ट्रेन की चपेट में आया स्कूली वाहन, 13 बच्चों की मौत, अन्य घायल

कुशीनगर। चालक की लापरवाही के कारण एक स्कूली वैन कुशीनगर के दुदही बहपुरवा रेलवे क्रासिंग पर गोरखपुर जा रही ट्रेन सं0 55075 गाड़ी की चपेट में आने से 13 बच्चों की मौत हो गई जबकि आधा दर्जन से अधिक बच्चे गंभीर रूप से घायल हो गए। घायल बच्चों को गोरखपुर मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया है।

जानकारी के मुताबिक बच्चों को घटनास्थल से गोरखपुर लाने के लिए 100 किमी का पूरा ट्रैफिक खाली करा लिया गया। आनन-फानन में हाईवे के सभी थानेदारों को तैनात कर दिया गया। चैकी इंजार्ज और सिपाही भी जगह-जगह खड़े कर दिए गए। एक जगह से घायलों के पास होने के बाद अगली जगह की लोकेशन सभी एक दूसरे को बता रहे थे। इस तरह काफी कम समय में सभी घायल बच्चे कुशीनगर से गोरखपुर पहुंचा दिए गए। दुदही बाजार स्थित डिवाइन स्कूल का वाहन बच्चों को लेकर स्कूल जा रहा था। दुदही – रजवाबर समपार फाटक विहीन क्रासिंग पर जैसे ही वाहन पहुंचा तभी सिवान से गोरखपुर जा रही सवारी गाड़ी आ गई।

ट्रेन आती देख बच्चे शोर मचाने लगे। चालक कान में ईयरफोन लगाये था जिससे उसने न तो ट्रेन की आवाज सुनी और न ही बच्चों के चिल्लाने की आवाज। तब तक स्कूली वाहन में ट्रेन ने जोरदार टक्कर मार दी। इससे वाहन के परखच्चे उड़ गए और 13 बच्चों की तत्काल मौत हो गई। दुर्घटना के बाद वहां पर राहगीर और ग्रामीण पहुंच गए। उन्होंने सभी को अस्पताल पहुुंचाया। अफरा-तफरी में कभी 13 बच्चों के मरने तो कभी 17 और 18 बच्चों के मरने की बात शुरू हो गई। पुलिस के अनुसार यह पता किया जा रहा है कि वाहन में कुल कितने बच्चे सवार थे। उनके अभिभावाकों से भी संपर्क किया जा रहा है ताकि मरने वालों का सही आंकड़ा पता चल सके।

मृतकों के नाम इस प्रकार हैं

1-अकरम पुत्र फरहान, 2-करधन पुत्र हैदर निवासी पडरौना, 3- अतिउल्लाह पुत्र नौशाद अंसारी निवासी कोकिलपट्टी, 4- अनीस नाजिर पुत्र मोहम्मद नाजिर, 5- मोहम्मद अरशद पुत्र मोहम्मद जहीर, 6- मेराज पुत्र मैनुद्दीन निवासी गेरुखा, 7- गोल्डेन पुत्र नौशाद निवासी कोकिलपट्टी, 8-हरिओम पुत्र अंबर सिंह, 9-साजिद व 10-तमन्ना पुत्री हसन निवासी बतरौली। मरने वाले तीन अन्य स्कूली बच्चों की पहचान की जा रही है।

वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दर्दनाक हादसे पर शोक प्रकट किया है। मुख्यमंत्री ने गोरखपुर कमीशनर को हादसे की जांच कर रिपोर्ट सौंपने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मृतकों के परिवारजनों को दो-दो लाख रुपये मुआवजा देने का भी निर्देश दिया है। इस हादसे की सूचना पर बच्चों के अभिभावक भी मौके पर पहुंच गए । घटनास्थल पर कोहराम मचा है। मृतकों के परिवार के लोगों का रो-रोकर बुरा हाल है।

Sushil Kumar Josh

"उत्तराखण्ड जोश" एक न्यूज पोर्टल है जो अपने पाठकों को देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, फिल्मी, कहानी, कविता, व्यंग्य इत्यादि समाचार सोशल मीडिया के जरिये आप तक पहुंचाने का कार्य करता है। वहीं अन्य लोगों तक पहुंचाने या शेयर करने लिए आपका सहयोग चाहता है।

Leave a Reply