उत्तराखण्ड की 83 वर्षीय इस महिला ने पेश की अनूठी मिशाल; सैनिकों की वीरांगनाओं द्वारा राष्ट्र धर्म निभाते हुए निरंतर सुर्खियां बटोर रही है गौचर नगर पालिका -जानिए खबर

देहरादून। कोरोना के वैश्विक संकट को देखते हुए 85 वर्षीय शांति देवी गुसाई ने गरीबों की मदद के लिए प्रधानमंत्री केयर फंड में 1 लाख रुपया दिया। चमोली जिले के गौचर निवासी स्वर्गीय कैप्टन महिपाल सिंह गुसाईं (थर्ड गढ़वाल राइफल्स) की धर्मपत्नि 85 वर्षीय शांति देवी गुसाई ने गरीबों की मदद के लिए हाथ आगे बढ़ाया है, उन्होंने एक लाख रू0 प्रधानमंत्री केयर फंड में दान दे कर निर्धनों व असहाय लोगों की मदद की है।

बता दें कि उत्तराखंड राज्य की गौचर नगर पालिका निरंतर सुर्खियां बटोर रही है। यहां के पुरोधाओं द्वारा निरंतर निर्धनों की मदद के लिए ऐसा कार्य कर रहे हैं जिससे राष्ट्रीय स्तर पर गौचर नगर का नाम रोशन हो रहा है। नगर पालिका के वार्ड नंबर 7 में में रहने वाली शांति देवी गुसाईं ने गरीब व असहाय लोगो की मदद हेतु पीएम केयर्स फंड में एक लाख रुपये जमा कर अनूठी मिशाल पेश करते हुए कहा कि यह सैनिकों की वीरांगनाओं का राष्ट्र धर्म है।

सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने शांति देवी के प्रयासों की मुक्तकंठ से प्रशंसा करते हुए कहा है कि शांति देवी ने पीएम केयर्स फंड में 1 लाख रुपये जमा कर अनूठी मिशाल पेश की है। सीएम ने कहा कि आज पूरा देश कोरोना जैसी वैश्विक महामारी से लड़ने में एकजुट है। मांॅंतुल्य श्रीमती शांति देवी जी का यह योगदान कोरोना से लड़ाई में हमारा हौसला बढ़ाने के साथ ही हम सभी को प्रेरणा भी देता है।

सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि बुजुर्गों के आशीर्वाद से हम अवश्य ही कोरोना को हराने में सफल होंगे। जरूरतमंदों की मदद के लिए आगे आने के लिए मैं ह्रदय की गहराइयों से आपका आभार प्रकट करते हुए आपकों शत-शत नमन करता हूं।

Arogya Setu Advt Bottom

ukjosh

‘उत्तराखण्ड जोश’ एक वेब पोर्टल है जो देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, कहानी, कविता एवं व्यंग्य संबंधी समाचार एवं घटनाओं को सोशल मीडिया द्वारा अपने सुधीपाठकों एवं समाज तक पहुंचाता है। वहीं अपने सुधीपाठकों से यह आशा करता है कि खबरों को शेयर एवं लाइक जरूर करें। हमें आपके सहयोग की अतिआवश्यकता है। धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *