सतपुली में भी होली के हुल्यारों ने पारंपरिक रूप से मनायी खड़ी होली; मधुर गीतों से बिखेरी होली की छठा -जानिए खबर

पौड़ी। न्यारघाटी सतपुली की होली के हुल्यार टीम पौडी गढवाल के विभिन्न स्थानों में जाकर उत्तराखंड लोकसंस्कृति की विरासत खड़ी होली से सभी लोगो को परिचित करवा रहे है। इसी परिपेक्ष में रविवार को लैंसडौन बाजार में होली के हुल्यार ने गढ़वाली लोकसंस्कृति की पहचान पारंपरिक खड़ी होली के मधुर गीतों से छठा बिखेरी।

Satpuli Pauri Holiyar

बता दें कि पहाड़ में होली के पारंपरिक लोक गीतों, हरा फूलों से मथुरा, मत मारो मोहन लाल पिचकारी आदि जैसे गीतों को क्षेत्रीय जनता ने बहुत सराहा और हुल्यार का जोरदार स्वागत किया। होली के हुल्यार टीम सतपुली ने जयहरीखाल स्थित आशियाना वृद्ध आश्रम में वृद्धजनों के साथ होली मनायी और वृद्धजनों को फल व गुजिया मिठाई बांटकर होली के गीतों साथ होली मनायी।

वहीं हुल्यरों की टीम में प्रेम सिंह रावत, गुमान सिंह रावत, मुकेश चन्द, देवेन्द्र चैहान, सौरभ, डब्बल सिंह मियां, प्रेम सिंह, हरीश जेरवान, जैकी भाई, मनीष खुगशाल स्वतन्त्र, उमंग मियां, दानिश, सतीश खुगशाल आदि मौजूद थे।

ukjosh

‘उत्तराखण्ड जोश’ एक वेब पोर्टल है जो देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, कहानी, कविता एवं व्यंग्य संबंधी समाचार एवं घटनाओं को सोशल मीडिया द्वारा अपने सुधीपाठकों एवं समाज तक पहुंचाता है। वहीं अपने सुधीपाठकों से यह आशा करता है कि खबरों को शेयर एवं लाइक जरूर करें। हमें आपके सहयोग की अतिआवश्यकता है। धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *