2020 में क्रिएटिव और उच्ची सैलरी वाले कैरियर कोर्स – जानिए खबर

– सुश्री रूपल दलाल

वे दिन गए जब वित्तीय, तकनीकी, चिकित्सा, कानून और निर्माण क्षेत्रों से जुड़े पेशेवरों ही उच्च कमाई करते थे। हमारे समाज में हो रहे लगातार हो रहें बदलाव के कारण अब मुट्ठी भर पारंपरिक रूप से सफल उद्योगों रूप में सीमित नहीं हैं। इन दिनों भारतीय मध्यम वर्ग और उच्च मध्यम वर्ग के परिवार अपने बच्चों को कला और रचनात्मकता जैसे वैकल्पिक कैरियर के अवसरों को चुननें के लिए अनुमति दे रहें हैं और काफी खुले दिल इन कैरीयर्स में अपने बच्चों को भेज रहें हैं। अब की नई पीढ़ी पहले की पीढ़ियों के विपरीत अपनी पसंद के क्षेत्रों के भीतर अधिक प्रायोगिक और सुनिश्चित कैरियर की तरफ बढ़ रही है।

पिछला दशक हम सभी के लिए आंखें खोलने वाला रहा। हमने वैश्वीकरण, ई-लर्निंग की बदौलक रचनात्मक, और मशीन लर्निंग उद्योगों के भीतर असाधारण वृद्धि देखी है। डिजिटलाइजेशन और एआई में काफी प्रगति आयी हैं। ज्ञान के भंडार के साथ आज इंडस्ट्री के अग्रणी लोग बच्चों को कैरियर बनाने के लिए मार्गदर्शन भी दे रहें है और सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि आज छात्रों को बाजार के हिसाब से तैयार किया जा रहा है, ताकी वे फैशन डिजाइन, इंटीरियर डिजाइन, ग्राफिक या इंडस्ट्रीयल डिजाइन, फोटोग्राफी, वीडियोग्राफी, विडियो एडिटिं आदि जैसे नए-युग के रचनात्मक कैरियर में अपना भविष्य सवार सकें। नीचे दिए गए सुझाव गैर-पारंपरिक कैरियर विकल्पों की तलाश कर रहे बच्चों के लिए सबसे ज्यादा रचनात्मक क्षेत्र हैं।

मल्टीमीडिया डिजाइनर / एनिमेटर्स

मल्टीमीडिया डिजाइनर 2 डी चित्रण या 3 डी सॉफ्टवेयर को नियमित या संवादात्मक मॉडल को ग्राफिकल कार्यों के लिए निर्मित करते हैं। मल्टीमीडिया डिजाइनरों के लिए कार्यों का दायरा हर गुजरते साल के साथ आसमान छू रहा है। एनिमेटरध्डिजाइनर के रूप में कैरियर बनाने के लिए किसी भी स्थिति में कुछ पाठ्यक्रम या सॉफ्टवेयर सीखना जरूरी है जैसे कि 2डी डिजाइन के लिए एडोब, कोरलड्रा और 3क् रेंडरिंग कार्यों के लिए माया, 3डीएस मैक्स। इन पाठ्यक्रम या सॉफ्टवेयर को सिखने के बाद रोजगार के अवसरों हमें राष्ट्रीय, बहुराष्ट्रीय डिजाइन फार्म, विज्ञापनध्मीडिया कंपनियों मिल सकता है।

फैशन डिजाइनर

फैशन डिजाइन किसी भी परिचय की आवश्यकता नहीं है, हम एक फैशन डिजाइनर की भूमिका के बारे में बहुत ज्यादा पता कर रहे हैं। वे बहुत ज्यादा किसी भी सामग्री के साथ डिजाइन आजकल वेशभूषा, प्रसिद्ध हस्तियों, रनवे और आम आबादी के लिए एक जैसे पोशाक डिजाइन करने के लिए। योग्य, अभिनव फैशन डिजाइनरों के लिए मांग समय के साथ लगातार बढ़ रही है। इस उद्योग में रोजगार प्राप्त करने के लिए लोगों को तकनीकी और सौंदर्य का ज्ञान होना जरूरी हैं और इसके लिए फैशनध्परिधान डिजाइन, फैशन मर्चेंडाइजिंग, आदि में एक पेशेवर डिग्री, डिप्लोमा या प्रासंगिक अल्पकालिक पाठ्यक्रम आवश्यक है।

आर्किटेक्ट्स

आर्किटेक्चर आज मौजूद डिजाइन पाठ्यक्रमों में सबसे पुरानें व्यवसायों में से एक है और संभवतः हमारे आसपास के निर्मित पर्यावरण पर सबसे गहरा प्रभाव भी डालते हैं। किफायती आवास, पारंपरिक/अभिनव अवसंरचनाओं की बढ़ती मांग के साथ, सामाजिक परियोजनाओं के लिए योग्य पेशेवर आर्किटेक्ट की आवश्यकता दस गुना बढ़ गई है। और इस तथ्य के बावजूद अभी भी देश में बहुत अधिक पेशेवर आर्किटेक्ट काम नहीं कर रहे हैं, इस कारण देश में आज भी पेशेवर आर्किटेक्ट की मांग बढ़ी हुई हैं। वर्तमान में देश में उपलब्ध आर्किटेक्चर कोर्स दो से पांच साल के हैं।

कला निर्देशक

एक कला निर्देशक की नौकरी में गतिविधियों की एक श्रृंखला शामिल है, जिसमें उत्पादों के लिए प्रासंगिक शैलियों की कल्पना करना, एक वैचारिक परियोजना को प्रस्तुत करने के लिए सबसे अच्छी दृष्टिकोण खोजना आदि शामिल हैं। वे एक उत्पाद के लिए बनने वाले विज्ञापन, मीडिया, पत्रिकाओं, पैकेजिंग से लेकर छवियों के उचित उपयोग के साथ प्रस्तुती के लिए जिम्मेदार होते हैं। कला निर्देशक बनने के लिए आपकों कला और डिजाइन के क्षेत्र में एक पेशेवर स्नातक की डिग्री, डिप्लोमा (न्यूनतम) की आवश्यकता होती है। फिल्म और टेलीविजन, पत्रिकाओं, डिजाइन संस्थानों, मीडिया कंपनियों में कला निर्देशकों की बहुत मांग हैं।

इंटीरियर डिजाइनर

इंटीरियर डिजाइनिंग का अर्थ मकान, दुकान, ऑफिस, शोरूम, होटल, एयरपोर्ट, एग्जीबिशन हॉल, कांफ्रेंस सेंटर, थिएटर, टीवी व फिल्म स्टूडियो और दूसरी व्यावसायिक जगहों को सुंदर, व्यवस्थित व कलात्मक तरीके से सजाना है। ग्राहक के सीमित बजट में मन माफिक काम करके देना, इस व्यवसाय की मांग है। पिछले कुछ वर्षो में ही लोगों की इंटीरियर डिजाइनिंग में रुचि बढ़ी है। वे अपार्टमेंट, कार्यालय अंदरूनी, दुकानों, सैलून आदि से लेकर सब कुछ डिजाइन करते हैं। इंटीरियर डिजाइनर मुख्य रूप से सरकारी विभागों या शैक्षणिक संस्थानों, आर्किटेक्ट फर्म्स में काम करते हैं। किसी भी तकनीकी पाठ्यक्रम के लिए आम तौर पर, उन्हें पेशेवर डिप्लोमा या डिग्री कोर्स करना पड़ता हैं।

औद्योगिक डिजाइनर

अगले कुछ वर्षों में औद्योगिक डिजाइन, डिजाइन उद्योग के बाजार प्रमुख हिस्सेदार होगा। यह उद्योग अपेक्षाकृत नया क्षेत्र हैं मगर फिर भी डिजाइन और निर्माण उद्योगों काफी तेजी से आगे बढ़ रहा हैं। वे उपकरणों, रोजमर्रा के उत्पादों को विकसित करने के लिए, उसके डिजाइन और निर्माण के लिए तकनीकी संयोजन, इंजीनियरिंग का उपयोग करके है, इसके साथ ही वे इन उत्पादों के सौंदर्य, कार्यक्षमता, उत्पादन लागत, प्रदर्शन, उपयोगिता पर विचार करके इसे विकसित करने का काम करते हैं। आर्किटेक्चर, इंडस्ट्रियल डिजाइन या इंजीनियरिंग में बैचलर डिग्री इसके लिए जरूरी हैं।

