चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ दिया धरना

देहरादून। उत्तराखंड चतुर्थ वर्गीय राज्य कर्मचारी महासंघ की जिला ईकाई के तत्वावधान में अपनी मांगों के निदान के लिए प्रदेश सरकार को चेताने के लिए प्रदर्शन कर धरना दिया और कहा कि शीघ्र ही मांगों को समाधान नहीं किया गया तो सड़कों पर उतरकर आंदोलन को तेज किया जायेगा।

यहां महासंघ के जिलाध्यक्ष सुंदर लाल आर्य के नेतृत्व में कर्मचारी परेड ग्राउंड स्थित धरना स्थल पर इकटठा हुए और वहां पर उन्होंने अपनी मांगों के समाधान के लिए प्रदर्शन करते हुए धरना दिया। इस अवसर पर वक्ताओं ने कहा कि समस्याओं के समाधान के लिए प्रदेश सरकार को द्विपक्षीय वार्ता करके लंबित मांगांे को हल करने का आग्रह किया गया था लेकिन किसी भी प्रकार की कोई कार्यवाही नहीं की गई है जिसके कारण आंदोलन का रूख अख्तियार करना पड़ रहा है। उनका कहना है कि कर्मचारियों की समस्याओं का समाधान करने के लिए उचित कार्यवाही किये जाने की आवश्यकता है। वक्ताओं ने कहा कि समूह घ के कर्मचारियों को अधिकतम ग्रेड वेतन 4200 रूपये किया जाये।

वक्ताओं ने कहा कि चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों की भर्ती पर लगाई गई रोक को हटाया जाये एवं समस्त पदों को पुर्नजीवित करते हुए भर्तियां की जाये और एसीपी 10, 20, 30 वर्ष की व्यवस्था के स्थान पर पूर्व की भांति 10, 16, 26 की व्यवस्था लागू की जाये। वक्ताओं ने कहा कि चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों की पदोन्नति कोटा बढाये जाने के लिए जारी किये गये शासनादेश की समय सीमा बढाई जाये और कई विभागीय अधिकारियों द्वारा सौ अंकों के प्रश्न पत्र के स्थान पर डेढ सौं अंकों के प्रश्नपत्र से पदोन्नात की गई जिससे वरिष्ठ कर्मचारी पदोन्नति से वंचित रह गये है तथा अधिकारियों के चहेते कनिष्ठ कर्मचारियों को पदोन्नति हो गई है ऐसे अधिकारियों को चिन्हित किया जाये तथा पदोन्नत से वंचित कनिष्ठ कर्मचारियों को पदोन्नत का लाभ दिया जाये।

उन्होने कहा कि शीघ्र ही सात सूत्रीय मांगों का समाधान नहीं होता है तो आंदोलन को और तेज किया जायेगा। इस अवसर पर जिला प्रशासन के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन प्रेषित किया गया। इस अवसर पर धरने व प्रदर्शन में गोविन्द सिंह नेगी, कुलदीप यादव, मंगल सिंह नेगी, जयकृत कठैत, के के शुक्ला, भवान सिंह नेगी, मस्तराम डोगरा, नंद किशोर तिवारी, पंकज जोशी, चन्द्र मोहन रूडियाल, मालती बिष्ट, प्रीतम सिंह, खुशाल सिंह, शंकर उनियाल, वचन सिंह सहित अनेक कर्मचारी मौजूद थे।

Sushil Kumar Josh

"उत्तराखण्ड जोश" एक न्यूज पोर्टल है जो अपने पाठकों को देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, फिल्मी, कहानी, कविता, व्यंग्य इत्यादि समाचार सोशल मीडिया के जरिये आप तक पहुंचाने का कार्य करता है। वहीं अन्य लोगों तक पहुंचाने या शेयर करने लिए आपका सहयोग चाहता है।

Leave a Reply