प्रतिष्ठित एजेंसी, मार्केटिंग एंड डेवलपमेंट रिसर्च एसोसिएट्स (डक्त्।) ने कोचिंग संस्थानों की रैंकिंग के लिए पांच कसौटियों पर सभी संस्थानों का मूल्यांकन कियादृ प्रवेश लेने वाले छात्रों की गुणवत्ता और शुल्कय अध्यापकों की गुणवत्ताय अध्ययन के लिए उपलब्ध संसाधनय प्रशिक्षण की प्रक्रिया, तथा परिणाम।

आकाश इंस्टीट्यूट के पिछले परिणामों की प्रामाणिकता, अनुभवी अध्यापकों की विशेषज्ञता, छात्रों की जांच-परीक्षा के लिए नवीनतम पैटर्न, कंप्यूटर-आधारित परीक्षा की सुविधाएं, पर्याप्त एवं विस्तृत अध्ययन सामग्री, व्यक्तिगत तौर पर छात्रों के प्रश्नों का समाधान, प्रत्येक छात्र की तैयारी एवं प्रदर्शन पर विशेष ध्यान, छात्रों को प्रोत्साहन एवं परामर्श, छात्रों की उपस्थिति की नियमित निगरानी, छात्रों के प्रदर्शन पर फीडबैक, अभिभावक-शिक्षक की नियमित रूप से मुलाकात, तथा व्यक्तिगत तौर पर प्रत्येक छात्र के प्रदर्शन का गहन विश्लेषण जैसी विशेषताओं के चलते आकाश को एनईईटी के लिए भारत के नंबर 1 कोचिंग संस्थान का दर्जा दिया गया है।

रैंकिंग पर टिप्पणी करते हुए, आकाश एजुकेशनल सर्विसेज लिमिटेड के निदेशक एवं सीईओ, श्री आकाश चैधरी ने कहा, “हम इस बात से सम्मानित और उत्साहित महसूस कर रहे हैं कि देश की सबसे प्रतिष्ठित पत्रिकाओं में से एक, इंडिया टुडे द्वारा आकाश को एनईईटी के लिए एक बार फिर से भारत के नंबर-1 और श्रम्म् के लिए नंबर-5 कोचिंग इंस्टीट्यूट की रैंकिंग दी गई है। हमारे संस्थापक एवं सीएमडी, श्री जे. सी. चैधरी के मार्गदर्शन तथा विशेषज्ञ अध्यापकों के अथक प्रयास की वजह से ही आकाश इंस्टीट्यूट के छात्रों ने अपने दृढ़ संकल्प का प्रदर्शन किया है, तथा पिछले 32 सालों से लगातार बेहतर परिणाम दिखाए हैं। यह पुरस्कार हमारे छात्रों और शिक्षकों, दोनों की कड़ी मेहनत का परिणाम है। हमारे विचार से, इस उपलब्धि के साथ हमें आने वाले वर्षों में और बेहतर प्रदर्शन करने की जिम्मेदारी मिली है, साथ ही हमारा संकल्प और मजबूत हो गया है।”

उन्होंने आगे कहा, “इस मौके पर आकाश इंस्टीट्यूट अपने सभी छात्रों और अभिभावकों को धन्यवाद देना चाहता है, जिन्होंने आकाश पर भरोसा जताया है। खास तौर पर, कोविड-19 के इस दौर में हम अपने सभी छात्रों एवं अभिभावकों के आभारी हैं, जिन्होंने मेडिकल एवं इंजीनियरिंग में करियर बनाने के उद्देश्य से परीक्षाओं की तैयारी के लिए हमारे संस्थान पर अपना विश्वास एवं यकीन बरकरार रखा है। यह हमारे लिए बहुत गर्व और उपलब्धियों का अवसर है, क्योंकि वर्ष 1988 में हमने एक केंद्र के साथ अपनी यात्रा शुरू की थी जिसमें महज 12 छात्र शामिल थे और आज यह एनईईटी के लिए देश के नंबर-1 कोचिंग संस्थान के रूप में विकसित हो चुका है, जहां पढ़ने वाले छात्रों की संख्या 2 लाख से अधिक है।”

ukjosh

‘उत्तराखण्ड जोश’ एक वेब पोर्टल है जो देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, कहानी, कविता एवं व्यंग्य संबंधी समाचार एवं घटनाओं को सोशल मीडिया द्वारा अपने सुधीपाठकों एवं समाज तक पहुंचाता है। वहीं अपने सुधीपाठकों से यह आशा करता है कि खबरों को शेयर एवं लाइक जरूर करें। हमें आपके सहयोग की अतिआवश्यकता है। धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *