जुबानी जंग में BMC ने कंगना रनौत का तोड़ना शुरु किया दफ्तर -जानिए खबर

मुंबई। बृहन्मुंबई म्युनिसिपल कारपोरेशन (BMC) की टीम ने कंगना रनौत का दफ्तर तोड़ना शुरू कर दिया है। BMC का मानना है कि कंगना का दफ्तर का अवैध निर्माण किया गया है। BMC द्वारा ये कार्रवाई ऐसे वक्त में की गई है जब कंगना रनौत और शिवसेना के बीच जुबानी जंग चल रही है। कंगना रनौत आज मुंबई पहुंचने वाली हैं। उनके मुंबई पहुंचने से पहले ही उनके ऑफिस को तोड़ा जा रहा है।

हालांकि, कंगना रनौत के ऑफिस को तोड़ने की कार्रवाई पर BMC ने सफाई दी है। मुंबई के मेयर किशोरी पेडनेकर ने कहा, “ये शिवसेना की कार्रवाई नहीं है बल्कि BMC की कार्रवाई है। शिकायत मिलने के बाद ही BMC कार्रवाई कर रही है।’ उन्होंने कहा, “कंगना लगातार बयानबाजी कर रही थीं। जुबान पर लगाम लगाएं।”

BMC की दफ्तर तोड़ने वाली कार्रवाई के खिलाफ कंगना रनौत ने हाई कोर्ट का रुख किया है। कंगना के वकील ने हाई कोर्ट से BMC की दफ्तर तोड़ने वाली कार्रवाई पर रोक लगाने के लिए गुहार लगाई है। इस मामले की 12.30 बजे सुनवाई होगी।

https://twitter.com/KanganaTeam?ref_src=twsrc%5Etfw%7Ctwcamp%5Etweetembed%7Ctwterm%5E1303574493273550851%7Ctwgr%5Eshare_3&ref_url=https%3A%2F%2Fwww.indiatv.in%2Fmaharashtra%2Fkangana-ranaut-bandra-office-demolition-bmc-mumbai-739721

BMC की इस कार्रवाई के बाद कंगना रनौत ने ट्वीट कर एक बार फिर से मुंबई को POK बताया है। उन्होंने ट्वीट में लिखा, “मैं कभी गलत नहीं हूं और मेरे दुश्मन बार-बार साबित होते हैं। यही कारण है कि मेरी मुंबई अब POK हो गई है।” उन्होंने यह लिखने के साथ ही अपने ट्वीट में BMC द्वारा अपना दफ्तर तोड़े जाने की तस्वीर शेयर की।

https://twitter.com/KanganaTeam?ref_src=twsrc%5Etfw%7Ctwcamp%5Etweetembed%7Ctwterm%5E1303569152917946368%7Ctwgr%5Eshare_3&ref_url=https%3A%2F%2Fwww.indiatv.in%2Fmaharashtra%2Fkangana-ranaut-bandra-office-demolition-bmc-mumbai-739721

ukjosh

‘उत्तराखण्ड जोश’ एक वेब पोर्टल है जो देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, कहानी, कविता एवं व्यंग्य संबंधी समाचार एवं घटनाओं को सोशल मीडिया द्वारा अपने सुधीपाठकों एवं समाज तक पहुंचाता है। वहीं अपने सुधीपाठकों से यह आशा करता है कि खबरों को शेयर एवं लाइक जरूर करें। हमें आपके सहयोग की अतिआवश्यकता है। धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *