आगामी आईपीएल-2020 के लिए दिल्ली कैपिटल्स का हाईजीन पार्टनर बना लिविंगार्ड एजी् -जानिए खबर

आईपीएल टीम, दिल्ली कैपिटल्स को मैदान पर और मैदान के बाहर सुरक्षा प्रदान कर रहा है लिविंगार्ड एजी

देहरादून। महामारी के इस दौर में जनजीवन धीरे-धीरे सामान्य हो रहा है, और दुनिया की सबसे प्रतिष्ठित क्रिकेट लीगों में से एक, यानी कि इंडियन प्रीमियर लीग 19 सितंबर, 2020 से संयुक्त अरब अमीरात में अपने नए सत्र की शुरुआत के लिए पूरी तरह तैयार है। जेएसडब्लू और जीएमआर की सह-स्वामित्व वाली फ्रेंचाइजी- दिल्ली कैपिटल्स ने अपने सभी खिलाड़ियों और टीम के सदस्यों की सुरक्षा को सबसे ज्यादा अहमियत देते हुए लिविंगार्ड एजी के साथ साझेदारी की है, और आईपीएल की इस टीम ने हाइजीन टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में स्विट्जरलैंड की विश्व प्रसिद्ध कंपनी को आधिकारिक तौर पर अपना हाइजीन पार्टनर बनाया है।

भारत के साथ-साथ स्विट्जरलैंड, जर्मनी, अमेरिका, सिंगापुर, जापान और दक्षिण अफ्रीका में अपने कारोबार का संचालन करने वाली कंपनी, लिविंगार्ड एजी ने हाल ही में मौजूदा हालात में क्रांतिकारी बदलाव लाने वाले और अपनी तरह के पहले फेस मास्क को लॉन्च किया है जो बैक्टीरिया एवं वायरस की एक पूरी श्रृंखला को निष्क्रिय करने में सक्षम है, जिसमें नोवेल कोरोनो वायरस एसएआरएस-सीओवी-2 को 99 प्रतिशत तक निष्क्रिय करने की क्षमता भी शामिल है। गौरतलब है कि, अलग-अलग दुकानों या खुले बाजारों में उपलब्ध ज्यादातर फेस मास्क इस बीमारी से बचाव के लिए होते हैं, जबकि लिविंगार्ड फेस मास्क सुरक्षा प्रदान करने के साथ-साथ बैक्टीरिया और वायरस को फैलने से रोकते हैं, और इस तरह लोग स्वयं के अलावा अपने आसपास मौजूद दूसरे लोगों को भी लाभ पहुंचाते हैं।

दिल्ली कैपिटल्स के साथ इस साझेदारी पर अपने विचार व्यक्त करते हुए लिविंगार्ड टेक्नोलॉजीज के संस्थापक, इन्वेन्टर एवं सीईओ, श्री संजीव स्वामी ने कहा, “इंडियन प्रीमियर लीग लोगों के बीच बेहद लोकप्रिय है और इस टूर्नामेंट की सबसे पसंदीदा टीमों में से एक, यानी कि दिल्ली कैपिटल्स के साथ इस साझेदारी पर हमें गर्व का अहसास हो रहा है। यह टीम सही मायने में प्रतिभा, अनुभव और उत्साह का मिला-जुला रूप है। फेस मास्क के लिए इस्तेमाल की गई लिविंगार्ड की पेटेंटेड और क्रांतिकारी तकनीक दिल्ली कैपिटल्स की पूरी टीम को अपराजेय सुरक्षा प्रदान करेगी। हमारे लिए यह बड़े सम्मान की बात है, कि हम खिलाड़ियों के सेहत की जोखिम को कम करके उन्हें आगे की महत्वपूर्ण प्रतियोगिता पर ध्यान केंद्रित करने में सक्षम बनाते हैं।ष्

दिल्ली कैपिटल्स के सीईओ, श्री धीरज मल्होत्रा ने कहा, ष्इस तरह के चुनौतीपूर्ण समय के बीच आईपीएल का आयोजन, वास्तव में बीसीसीआई के साथ-साथ दुनिया के सभी खेलों में शीर्ष लीग में से एक के रूप में आईपीएल की वैश्विक स्थिति को प्रमाणित करता है। धीरे-धीरे हमारी जिंदगी पटरी पर लौट आई है, लिहाजा हमें नए तरीके से जीवन-यापन से जुड़ी बातों को याद रखना चाहिए। इस सीजन में हमारी टीम के खिलाड़ियों के सेहत की हिफाजत करना सबसे बड़ी प्राथमिकता है। लिविंगार्ड एजी इस कसौटी पर पूरी तरह खरा उतरता है क्योंकि उनकी तकनीक सही मायने में अभूतपूर्व है, जो हाइजीन के संदर्भ में हमें सबसे बेहतर समाधान प्रदान करता है। हम मानते हैं कि, इस सहयोग से हमारे खिलाड़ियों की सेहत सुरक्षित होगी और उन्हें खेल पर ध्यान केंद्रित करने में मदद मिलेगी।”

