देवभूमि में मस्जिदों के निर्माण पर लगानी चाहिए रोक; उत्तराखंड में जमातियों के कारण कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में हुई वृद्धि से नाराज महेंद्र भट्ट ने की लोगों से अपील -जानिए खबर

देहरादून। बदरीनाथ विधानसभा सीट से भाजपा विधायक महेंद्र भट्ट सोशल मीडिया पर अपनी पोस्ट को लेकर चर्चा में हैं। इस पोस्ट में उन्होंने कहा है कि उत्तराखंड को देवभूमि कहा जाता है और अब सरकार को देवभूमि में नई मस्जिदों के निर्माण पर रोक लगानी चाहिए।

सोशल मीडिया पर की गई अपनी टिप्पणी पर अडिग भट्ट ने कहा कि जब मक्का-मदीना में मंदिर का निर्माण नहीं हो सकता तो वैसी ही देवभूमि में भी इस पर रोक लगनी चाहिए। दूसरी ओर, भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष खजान दास ने इसे भट्ट की निजी राय बताया। उन्होंने कहा पार्टी का इससे कोई लेना देना नहीं है।

दरअसल, देश के साथ ही उत्तराखंड में जमातियों के कारण कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में हुई वृद्धि से नाराज महेंद्र भट्ट ने कुछ दिन पहले सोशल मीडिया पर लोगों से अपील की थी कि नजीबाबाद (बिजनौर, उप्र.) से पहाड़ों पर आ रही सब्जी न खरीदें। उन्होंने यह भी आह्वान किया था कि बाहरी लोगों के सैलून में भी न जाएं।

अब उन्होंने मस्जिदों के निर्माण पर रोक को लेकर टिप्पणी की है। उन्होंने कहा कि बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री जैसे धार्मिक स्थनों में पहले से ही मस्जिद निर्माण पर रोक है। कहा कि इस दायरे में पूरे उत्तराखंड को लाना चाहिए।

भट्ट ने फोन पर बताया कि वह अपनी बात पर अडिग हैं और जल्द ही मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से इस बारे में बात भी करेंगे। उन्होंने कहा कि देवभूमि में नई मस्जिदों के निर्माण पर रोक के लिए विचार करना जरूरी है। उधर, भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष खजान दास ने कहा कि इस समय देश कोरोना संकट का सामना कर रहा है। सभी जाति, पंथ और संप्रदाय के लोग यहां रहते हैं।

ऐसे में इस तरह की बातों का कोई औचित्य नहीं हैं। कुछ लोग माहौल बिगाड़ने का प्रयास कर रहे हैं, लेकिन इसे किसी जाति अथवा संप्रदाय से नहीं जोड़ा जाना चाहिए। ऐसे तत्वों से सावधान रहने की जरूरत है।

ukjosh

‘उत्तराखण्ड जोश’ एक वेब पोर्टल है जो देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, कहानी, कविता एवं व्यंग्य संबंधी समाचार एवं घटनाओं को सोशल मीडिया द्वारा अपने सुधीपाठकों एवं समाज तक पहुंचाता है। वहीं अपने सुधीपाठकों से यह आशा करता है कि खबरों को शेयर एवं लाइक जरूर करें। हमें आपके सहयोग की अतिआवश्यकता है। धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *