राष्ट्रीय स्तर पर पांच हिमालयी राज्यों की प्रतिनिधि नामित हुई श्रीमती मधु चौहान -जानिए खबर

देहरादून(ब्यूरो)। 15वें वित्त आयोग के अन्तर्गत संक्रमित किये जाने वाले अनुदान की धनराशि के सापेक्ष राष्ट्रीय स्तर पर जिला पंचायतों एवं क्षेत्र पंचायतों हेतु विकास योजनाओं के नियोजन के लिये रूपरेखा निर्धारण हेतु गठित राष्ट्रीय समिति द्वारा प्रदेशवार वर्चुअल बैठकों का आयोजन किया जा रहा है। इस कड़ी में दिनांक 28 अगस्त, 2020 को प्रातः 11ः00 बजे सचिवालय स्थित मुख्य सचिव सभागार में अध्यक्ष, जिला पंचायत देहरादून श्रीमती मधु चैहान द्वारा उक्त राष्ट्रीय स्तर की समिति के अध्यक्ष श्री बाला प्रसाद, सेवानिवृत्त विशेष सचिव, पंचायतीराज मंत्रालय, भारत सरकार के सम्मुख हिमालयी राज्यों के परिप्रेक्ष्य में जिला पंचायत एवं क्षेत्र पंचायत में विकास योजनाओं की रूपरेखा के सम्बन्ध में प्रस्तुतीकरण किया गया।

गौरतलब है कि उक्त राष्ट्रीय समिति द्वारा श्रीमती मधु चैहान को 05 हिमालयी राज्यों क्रमशः उत्तराखण्ड, जम्मू एवं कश्मीर, सिक्किम, अरूणांचल प्रदेश तथा हिमाचल प्रदेश का राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिनिधि नामित किया गया है। समिति द्वारा पिछले कुछ दिनों में विकास योजनाओं की रूपरेखा की तैयारी हेतु वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेशों से कई चरणों चर्चा की गयी, जिनमें हिमालयी राज्यों की प्रतिनिधि के रूप में श्रीमती मधु चैहान द्वारा लगातार प्रतिभाग किया गया तथा उक्त चर्चाओं के आधार पर आज हिमालयी राज्यों के परिदृश्य में जिला पंचायत एवं क्षेत्र पंचायत के नियोजन के सम्बन्ध में विस्तृत प्रस्तुतीकरण किया गया।

प्रस्तुतीकरण में श्रीमती मधु चैहान द्वारा सुझाव दिया गया कि राष्ट्रीय स्तर की योजनाओं के निर्माण में स्थान विशेष की भौगोलिक परिस्थितियों को देखते हुए हिमालयी राज्यों, दक्षिणी राज्यों तथा तटीय राज्यों के लिये पृथक-पृथक योजनाऐं तैयार की जायें। राष्ट्रीय स्तर की उक्त समिति के अध्यक्ष श्री बाला प्रसाद द्वारा सुझाव दिया गया कि प्रदेश की भौगोलिक स्थिति को देखते हुए उत्तराखण्ड ।

Aromatic /medicinal plant की खेती, जड़ी-बूटी उत्पादन की पैदावार में विस्तार किया जा सकता है, इस हेतु उद्योगों की स्थापना की जा सकती है, जिसके लिये राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान के अन्तर्गत प्रशिक्षण एवं अन्य प्रकार की सहायता प्रदान की जा सकती है। इसके अतिरिक्त पर्यटन को बढ़ावा देने के लिये ग्रामीण क्षेत्रों हेतु योजनाऐं तैयार की जा सकती हैं। श्री बाला प्रसाद जी द्वारा जिला पंचायत, देहरादून के साथ-साथ प्रदेश की सभी त्रिस्तरीय पंचायतों, जिला पंचायतों, क्षेत्र पंचायतों एवं ग्राम पंचायतों द्वारा किये जा रहे कोविड-19 तथा रोजगार सृजन से सम्बन्धित कार्यों की सराहना की गयी।

इस कार्यक्रम में सचिव /निदेशक, पंचायतीराज श्री हरिचन्द्र सेमवाल, संयुक्त निदेशक ई0 राजीव कुमार नाथ त्रिपाठी, सुश्री कंचन नेगी, विशेषज्ञ रिसर्च एण्ड डवलपमेंट श्री मोहम्मद असलम, राज्य कार्यक्रम समन्वयक, मनरेगा के साथ-साथ जिला पंचायत देहरादून से महिला जिला पंचायत सदस्य क्रमशः श्रीमती रीना रांगड़, कु0 पूजा रावत, श्रीमती मीरा जोशी, श्रीमती दयावती तथा अन्य विभागीय वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे।

ukjosh

‘उत्तराखण्ड जोश’ एक वेब पोर्टल है जो देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, कहानी, कविता एवं व्यंग्य संबंधी समाचार एवं घटनाओं को सोशल मीडिया द्वारा अपने सुधीपाठकों एवं समाज तक पहुंचाता है। वहीं अपने सुधीपाठकों से यह आशा करता है कि खबरों को शेयर एवं लाइक जरूर करें। हमें आपके सहयोग की अतिआवश्यकता है। धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *