सशक्त भारत निर्माण में महिलाओं की भूमिका पर हुई चर्चा; उद्यमी महिलाओं को किया सम्मानित

देहरादून। देवभूमि ग्रुप आॅफ इंस्टीट्यूशंस की ओर से महिला दिवस के उपलक्ष्य में महिल उद्यमिता समिट का अयोजन किया गया जिसका विषय वूमेन इंपावरमेंट एज ए टूल टू डेवेलप नेशन रखा गया था। कार्यक्रम में उत्तराखण्ड एवं बाहर से आई महिला उद्यमियों ने प्रतिभाग कर अपने विचार रखे।

कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि बाल संरक्षण आयोग की अध्यक्ष ऊषा नेगी मौजूद थी। उन्होंने कहा कि आज की महिला के लिए एक दिन महिला दिवस नहीं है। वह इतनी सशक्त है कि उनके लिए हर दिन सम्माननीय है और हर दिन महिला दिवस है। जहां तक टूल टू डवलप नेशन है यह बात बिलकुल सही है कि आज महिलाएं किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं है और देश की तरक्की में बराबर की भागीदार है।

Women entrepreneurship summit uttarakhand

कार्यक्रम में गौरेया बचाओ आंदोलन चलाने वाली आसरा स्वयं सेवी संस्था की अध्यक्ष रूपा शर्मा, डिप्टी कमांडेंट जनरल एकता उनियाल, मशरूम गर्ल दिव्या रावत, गायिका सोनिया आंदन रावत, हिमाचल टाइम्स गु्रप की डायरेक्टर रचना पांधी, बैगइट कंसल्टिंग ग्रुप की डायरेक्टर प्रिया गुलाटी, दिल्ली से आई कोवी संस्था की अध्यक्ष तृप्ति सिंघल ने भी महिला सशक्तिकरण पर अपने विचार रखें। इस मौके पर एक ग्रुप डिसकशन का सेशन भी रखा गया जहां महिलाओं ने कार्यस्थल पर महिलाओं को होने वाली परेशानियों पर गहन चर्चा की।

कार्यक्रम में देव भूमि ग्रुप आॅफ इंस्टीट्यूशनस के एमडी अमन बंसल, डायरेक्टर डा. अमित भट्ट, डायरेक्टर डा. एके जायसवाल, डा. मनीषा मैन्दयूली, आरके मिश्रा, डा. ओपी नेट्यूला, दीपा चावला, ऋतिका पुरी, आयूष सिंह, प्रतिभा पांडेय, साक्षी डोभाल आदि मौजूद थे।

इन महिलाओं के किया गया सम्मानित

रचना के कालरा, श्रुति नड्डा पोद्दार, डा. दीपाली भारद्वाज, पूजा सुब्बा, शिवाता राय तलवार, डा. रोमी सलूजा, गौरी सिंह, मीनाक्षी अग्रवाल, लक्ष्मी पुनेठा, डा. जसलीन के शर्मा, डा. बबिता सहोत्रा आनंद, मीना नेगी, रक्षिमा तोमर।

Sushil Kumar Josh

"उत्तराखण्ड जोश" एक न्यूज पोर्टल है जो अपने पाठकों को देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, फिल्मी, कहानी, कविता, व्यंग्य इत्यादि समाचार सोशल मीडिया के जरिये आप तक पहुंचाने का कार्य करता है। वहीं अन्य लोगों तक पहुंचाने या शेयर करने लिए आपका सहयोग चाहता है।

Leave a Reply