शून्य प्रतिशत ब्याज पर मिलेगा काश्तकारों को कृषि ऋण, दुगनी होगी कृषिकों की आय

पौड़ी/देहरादून (सू.ब्यूरो)। प्रदेश के काश्तकारों को कृषि उपकरणों की व्यवस्था हेतु शून्य ब्याज दर पर कृषि ऋण उपलब्ध कराया जायेगा। इसके ब्याज की धनराशि की भरपाई खनन, परिवहन एवं ऊर्जा के क्षेत्र से हुई राजस्व प्राप्ति से की जायेगी। इससे किसानों को सुविधा होने के साथ ही उनकी आय दुगनी करने में मदद मिलेगी।

बता दें कि इससे पूर्व प0 दीनदयाल किसान कल्याण योजना के तहत लघु एवं सीमान्त किसानों को 2 प्रतिशत ब्याज दर पर कृषि ऋण उपलब्ध कराया जा रहा था जिससे लाखों किसानों को फायदा हुआ है। अब शून्य प्रतिशत ब्याज दर पर काश्तकारों को ऋण उपलब्ध कराने से किसानों को सुविधा होगी। यह किसानों के कल्याण के लिये महत्वपूर्ण कदम है। मुख्यमंत्री ने यह घोषणा सोमवार को पौड़ी में की।

पौड़ी में मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने अटल आयुष्मान उत्तराखंड योजना का शुभारम्भ करने के साथ ही 107.73 करोड की योजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया जिसमें 78.08 करोड की 11 योजना का लोकार्पण तथा 29.65 करोड की 14 योजनाओं का शिलान्यास करते हुए कही। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने पौड़ी के कोट ब्लाक स्थित देवार में एन.सी.सी. एकेडमी खोलने, पौड़ी की ल्वाली झील का निर्माण करने, कोट ब्लाक के फलस्वाड़ी में माता सीता मंदिर के सौन्दर्यीकरण के लिए 2 करोड़ देने, उत्तरकाशी में राज्य का पहला स्किल डेवल्पमेंट काॅलेज बनाने, जयहरीखाल में मेधावी बच्चों के लिए आवासीय विद्यालय बनाने, 19.11 करोड की लागत से रामकुंड देवप्रयाग-सबदरखाल-कादेखाल पंपिंग योजना का निर्माण करने, कल्जीखाल ब्लाक में ग्राम भक्तोली-मुंडनेश्वर तथा डांग-भवन्यू-कोलड़ी से श्रीकोट-पोखरीखेत तक मोटर मार्ग निर्माण, कोट ब्लाक में बन्तापानी-कड़ाकोट-भुवनेश्वर तथा पौड़ी ब्लाक में घोड़ीखाल बैंड से पाली-रैदुल-आलीधार मोटर मार्ग का निर्माण, पक्कीकरण व सुधारीकरण करने एवं सतपुली थाने के समीप स्वास्थ्य विभाग की भूमि पर बने सुलभ शौचालय नगर पंचायत सतपुली को आवंटित करने की भी घोषणा की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि एन.सी.सी. एकेडमी के लिए 10 एकड़ भूमि को चयनित की गई है, वहीं पौड़ी की ल्वाली झील निर्माण की डीपीआर तैयार हो चुकी है। झील का निर्माण 6.50 करोड़ की लागत से शुरू किया जाएगा। झील में लगभग 80 लाख लीटर पानी रिजर्व किया जा सकेगा। मुख्यमंत्री ने पौड़ी तथा टिहरी की स्थिति पर चिंता जताई।

कहा कि इन जनपदों की रौनक को दोबारा लौटाने के लिए सरकार द्वारा ठोस येाजनाएं बनायी जा रही हैं। इसके तहत पौड़ी जनपद में एनसीसी एकेडमी की स्थापना की जायेगी। उन्होंने कौरी घोषणाएं ना करने का पुनः अपना संकल्प दोहराया। कहा कि उनके कार्यकाल में जनपद पौड़ी में की गई 103 घोषणाओं के सापेक्ष 87 पूर्ण हो चुकी हैं, जबकि शेष 16 घोषणाएं पर कार्यवाही गतिमान है, जिन्हें शीघ्र निस्तारित किया जाएगा। उन्होंने राज्य में बच्चों की गुणवत्तापरक शिक्षा पर जोर दिया।

उन्होंने कहा कि जयहरीखाल ब्लाक में आधुनिक सुविधाओं से लैस आवासीय विद्यालय की भी स्थापना की जा रही है। जिसमें उत्तराखंड के सभी धर्म व जाति के मेधावियों छात्राओं के जिन अभिभावकों की सेलेरी कम होगी उनको निःशुल्क शिक्षा मुहैया करायी जाएगी। ताकि अपने राज्य के बच्चे देश में आयोजित होने वाली किसी भी प्रतियोगिता मंे अपना बेहतर प्रदर्शन कर सकें। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने जनपद के लिये 02 एम्बुलैंसों को भी हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने गल्ला गोदाम स्थित भाजपा के जिला कार्यालय के भूमि पूजन कार्यक्रम में शिरकत की। मुख्यमंत्री तथा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने संयुक्त रूप से भूमि का शिलान्यास किया। इस कार्यक्रम में उच्च शिक्षा मंत्री डा. धन सिंह रावत, पौड़ी विधायक मुकेश कोली, लैंसडोन विधायक दिलीप सिंह रावत, यमकेश्वर विधायक ऋतु खंडूडी, स्वास्थ्य सलाहकार समिति के अध्यक्ष ज्ञान सिंह नेगी, नगर पालिका अध्यक्ष यशपाल बेनाम सहित जनपद स्तरीय अधिकारी एवं आम जनमानस मौजूद थे।

Sushil Kumar Josh

"उत्तराखण्ड जोश" एक न्यूज पोर्टल है जो अपने पाठकों को देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, फिल्मी, कहानी, कविता, व्यंग्य इत्यादि समाचार सोशल मीडिया के जरिये आप तक पहुंचाने का कार्य करता है। वहीं अन्य लोगों तक पहुंचाने या शेयर करने लिए आपका सहयोग चाहता है।

Leave a Reply