मां भवानीदेवी मेला एवं पंथ्या दादा महोत्सव में मांगल व लोक गीतों की रही धूम -जानिए खबर

श्रीनगर गढ़वाल। उत्तराखण्ड के जिला पौड़ी के अन्तर्गत श्रीनगर गढ़वाल के खिर्सू ब्लाॅक के चमराड़ा में आयोजित पंथ्या दादा स्मृति महोत्सव के दूसरे दिन के कार्यक्रम में स्थानीय मंगल दलों द्वारा एवं लोक गीतों की धूम रही है। जहां महिला मंगल दलों ने की टीमों ने श्रोताओं को स्थानीय मांगल गीतों भावविभोर किया वहीं गायक अमित सागर के गीतों का भी श्रोताओं ने खूब आनंद लिया।

मीडिया सूत्रों के अनुसार ब्लाॅक खिर्सू के चमराड़ा में आयोजित तीन दिवसीय पंथ्या दादा स्मृति महोत्सव का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि नगर पालिका अध्यक्ष श्रीनगर पूनम तिवाड़ी द्वारा किया गया। उनके अलावा पालिका सभासद संजय फौजी, विनोद मैठाणी, रोटरी क्लब के पूर्व अध्यक्ष खिलेंद्र चैधरी ने भी बतौर विशिष्ट अतिथि उद्घाटन समारोह में भाग लिया।

बता दें कि जहां शनिवार को मेले के दूसरे दिन धरीगांव, कठुली, खंडाहश्रीकोट, चड़ीगांव, सुमाड़ी, खालू, चमराड़ा, सिंगोरी, असिंगी, जाख, नयालगढ़ आदि गांवों की महिला मंगल दलों की टीमों ने मांगल गीतों से श्रोताओं को भाव विभोर कर दिया। शाम को स्टार अमित सागर के गीतों की धूम रही। अमित सागर ने फुर्र घिण्दुडी, रुटि फ्ंवा बाग रे, चैत काा चैत्वाली आदि अपने सुपरहिट लोक गीतों से दर्शकों को झूमने पर मजबूर कर दिया।

ज्ञातव्य हो कि जननायक पन्थ्या दादा स्मृति महोत्सव चमराड़ा स्वास्थ्य शिविर में मधुर नर्सिंग होम श्रीनगर, रामचन्द्रा ओरो डेण्टल श्रीनगर और गंगा पैथालाॅजी श्रीनगर द्वारा स्वास्थ्य शिविर में विभिन्न रोगों की जांच एवं परीक्षण किया गया।

वहीं डा. के.के. गुप्ता के अनुसार 10 रोगियों के दांत निकाले ये और लगभग 50 रोगियों को दवाई का वितरण किया गया। डा. एनएन गौरोला मधुर नर्सिंग होम द्वारा लगाभग 80 रोगियों का परीक्षण किया गया। जिसमें अधिकांश रोगी शुगर, जोड़ों का दर्द, वीपी आदि से ग्रसित हैं। डा. गैरोला द्वारा दवाई और चिकित्सकीय परामर्श दिया गया। पंकज नौटियाल और राहुल थपलियाल गंगा पैथालाॅजी श्रीनगर द्वारा 80 लोगों का शुगर टेस्अ किया गया। आयोजक समिति द्वारा डा. केके गुप्ता, एनएन गैरोला और पंकज नौटियाल और राहुल थपलियाल स्मूति चिन्ह और शाॅल ओढ़ाकर सम्मानित किया गया।

Ma Bhawani Fair Jamanakhal Pauri

वहीं दूसरी ओर ब्लाॅक खिर्सू के अन्तर्गत ही बीते 11 जनवरी को मां भवानीदेवी के मेले का भी स्थानीय लोगों ने खूब आनन्द लिया। इस मौके पर दिल्ली, देहरादून, हरिद्वार, ऋषिकेश जो भी जहां माता के भक्त हैं माता के आशीर्वाद लेने के लिए पहुंचे। जहां छोटे-बच्चों के साथ-साथ बड़े-बुजर्गों ने भी मेला का खूब लुफ्त उठाया।

माना जाता है कि मां भवानीदेवी का मायका पन्दाल्यूं कमेड़ा है तथा आसपास के गांवों पर माता का आन्नय अशीर्वाद है। जिससे आसपास के गांवों से माता को भेंटस्वरूप झण्डे के साथ-साथ शिरफल, चावल एवं फूल अति प्रिय है। भक्त इसे खुशी-खुशी से चढ़ावा चढ़ाते है। तमाम आसपास के गांव कोटी, पन्दाल्यू कमेड़ा, कठूड़, पोखरी, पौड़ी गांवों के लोग एवं भक्तजन झण्डे के साथ आते हैं और माता का आशीर्वावाद प्राप्त करते हुए मेले का आनन्द व जलेवी प्रसाद रूप में लेकर अपने-अपने घरों को लौटते है।

ukjosh

‘उत्तराखण्ड जोश’ एक वेब पोर्टल है जो देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, कहानी, कविता एवं व्यंग्य संबंधी समाचार एवं घटनाओं को सोशल मीडिया द्वारा अपने सुधीपाठकों एवं समाज तक पहुंचाता है। वहीं अपने सुधीपाठकों से यह आशा करता है कि खबरों को शेयर एवं लाइक जरूर करें। हमें आपके सहयोग की अतिआवश्यकता है। धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *