श्रीनगर(गढ़वाल) में मुख्यमंत्री ने किया सरस मेले का शुभारम्भ -जानिए खबर

श्रीनगर/देहरादून(ब्यूरो)। सोमवार को श्रीनगर में 10 दिवसीय सरस मेले का मुख्यमंत्री ने शुभारम्भ किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि मेले हमारी पहचान है। अपनी पहचान एवं परम्परागत उत्पादों को बढ़ावा देने, अपनी संस्कृति एवं कला को प्रदर्शित करने का भी हमारे परम्परागत मेले प्रभावी माध्यम है।

वहीं मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि उत्तराखण्ड राज्य निर्माण के लिये अपना बलिदान देने तथा संघर्ष करने वाले राज्य आंदोलनकारियों के सपनों का उत्तराखण्ड भी अब अपनी पहचान बनाने लगा है। अपनी परम्पराओं को बढ़ावा देने के लिये हमने राज्य की आवास नीति में बदलाव कर उत्तराखण्डी फसाद भवन शैली को इसमें शामिल किया गया है। इस शैली में भवन निर्माण करने वालों को एक स्टोरी और बनाने की अनुमति दी जायेगी। हमारी भवन शैली खूबसूरत है हमने अपनी इस निर्माण कला को छोड दिया था।

Saras fiar 2020

उन्होंने कहा कि हमने पहाड़ की बद्री गाय को बढ़ावा देने के लिये भी प्रयास किये हैं। बद्री गाय का दूध 900 रू0 किलो बिक रहा है। रिसर्च में यह तथ्य भी सामने आया है कि एक बद्रीगाय के गोबर से 20 नाली जमीन के लिये खाद तैयार की जा सकती है। इस प्रकार अपनी परम्पराओं से जुड़ कर हम भविष्य का रास्ता तय कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि महिला स्वंय सहायता समूहों को सामुहिक खेती से जोड़ने तथा उन्हें आर्थिक रूप से मजबूत करने के लिये 5 लाख तक का बिना ब्याज का ऋण उपलब्ध कराया जा रहा है। महिलाओं में खून की कमी को दूर करने के लिये परम्परागत उत्पादों को आहार का हिस्सा बनाया जा रहा है। उन्होंने इसके लिये घेस के बलाण गांव का उदाहरण दिया जहां खान पान में प्रोटीन की कमी के कारण महिलाओं में दांत गिरने की बीमारी सामने आयी थी। हमारे पारम्परिक उत्पाद प्रोटीन से युक्त है जो हम बीमारियों से भी बचाती है।

Saras Fair Sirnagar

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने बिना किसी भेदभाव के प्रदेश के समग्र विकास का संकल्प लिया है। वर्ष 2022 तक प्रदेश में निर्मित होने वाले सभी पुलों का निर्माण पूरा करा लिया जायेगा। इससे सभी गांवों को सड़क से जुड़ने में मदद मिलेगी। विकास की राह सड़क के रास्ते ही प्रशस्त होती है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के समग्र विकास के लिये की गई पहल को केन्द्र सरकार द्वारा सराहा गया है। इसके लिये राज्य को विभिन्न क्षेत्रों में एक दर्जन से अधिक एवार्ड प्राप्त हुए हैं, जिसमें सरल कनेक्टिविटी, बेटी बचाओं बेटी पढ़ाओं जैसे प्रयास भी शामिल है। मुख्यमंत्री ने कहा कि महिला सम्मान के लिये उनका आर्थिक विकास जरूरी है, इसके लिये बेटियों को प्रोत्साहन एवं सुरक्षा दिया जाना जरूरी है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए भी प्रयास किये जा रहे हैं। प्रदेश में पर्यटकों की संख्या में निरन्तर वृद्धि हो रही है। हमारे प्रदेश का सौन्दर्य स्विरजरलेण्ड से कम नही है। बड़ी संख्या में फिल्मकार प्रदेश में फिल्म की श्ूटिंग करने आ रहे हैं। इस क्षेत्र में भी हमारे सहयोगी प्रयासों की सराहना करते हुए राज्य को मोस्ट फिल्म फ्रेण्डली स्टेट का एवार्ड दिया गया है।

Nameste CM Saras Fair Srinagar

टिहरी सहित अन्य क्षेत्रों में बड़े होटलों की स्थापना के प्रस्ताव आ रहे है। होम स्टे योजना को बढ़ावा दिया जा रहा है इसके लिये बिजली व पानी की दर घरेलू दर पर रखी गई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में साहसिक पर्यटन को बढ़ावा दिया जा रहा है इसके लिये अलग से विभाग का गठन किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर स्टालों का भी अवलोकन किया तथा स्वंय सहायता समूहों के प्रतिनिधियों से भी बातचीत की।

इस अवसर पर सहकारिता एवं उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने कहा कि मुख्यमंत्री के प्रयासों से इस प्रकार के मेलों का आयोजन देहरादून से अलावा प्रदेश के अन्य क्षेत्रों में भी किया जा रहा है। उन्होंने इस प्रकार के आयोजन को पहाड़ के लिये नई पहल बताते हुए कहा कि मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने श्रीनगर के विकास के लिए विशेष पहल की है। एनआईटी सुमाडी 984 करोड़ की लागत से बन रहा है इसके अस्थायी कार्यो के लिये 78 करोड़ तथा पानी बिजली के लिए 54 करोड़ की स्वीकृति प्रदान की है। श्रीनगर की पानी यातायात समस्या का समाधान किया जा रहा है। नये बस अडडे का निर्माण श्रीनगर बाईपास रोड़ हवाई सेवा, सीसीटीवी, मेरीन ड्राइव स्टेडियम का निर्माण तथा मेडिकल कालेज में सभागार का निर्माण की स्वीकृति के लिये भी उन्होंने मुख्यमंत्री का आभार जताया।

इस अवसर पर विधायक पौड़ी श्री मुकेश कोली, प्रदेश उपाध्यक्ष सहकारिता श्री मातवर सिंह रावत, उपाध्यक्ष सिंचाई अतर सिंह असवाल, अध्यक्ष डीसीबी नरेंद्र सिंह, नगर पालिका श्रीनगर अध्यक्ष श्रीमती पूनम तिवारी, पौड़ी नगर पालिका अध्यक्ष श्री यशपाल बेनाम सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति एवं जिलाधिकारी श्री धीराज सिंह गर्ब्याल, एसएसपी श्री दलीप सिंह कुंवर, मुख्य विकास अधिकारी श्री हिमांशु खुराना सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं आम जनमानस मौजूद थे।

ukjosh

‘उत्तराखण्ड जोश’ एक वेब पोर्टल है जो देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, कहानी, कविता एवं व्यंग्य संबंधी समाचार एवं घटनाओं को सोशल मीडिया द्वारा अपने सुधीपाठकों एवं समाज तक पहुंचाता है। वहीं अपने सुधीपाठकों से यह आशा करता है कि खबरों को शेयर एवं लाइक जरूर करें। हमें आपके सहयोग की अतिआवश्यकता है। धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *