पुलिस कर्मियों से मारपीट करने वाली महिला जज के खिलाफ मुकदमा दर्ज

देहरादून: उत्तराखण्ड के जिला देहरादून में प्रेमनगर थाने के अन्तर्गत पुलिस कर्मियों से मारपीट और अभद्रता करने के मामले में देहरादून पुलिस ने विधिक राय लेने के बाद व उच्च न्यायालय इलाहाबाद की अनुमति से उत्तर प्रदेश के उन्नाव में अतिरिक्त जिला जज परिवार न्यायालय जया पाठक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

गौरतलब है कि एक महिला जज ने प्रेमनगर थाने में वीडियो बना रहे पुलिस कर्मी को कई थप्पड़ जड़ दिए थे। उसने खुद को जज बताते हुए अन्य पुलिस कर्मियों और थानाध्यक्ष नरेश राठौर के साथ भी अभद्रता की। पुलिस कर्मियों से मारपीट और अभद्रता का यह वीडियो सोशल मीडिया में भी खूब वायरल हुआ था।

क्या था पूरा मामला

पुलिस के मुताबिक, बीती 11 सितंबर को पेट्रोलियम यूनिवर्सिटी में लॉ द्वितीय वर्ष के छात्र रोहन पाठक व प्रभात आर्य के बीच कार की तेज रफ्तार को लेकर मारपीट हो गई। मारपीट में दोनों तरफ से कई छात्र शामिल थे। अगले दिन 12 सितंबर को भी दोनों गुटों में मारपीट हुई। यह सूचना मिलने पर प्रेमनगर पुलिस यूनिवर्सिटी पहुंची और दोनों छात्र गुटों को थाने ले आई। दोपहर करीब दो बजे आरोपी छात्र रोहन पाठक की मां जया पाठक पति देवेश पाठक के साथ थाने आई।

पुलिस के मुताबिक माता-पिता के सामने रोहन उग्र हो गया और दूसरे पक्ष की कार में तोड़फोड़ करने लगा। इस पूरे घटनाक्रम का एक पुलिस कर्मी मोबाइल से वीडियो बना रहा था। यह देखकर जया पाठक आक्रोशित हो गई और वीडियो बना रहे पुलिस कर्मी को कई थप्पड़ जड़ दिए। उसने खुद को जज बताते हुए अन्य पुलिस कर्मियों और थानाध्यक्ष नरेश राठौर के साथ भी अभद्रता की। पुलिस कर्मियों से मारपीट और अभद्रता का वीडियो सोशल मीडिया में भी खूब वायरल हुआ था।

पुलिस ने साक्ष्यों के आधार पर उच्च न्यायालय इलाहाबाद से मांगी मुकदमा दर्ज करने की अनुमति

हालांकि, जया पाठक के न्यायिक सेवा में होने के कारण पुलिस तत्काल कोई कार्रवाई नहीं कर पाई। विधिक राय लेने के बाद एसएसपी निवेदिता कुकरेती ने उच्च न्यायालय इलाहाबाद उत्तर प्रदेश में मारपीट का वीडियो, जेडी की प्रति आदि साक्ष्य प्रेषित कर जया पाठक के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की अनुमति देने का अनुरोध किया। अनुमति मिलने के बाद शुक्रवार को थानाध्यक्ष प्रेमनगर नरेश राठौर ने जया पाठक निवासी टी-9, 304 पशुनाथ प्लेनेट, गोमतीनगर, लखनऊ उत्तर प्रदेश के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। जया पाठक पर सरकारी कर्मचारी से मारपीट, सरकारी कार्य में बाधा डालने, गालीगलौच करने और जान से मारने की धमकी देने का आरोप है।

Sushil Kumar Josh

"उत्तराखण्ड जोश" एक न्यूज पोर्टल है जो अपने पाठकों को देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, फिल्मी, कहानी, कविता, व्यंग्य इत्यादि समाचार सोशल मीडिया के जरिये आप तक पहुंचाने का कार्य करता है। वहीं अन्य लोगों तक पहुंचाने या शेयर करने लिए आपका सहयोग चाहता है।

Leave a Reply