फोटोग्राफर / वीडियो संपादक

वीडियो एडिटर्स और फोटोग्राफरों का हमेशा फिल्म और टेलीविजन उद्योगों पर एक मजबूत पकड़ रहा है। वे फिल्मों, वृत्तचित्रों, स्वतंत्र फीचर फिल्मों, विज्ञापन एजेंसी, फोटोध्वीडियो एडिटिंग के काम से अपना कैरियर बना सकते हैं। या वे विभिन्न स्तरों पर निर्देशकों, निर्माताओं, संस्थानों के साथ जुड़कर भी अपने आप को बजार में स्थापित कर सकते हैं। रोजगार के अवसर और उद्यमिता की तलाश करने वाले किसी भी उम्मीदवार को कैमरा, वीडियो कैमरा और एडिटिंग सॉफ्टवेयर की गहन समझ का होना बहुत ही महत्वपूर्ण है। इस कैरीयर में विकास करने के लिए आपके पास प्रोफेशनल डिग्री, या अल्पावधि डिप्लोमा का होना जरूरी हैं, और अनुभवों या पेशेवर सहयोग के साथ भी आप व्यक्तिगत रूप से फोटो/वीडियो एंडिटिंग इंडस्ट्री में आगे बढ़ सकते हैं।

वेटर / क्रिएटिव राइटर्स

लेखक बनने के लिए आपको किसा डिग्री की आवश्यकता नहीं होती, लेकिन आपके पास दूर दृष्टि का होना जरूरी हैं। क्रिएटिव राइटर के रूप में आप वेबसाइटों, पत्रिकाओं, विज्ञापनों, स्क्रिप्ट्स से लेकर ब्लॉगर के रूप में काम कर सकते हैं। लेखक के रूप में कैरियर बनाने के लिए आपके पास अंग्रेजी का ज्ञान, संचार का अच्छा ज्ञान या डिग्री होना आवश्यक है। सोशल मीडिया के लिए लिखना या स्व प्रकाशन लेखन के क्षेत्र में उद्यम करने के सबसे कुशल तरीकों में से एक साबित हुए है।

फैशन/डिजाइन पत्रिका संपादक

फैशन और डिजाइन मैगजीन के संपादक का पोस्ट, संचार की एक मजबूत भावना के साथ लोगों के लिए उपलब्ध सबसे आकर्षक नौकरीयों में से एक है। इस काम में आम तौर पर लेख तैयार करना, विचारों और कहानियों की समीक्षा करना और संबंधित प्रकाशन के लिए एक भाषा या शैली विकसित करना होता है। किसी भी भाषा का ज्ञान या डिग्री, पत्रकारिता/संचार में डिग्री और इस क्षेत्र में कुछ अनुभव आपको नियोक्ताओं के पसंद का उम्मिदवार बना सकता हैं।

मेकअप कलाकार

जैसे की नाम से पता चलता है श् मेकअपश् शादियों, संगीत, फोटो शूट और इसी तरह की अन्य आयजनों को दौरान खास तौर पर तैयार होने के लिए मेकअप किया जाता है। मेकअप आर्टिस्ट के रूप में आप सेलिब्रिटीज के व्यक्तिगत मेकअप मेन बन सकते हैं, साथ ही सोशल मीडिया के उपयोग से भी आप अपना कैरियर बना सकते हैं। अन्य प्रोफेशनल कोर्सेस के विपरीत मेकअप का कोर्स बहुत कम समय में पूरे हो जाते हैं। इस कोर्स की अवधि छह महीने से एक वर्ष के बीच होती है।

ukjosh

‘उत्तराखण्ड जोश’ एक वेब पोर्टल है जो देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, कहानी, कविता एवं व्यंग्य संबंधी समाचार एवं घटनाओं को सोशल मीडिया द्वारा अपने सुधीपाठकों एवं समाज तक पहुंचाता है। वहीं अपने सुधीपाठकों से यह आशा करता है कि खबरों को शेयर एवं लाइक जरूर करें। हमें आपके सहयोग की अतिआवश्यकता है। धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *