भारत को मिला अमेरिका साथ; कहा- अंतरिक्ष में खतरों से चिंतित भारत को परीक्षण का अधिकार

वाशिंगटन। ‘मिशन शक्ति’ पर भारत को अमेरिका का साथ मिला है। अमेरिका के रक्षा मंत्रालय पेंटागन ने एंटी सैटेलाइट मिसाइल परीक्षण (एसैट) को लेकर भारत बचाव करते हुए कहा कि भारत अंतरिक्ष में पेश आ रहे ‘खतरों’ से चिंतित है, इसलिए यह परीक्षण किया और यह उसका अधिकार है।

मीडिया सूत्रों के अनुसार अमेरिकी रणनीतिक कमान के कमांडर जनरल जाॅन ई हाइटन ने सीनेट की शक्तिशाली सशस्त्र सेवा समिति से कहा, भारत को लगता है कि उसके पास अंतरिक्ष में बचाव की क्षमता हो। दूसरी ओर, सीनेटर टिम केन ने चिंता जताते हुए कहा कि सैटेलाइट के 400 टुकड़े हो गए, जिसमें से 24 अंतराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन (आईएसएस) के लिए खतरा है।

ज्ञातव्य हो कि भारत ने 27 मार्च को ए-सैट मिसाइल का परीक्षण किया था। इस दौरान 300 किमी दूर पृथ्वी की निचली कक्षा में लाइव सैटेलाइट को नष्ट करने में कामयाबी मिली थी। भारत यह ताकत हासिल करने वाला चौथा देश बन गया है।

Sushil Kumar Josh

"उत्तराखण्ड जोश" एक न्यूज पोर्टल है जो अपने पाठकों को देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, फिल्मी, कहानी, कविता, व्यंग्य इत्यादि समाचार सोशल मीडिया के जरिये आप तक पहुंचाने का कार्य करता है। वहीं अन्य लोगों तक पहुंचाने या शेयर करने लिए आपका सहयोग चाहता है।

Leave a Reply