क्रिकेट की दुनिया के महान खिलाड़ी, ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान और दिल्ली कैपिटल्स के कोच, रिकी पोंटिंग ने कहा, ष्दिल्ली कैपिटल्स की टीम के सदस्यों के लिए सुरक्षित रहना बेहद महत्वपूर्ण है, और हमें खुशी है कि लिविंगार्ड अपने तकनीकी रूप से क्रांतिकारी फेस मास्क एवं हाइजीन किट से लैस करने के लिए आगे आया है।”

इस संदर्भ में लिविंगार्ड टेक्नोलॉजीज का बुनियादी सिद्धांत यह है कि, कपड़े की सतह को एक मजबूत पॉजिटिव चार्ज के साथ वायरस से लड़ने में सक्षम बनाया जाए। इस तरह जब रोगाणु कपड़े के संपर्क में आते हैं, तो इन रोगाणुओं की कोशिका नेगेटिव चार्ज होने की वजह से नष्ट हो जाती है, और इस तरह रोगाणु स्थायी रूप से खत्म हो जाता है। बर्लिन की फ्री यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने इंस्टीट्यूट फॉर एनिमल हाइजीन एंड एनवायरन्मेन्टल हेल्थ में इस बात को सफलतापूर्वक प्रदर्शित किया कि, लिविंगार्ड टेक्नॉलॉजी से उपचारित वस्त्र कुछ घंटों के भीतर एसएआरएस-सीओवी-2 (कोविड-19 का कारण बनने वाले वायरस) कणों को बड़े पैमाने पर, यानी कि 99.9ः तक कम करने में सक्षम हैं।

एरिजोना यूनिवर्सिटी, टक्सन से भी इसी तरह के निष्कर्ष प्राप्त हुए हैं। चांदी, जस्ता और तांबे जैसे भारी धातुओं पर आधारित सॉल्यूशन के विपरीत, यह नवीन तकनीक त्वचा एवं फेफड़ों दोनों के लिए सुरक्षित पाई गई है। इसके अलावा, लिविंगार्ड टेक्नोलॉजीज का यह फेस मास्क रोगाणुओं को लगातार नष्ट करता है और इस तरह रोगाणुओं के दूसरी सतहों पर स्थानांतरण का जोखिम काफी हद तक कम हो जाता है। इस फेस मास्क को धोया जा सकता है और लोग इसे 210 बार तक पुनरू उपयोग में ला सकते हैं, और इस तरह उपयोगकर्ताओं की सुरक्षा या मास्क की प्रभावकारिता पर कोई असर नहीं होता है। लिविंगार्ड एजी का मानना है कि आने वाले भविष्य के लिए स्थायी समाधान अत्यंत महत्वपूर्ण हैं, जो हमारी दुनिया के हित में है और लिविंगार्ड फेस मास्क इसका अपवाद नहीं है।

दुनिया के विभिन्न देशों में धीरे-धीरे लॉकडाउन के प्रतिबंधों में छूट दी गई है और पूरी दुनिया के लोग जीवन-यापन के नए ढंग के साथ अपनी जिंदगी को पटरी पर लाने की कोशिश कर रहे हैं। ऐसी स्थिति में लिविंगार्ड कोविड-19 के खिलाफ अपनी लड़ाई के लिए प्रतिबद्ध है, जो वैश्विक स्तर पर प्रतिदिन लिविंगार्ड के 3 बिलियन से अधिक मास्क का उपयोग किया जाता है। फिलहाल पूरी दुनिया में कानून-व्यवस्था से जुड़े सभी लोग और कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में सबसे आगे रहने वाले लोग लिविंगार्ड के मास्क का उपयोग कर रहे हैं, क्योंकि वे सबसे ज्यादा असुरक्षित हैं और उनकी सुरक्षा करना हमारा दायित्व है।

ukjosh

‘उत्तराखण्ड जोश’ एक वेब पोर्टल है जो देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, कहानी, कविता एवं व्यंग्य संबंधी समाचार एवं घटनाओं को सोशल मीडिया द्वारा अपने सुधीपाठकों एवं समाज तक पहुंचाता है। वहीं अपने सुधीपाठकों से यह आशा करता है कि खबरों को शेयर एवं लाइक जरूर करें। हमें आपके सहयोग की अतिआवश्यकता है। धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *