प्रथम एवं द्वितीय चरण की जनगणना 2021 को सम्पन्न कराने के लिए कार्ययोजना पर विस्तार -जानिए खबर

देहरादून(ब्यूरो)। गुरूवार को सचिवालय सभागार में मुख्य सचिव श्री उत्पल कुमार सिंह की अध्यक्षता में जनगणना विभाग द्वारा आयोजित जनगणना से जनकल्याण 2021 विषयक बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में निदेशक जनगणना, भारत सरकार श्रीमती विम्मी सचदेवा रामन द्वारा जनगणना 2021 को सम्पन्न करने के लिए प्रथम एवं द्वितीय चरण की कार्ययोजना पर विस्तार से स्लाईड शो के माध्यम से प्रस्तुतीकरण किया गया।

निदेशक जनगणना, भारत सरकार श्रीमती विम्मी सचदेवा रामन द्वारा बताया गया कि प्रथम चरण में मकान सूचीकरण एवं मकानों की गणना का कार्य 01 मई से 15 जून, 2020 तक प्रगणकों द्वारा किया जाना है। द्वितीय चरण में जनसंख्या की गणना का कार्य 09 फरवरी से 28 फरवरी, 2021 तक पूर्ण किया जाना है।

उन्होंने बताया कि प्रथम चरण के साथ ही राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर के अद्यतन का कार्य भी किया जायेगा। निदेशक द्वारा जनगणना कार्य हेतु विभिन्न स्तरों पर तैनात किये जाने वाले जनगणना अधिकारियों की नियुक्ति कर्तव्य एवं मानदेय के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई। उन्होंने समस्त जिलाधिकारियों को जनगणना कार्य में लगाये जाने वाले फील्ड अधिकारियों तथा उनके निर्धारित मानदेय के बारे मे विस्तार से जानकारी दी।

निदेशक जनगणना द्वारा प्रगणक एवं सुपरवाईजरों की नियुक्ति एवं प्रशिक्षण के संबंध में विस्तार से जानकारी दी गई। उन्होंने जनगणना-2021 के लिए विकसित किये गये सीएमएमएस पोर्टल की भूमिका एवं इसके क्रियान्वयन के विषय में भी समस्त जिलाधिकारियों को अवगत कराया। उन्होंने बताया कि जनगणना-2021 में डिजिटल इंडिया को बढ़ावा देने के उद्देश्य से जनगणना आंकड़ों का संकलन अनुसूचियों के साथ-साथ मोबाइल एप द्वारा भी किया जायेगा।

उन्होंने प्रशिक्षण के विषय में विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि राज्य स्तरीय प्रशिक्षक एवं प्रदेश स्तरीय मास्टर प्रशिक्षक का प्रशिक्षण कराया जा चुका है, जिनके द्वारा जिला स्तर में नियुक्त 514 फील्ड प्रशिक्षको को माह मार्च में प्रशिक्षण दिया जायेगा, जो अप्रैल माह में जनगणना कार्य में लगाये गये 30,102 प्रगणकों (इनुमेरेटरर्स) एवं 5474 सुपरवाईजर को प्रशिक्षित करेंगे। उन्होंने जानकारी दी कि जनगणना में इसबार 2018 तथा 2019 बैच के आईएएस प्रोबेशनर को भी जनगणना कार्य में शामिल किया गया है।

बैठक में प्रभारी सचिव श्री रंजीत सिन्हा ने भी जनगणना में विभिन्न स्तरों में तैनात अधिकारियों, प्रगणकों एवं सुपरवाईजरों के मानदेय के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने जिलाधिकारियों द्वारा मानदेय को लेकर उठाई गई जिज्ञासा का भी समाधान किया। बैठक में अपर सचिव श्री बंशीधर तिवारी, जनगणना उपनिदेशक एसएस नेगी तथा उपनिदेशक सुश्री तान्या सेठ तथा सहायक निदेशक भी मौजूद थे।

ukjosh

‘उत्तराखण्ड जोश’ एक वेब पोर्टल है जो देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, कहानी, कविता एवं व्यंग्य संबंधी समाचार एवं घटनाओं को सोशल मीडिया द्वारा अपने सुधीपाठकों एवं समाज तक पहुंचाता है। वहीं अपने सुधीपाठकों से यह आशा करता है कि खबरों को शेयर एवं लाइक जरूर करें। हमें आपके सहयोग की अतिआवश्यकता है। धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *