शरद पूर्णिमा पर हरिद्वार में उमड़ा आस्था का सैलाब, श्रद्धालुओं को लगी निराशा हाथ

हरिद्वार: शरद पूर्णिमा पर हजारों की संख्या में हरकी पैड़ी पर श्रद्धालुओं ने गंगा में डुबकी लगाकर कर पुण्य कमाया। वहीं शरद पूर्णिमा पर हरिद्वार में उमड़ा आस्था का सैलाब देखकर भक्तों के मन में खुशी की लहर है। इस मौके पर हरकी पैड़ी सहित तमाम गंगा घाटों पर श्रद्धालुओं की भीड़ लगी हुई है। लेकिन श्रद्धालुओं को इस बार निराशा हाथ लगी।

बता दें कि हजारों की संख्या में उमड़े भक्तों के जन सैलाब से वार्षिक गंगा बंदी के चलते गंगा घाटों पर पानी काफी कम होने से श्रद्धालुओं को परेशानी का भी सामना करना पड़ा है। अधिकतर घाटों पर इस बार पानी नहीं होने से नीलधारा में भी श्रद्धालुओें की भीड़ स्नान को उमड़ी।

हालांकि पुलिस ने सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं लेकिन पिछले वर्षों की तुलना में इस बार स्नान को आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या कुछ कम रही। हरकी पैड़ी पर दूर-दराज से स्नान के लिए पहुंचे श्रद्धालुओं को इस बार निराशा हाथ लगी।

क्योंकि गंगा दशहरा पर गंगा बंदी के चलते हरकी पैड़ी पर स्नान लायक भी जल नही हैं। मात्र घुटनों से नीचे पानी होने से श्रद्धालु जैसे-तैसे स्नान करते नजर आए। गंगा घाटों पर पानी कम होने के चलते श्रद्धालुओं को लोटे या फिर प्लास्टिक के केन में जल भरकर स्नान करना पड़ा।

क्या है मान्यता

शरद पूर्णिमा अमृत पर्व है। इस तिथि को चंद्रमा अपनी सम्पूर्ण कलाओं से परिपूर्ण होकर पृथ्वी के निकट आता है। माना जाता है कि इससे आसमान से अमृत बरसता है और गंगाजल में अमृत तत्व की अधिकता हो जाती है।

शरद पूर्णिमा दश महाविद्याओं में विशेष स्थान रखने वाली मां भुवनेश्वरी एवं माता लक्ष्मी का अवरतण दिवस भी है। इसके चलते गुरुवार को आसपास के जिलों से हजारों श्रद्धालु गंगा स्नान को धर्मनगरी पहुंचे।

यह भी पढ़े: पौड़ी में इण्टर कालेज के पवक्ता ने की नाबालिक छात्रा से छेड़छाड़, पीड़ित छात्रा ने पुलिस में दी तहरीर

यह भी पढ़े: हल्द्वानी में ससुर ने किया बहू से दुष्कर्म, आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज

यह भी पढ़े: अल्मोड़ा में चार पेटी चोरी की शराब के साथ युवक गिरफ्तार, मुकदमा दर्ज

यह भी पढ़े: कार दुर्घटना में महंत इंदिरेश अस्पताल के निदेशक की मौत, इलाके में शोक की लहर 

यह भी पढ़े: देहरादून में अय्याशी के अड्डे का फंडाफोड़, मां-बेटे सहित चार को जेल

Sushil Kumar Josh

"उत्तराखण्ड जोश" एक न्यूज पोर्टल है जो अपने पाठकों को देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, फिल्मी, कहानी, कविता, व्यंग्य इत्यादि समाचार सोशल मीडिया के जरिये आप तक पहुंचाने का कार्य करता है। वहीं अन्य लोगों तक पहुंचाने या शेयर करने लिए आपका सहयोग चाहता है।

Leave a Reply