जनता की समस्याओं को गम्भीरता से ले अधिकारी: मुख्यमंत्री

गोपेश्वर (चमोली)/देहरादून। क्लेक्ट्रेट परिसर गोपेश्वर में आयोजित जनता मिलन कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने स्वयं जनता के बीच जाकर लोगों की समस्याएं सुनी। उन्होंने जनता की शिकायतों को गम्भीरता से लेते हुए उनके निराकरण का भरोसा देते हुए कहा कि जनता की समस्याओं का निराकरण करना सरकार की प्राथमिकता है। इस दौरान प्राप्त हुयी समस्याओं में जनता ने सड़क, शिक्षा, पेयजल, विद्युत, स्वास्थ्य, आपदा से क्षति का मुआवजा, आर्थिक सहायता, आवास, पीआरडी मानदेय आदि से जुडी 157 समस्याऐं मुख्यमंत्री के समक्ष रखी। जिनके निराकरण के निर्देश मुख्यमंत्री ने दिये।

बता दें कि शनिवार को मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि आम जनता की समस्याओं को गम्भीरता से लेते हुए समयबद्धता के साथ उनका निराकरण किया जाय। उन्होंने जिलाधिकारी सहित अन्य अधिकारियों को जनता से जन समस्यायें सुनने के लिये समय निर्धारित करने को कहा। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी अपने क्षेत्रीय भ्रमण के दौरान भी आम जनता से मिलकर उनकी समस्याओं को सुने तथा उनका तत्परता से निस्तारण सुनिश्चित करायें।

क्लेक्ट्रेट सभागार में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन द्वारा छात्र-छात्राओं के कैरियर निर्माण हेतु तैयार की गई ‘‘कैरियर मार्गदर्शिका’’ का विमोचन किया तथा छात्र-छात्राओं में कैरियर मार्गदर्शिका वितरित की। वहीं जनपद में अगामी 26 व 27 अक्टूबर को आयोजित होने वाले ‘‘हिमालयन काॅनक्लेव’’ के ब्राउसर का भी विमोचन किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने उज्ज्वला योजना के तहत प्राथमिक विद्यालय ल्वाणी, बंगाली, किरूली तथा राइका उज्ज्वलपुर व उर्गम विद्यालयों के लिए गैस कनेक्शन भी वितरित किये।

मुख्यमंत्री ने क्लेक्ट्रेट परिसर में लोनिवि, पीएमजीएसवाई तथा आरडब्लूडी की 19 करोड़, 13 लाख, 15 हजार की 10 विभिन्न विकास योजनाओं का शिलान्यास भी किया। जिसमें ग्राम्य निर्माण विभाग की रा0उ0मा0वि0 कण्डवाल तथा रा0उ0मा0वि0 निलाणी में कम्प्यूटर, पुस्तकालय एवं आर्टक्राफ्ट भवन, लोक निर्माण विभाग की बांजबगड-तलना मो0मार्ग के किमी 9 का हल्का वाहन मार्ग से मो0मार्ग में परिवर्तन व डामरीकरण कार्य तथा नव निर्माण कार्य, धुर्मा-कुण्डी मो0मार्ग के क्षतिग्रस्त दीवारों तथा वाॅशआउट मार्ग का पुर्ननिर्माण, निजमुला-पाणा मो0मार्ग से गौणा-मनाली तक लिंक मोटर मार्ग का निर्माण का शिलान्यास किया। जबकि पीएमजीएसवाई के तहत देवाल-खेता मार्ग पर 24 मी0 लौह सेतु निर्माण, रैंस भटियाणा मो0मार्ग पर स्पान लौह सेतु निर्माण, देवाल-खेता मो0मार्ग पर 48 मी0 स्पान लौह पुल सेतु, खन्ना कुजासु-पैणी मो0मार्ग स्टेज-2 लम्बवाई 11.50 किमी. एवं बुंगीधार मेहलचैरी बछुवाबाण मो0मार्ग से स्यूणी तल्ली पर स्पान लौह सेतु का शिलान्यास शामिल है।

मुख्यमंत्री ने स्वच्छता के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए जिला प्रशासन द्वारा चलाये जा रहे वाॅलपेंन्टिंग अभियान के तहत क्लेक्ट्रेट गेट स्थित वाॅलपेंन्टिग पर स्वयं भी हस्ताक्षर किये तथा क्लेक्ट्रेट गेट के निकट पौधरोपण कर सभी से नगर को स्वच्छ रखने की अपील की। मुख्यमंत्री ने ग्राम्य विकास के तहत क्लेक्ट्रेट परिसर में जिला प्रशासन द्वारा लगाये गये स्टाॅलों का निरीक्षण भी किया। क्लेक्ट्रेट परिसर में स्वंय सहायता समूह जय भूमियाल देवता जोशीमठ, पहाडी फूड प्रोडेक्शन सगर, जड़ी बूटी शोध संस्थान मंडल, एकता स्वायत्त सहकारिता सोनला, जैविक समूह देवर खडोरा सहित कृषि, उद्यान, उद्योग और सूचना विभाग के स्टाॅलों के माध्यम से जनता को लाभान्वित किया गया। इससे पूर्व मुख्यमंत्री के जनपद आगमन पर जिलाधिकारी श्रीमती स्वाति एस भदौरिया, पुलिस अधीक्षक श्रीमती तृप्ति बहुगुणा, सीडीओ श्री हंसादत्त पांडे ने उन्हें पुष्प गुच्छ भेंटकर स्वागत किया। इस अवसर पर कर्णप्रयाग विधायक श्री सुरेन्द्र सिंह नेगी, थराली विधायक श्रीमती मुन्नी देवी शाह, भाजपा जिला अध्यक्ष श्री मोहन प्रसाद थपलियाल, एडीएम श्री एमएस बर्निया सहित ब्लाॅक एवं जिला स्तरीय अधिकारी, जनप्रतिनिधि व क्षेत्रीय जनता मौजूद थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *