Arushi Nishank, Chairperson, International Women Empowerment Summit & Awards hosted India Chapter of IWES- 2019

New Delhi: Arushi Nishank, Chairperson, International Women Empowerment Summit & Awards hosted India Chapter of IWES- 2019 At Ashoka Hotel, New Delhi. The Programme was being organized in collaboration with Ministry of Women and Child Development, Ministry of Drinking Water & Sanitation, United Nations (UNICEF) and “ Beti Bachao Beti Padhao Campaign” a flagship programme of our Hon’ble Prime Minister Shri Narender Modi Ji.

The Chief Guests for the event were Shri. Dhamendra Pradhan, Ms. Maneka Sanjay Gandhi. The programme was attended by leading women in the field of cinema, literature, health, entrepreneur, philanthropist and house makers-Kirron Kher, Raveena Tandon, Deana Uppal, P.T Usha, Deepa Malik, Mata Shri Mangla Ji, Bachendri Pal, Sushma Seth, Ira Singhal, Laxmi Aggarwal to name a few…

The prime objective of the event was to bring women on a platform to discuss the issues that are becoming an obstacle for her to realise her full potential. Women’s issues were the limelight of India Chapter of International Women Empowerment Summit & Awards.

Arushi Nishank, Chairperson, International Women Empowerment Summit & Awards, said at the event, “Women empowerment is very close to my heart not only because I am a woman but being a woman I carry responsibility for others and society. Women are such strong pillar in a family, business and in any organisation, she needs a wake up call to know all her capabilities, being from Saraswati(goddess of wisdom ) to Kali(GODDESS OF DESTRUCTION).

At present where girl child ratio is increasing and women participation is more in different sectors but women safely and economic independence is yet to improve, education in society not only for woman but for men also required”

Ashoka Hotel New Delhi.

IWES, 1st chapter was successfully done in UAE, Dubai last year. There were more than 9 countries influential ladies participated for formulating policy for women which later handed over to both UAE and Indian government for any reference for making women policies.

About Arushi Nishank- About Arushi Nishank- Arushi Nishank is an internationally acclaimed Indian classical Kathak exponent, entrepreneur, Film Producer and a poetess. She is the disciple of Pt Birju Maharaj and Dr Poornima Pandey. She is a Kathak empanelled artist of Indian Council for Cultural Relations ICCR. Being associated from such a famous political family she chooses to have her work on the ground. She is a promotor of Namami Ganga and Sparsh Ganga mission which is working for Clean Ganga and Environment safety, thousands of workers working with her in this noble work and many youths get inspiration from her.

She is also the managing director of Himalayan Aryuvedic Medical College & Hospital in Dehradun, Uttarakhand. She has given many renowned international Kathak performances like “Special Yoga & Kathak Concert” in London, “Lecture Recital” Indian Sphere “Graz” in Austria, “Bengalischz Nacht, an Indian classical dance in Germany,

“Toronto Festival of India” in Canada. She has received many awards nationally and internationally, such as Marvellous personality award, Uttarakhand Gaurav Samoan, Most iconic personality award (Dubai), youth icon award, swyamsidha award, Adhi abide women excellence award, Atal Smriti Samoan(parliament of India).

 International Women Empowerment Summit

In hindi

इंटरनेषनलवुमेन एम्पावरमेन्टसमिट एण्ड अवाॅर्ड्स की चेयरपर्सन आरूषि निषंक ने आईडब्ल्यूईएस 2019 के इण्डिया चैप्टर का आयोजन किया

इंटरनेशनलवुमेन एम्पावरमेन्टसमिट एण्ड अवाॅर्ड्स की चेयरपर्सन आरूषि निषंक ने अषोका होटल, नई दिल्ली में आईडब्ल्यूईएस 2019 के इण्डिया चैप्टर का आयोजन किया।कार्यक्रम का आयोजन महिला एवं बाल विकास मंत्रालय, पेय जल मंत्रालय, युनिसेफ तथा माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदीजी के प्रमुख प्रोग्राम ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ के सहयोग से किया गया।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि थे-श्री धमेन्द्र प्रधान, मेनका संजय गांधी। प्रोग्राम में सिनेमा, साहित्य, स्वास्थ्य, उद्योग जगत से जानी मानी महिला हस्तियों ने हिस्सा लिया। इनमें किरण खेर, रवीना टंडन, डायना उप्पल, पी टी उषा, दीपा मलिक, माता श्री मंगलाजी, बछेन्द्रीपाल, सुषमा सेठ, ईरा सिंघल, लक्ष्मी अग्रवाल आदि शामिल थे।

महिलाओं को ऐसा मंच उपलब्ध कराना इस कार्यक्रम का उद्देष्य था, जहां महिलाओं से जुड़ी चुनौतियों पर चर्चा की जा सके और उन्हें अपनी प्रतिभा को पहचानने का मौका मिले इंटरनेषनल वुमेन एम्पावरमेन्ट समिट एण्ड अवाॅर्ड्स के इण्डिया चैप्टर में मिहलाओं से जुडे मुद्दे कार्यक्रम का आकर्षण रहे।

आरूषि निषंक, चेयरपर्सन, ने कहा, ‘‘महिलाषसक्तीकरण मेरे दिल के बेहद करीब है इसलिए नहीं कि मैं महिला हूं, बल्कि इसलिए कि एक महिला होने के नाते समाज के प्रति मेरी कुछ ज़िम्मेदारी है। महिलाएं परिवार, कारोबार और किसी भी संगठन में मजबूत नींव की भूमिका निभाती हैं। ऐसे में ज़रूरी है कि वे अपनी क्षमता को समझें। आज के दौर में जब लड़कियों की संख्या बढ़ रही है और विभिन्न क्षेत्रों में महिलाओं की भागीदारी बढ़ रही है, लेकिन महिलाओं की सुरक्षा, उनकी षिक्षा, आत्मनिर्भरता पर ध्यान देने की ज़रूरतहै।’’

आईडब्ल्यूईएस के पहले चैप्टर का आयोजन पिछलेे साल यूएई, दुबई में किया गया था। इसमें 9 देषों से कामयाब महिलाओं ने हिस्सा लिया तथा महिलाओं के लिए एक नीति का गठन किया गया,जिसे बाद में महिला नीतियों के निर्माण में संदर्भ हेतु यूएई एवं भारत सरकार को सौंपा गया।

आरूषि निषंक के बारे में-आरूषि एक अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर विख्यात कथक नृत्यांगना, उद्यमी, फिल्म निर्माता और कवयित्री हैं। वे पंडित बिरजू महाराज और डाॅ पूर्णिमा पाण्डे की षिष्य हैं। वे इण्डियन काउन्सिल फाॅर कल्चर रिलेषन्स आई.सी.सी.आर.पर पैनलबद्ध कथक कलाकार भी हैं।वे प्रसिद्ध राजनैतिक परिवार से ताल्लुक रखती हैं।वे नमामि गंगा और स्पर्ष गंगा अभियाान की समर्थक हैं।

वे हिमालयन आयुर्वेदिक मेडिकल काॅलेज एण्ड हाॅस्पिटल, देहरादून की प्रबंध निदेषक भी हैं। उन्होंने कई अन्तर्राष्ट्रीय कथक परफोर्मेन्स दिए हैं जैसे लंदन में ‘स्पेषल योगा एण्ड कथक काॅन्सर्ट’, आॅस्ट्रिया में ‘लैक्चररेसाइटल’ इण्डियन फेयर ‘ग्राज़’, जर्मनी में भारतीय शास्त्रीय नृत्य:बेंगालीशनाच्त’ और कनाडा में ‘टोरंटो फेस्टिवल आॅफ इण्डिया’।

उन्हें देषविदेष में कई पुरस्कारों से सम्मानित किया जा चुका है जैसे मार्वलस पर्सनेलिटी अवार्ड,उत्तराखण्ड गौरव सम्मान, मोस्ट आइकोनिक पर्सनेलिटी अवाॅर्ड, दुबई यूथआईकन अवार्ड, स्वयंसिद्ध अवाॅड, अबाईड वुमेन एक्सीलेन्स अवाॅर्ड, अटल स्मृति सम्मान भारतीय संसद द्वारा ।

Sushil Kumar Josh

"उत्तराखण्ड जोश" एक न्यूज पोर्टल है जो अपने पाठकों को देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, फिल्मी, कहानी, कविता, व्यंग्य इत्यादि समाचार सोशल मीडिया के जरिये आप तक पहुंचाने का कार्य करता है। वहीं अन्य लोगों तक पहुंचाने या शेयर करने लिए आपका सहयोग चाहता है।

Leave a Reply