उच्च शिक्षकों को सातवें वेतनमान का लाभ न दिए जाने पर शिक्षक महासंघ ने व्यक्त की नाराजगी

अल्मोड़ा। शिक्षक महासंघ के आह्वाहन पर प्रदेश भर में उच्च शिक्षा के समस्त शिक्षक विगत दिन कार्यबहिष्कार पर रहे। बता दें कि कुमाऊं विश्वविद्यालय के अल्मोड़ा परिसर के शिक्षकों द्वारा अभी तक उच्च शिक्षा के शिक्षकों को अभी तक सातवें वेतनमान का लाभ न दिए जाने को लेकर नाराजगी व्यक्त की।

बता दें कि शिक्षक महासंघ के आह्वाहन पर प्रदेश भर में सांकेतिक कार्य बहिष्कार कर धरना दिया। प्रदेश व्यापी सांकेतिक कार्यबहिष्कार के क्रम में एस.एस.जे. परिसर के शिक्षकों द्वारा कार्यबहिष्कार किया। कार्यबहिष्कार कर शिक्षकों द्वारा धरना भी दिया गया। धरने स्थल पर अभी तक उच्च शिक्षा के शिक्षकों को सातवाँ वेतन मान न दिए जाने की नाराजगी शिक्षकों में साफ नजर आयी।

वहीं शिक्षक संघ एकता के अध्यक्ष प्रो देव सिंह पोखरिया ने कहा कि सरकार शिक्षकों की मांगों के प्रति गंभीर नही दिख रही है। कई बार शासन से सातवें वेतनमान की मांग की जा चुकी है परंतु आश्वासन के अतिरिक्त अभी तक कुछ भी सकारात्मक नही हुआ है। उन्होंने सरकार से शीघ्र सातवाँ वेतनमान न दिए जाने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है। धरने स्थल पर वक्ताओं ने एक स्वर में शिक्षकों को सातवाँ वेतनमान दिए जाने की मांग की।

धरने में प्रो देव सिंह पोखरिया, प्रो एस ए हामिद, प्रो अरविंद अधिकारी, प्रो के एन अधिकारी, प्रो के एन पांडेय, प्रो एच बी कोठारी, प्रो विजया रानी धौण्डियाल, प्रो एन सी धौण्डियाल, प्रो एस के जोशी, प्रो जगत सिंह बिष्ट, डॉ नवीन भट्ट, डॉ ए के नवीन, डॉ मुकेश सामन्त, डॉ अरशद हुसैन, डॉ ड़ी एस धामी, डॉ धनी आर्य, डॉ नंदन बिष्ट, डॉ भुवन आर्य, डॉ संदीप कुमार, डॉ राम चन्द्र मौर्य, डॉ तेजपाल, डॉ ड़ी पी यादव, डॉ सुभाष चंद्र, डॉ बलवंत, डॉ वंदना जोशी, डॉ सबीहा नाज, डॉ संजीव आर्य आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *