तब्बू के सर पर था इस बड़े डायरेक्टर का हाथ, नही तो कभी छोड़ देती फिल्म इंडस्ट्री

अनुप्रिया वर्मा, मुंबई। तब्बू को इंडियन फिल्म इंडस्ट्री में एक बेहतरीन अभिनेत्री के रूप में देखा जात है। लेकिन खुद तब्बू ने कभी यह नहीं सोचा था कि वह इसी दुनिया की होकर रह जायेंगी। चूंकि वह एक्ट्रेस बनने का ख्वाब लेकर तो चली ही नहीं थीं। तब्बू कहती हैं कि उन्हें फिल्मों में काम करना नापसंद था।

जानकारी के मुताबिक उन्होंने किसी खास शख्स के कहने पर काम करते रहना जारी रखा। तब्बू कहती हैं कि उन्होंने शेखर अंकल (शेखर कपूर) के बहुत अधिक दबाव डालने की वजह से अभिनय जारी रखा। चूंकि उन्होंने तो कभी खुद को अभिनेत्री के रूप में देखा ही नहीं था। उन्हें लगा था कि वह एक फिल्म करेंगी और फिर वहां से चली जायेंगी। लेकिन उन्हें अब इंडस्ट्री में पूरे 20-25 साल हो चुके हैं। तब्बू कहती हैं कि जब उनकी फिल्म अस्तित्व आयी थी तो लोग हैरान हो गये थे कि उन्होंने मुझे मां के रूप में देखा था। लेकिन मुझे कभी इन चीजों को लेकर झिझक नहीं रही कि मैं किस उम्र का किरदार निभा रही हूं।

लेकिन इसी फिल्म से लोगों ने मुझे स्वीकार कर लिया था। मनोज बाजपेयी के साथ वह फिल्म मिसिंग में नजर आ रही हैं। वह कहती हैं कि उनकी जीवन की सबसे बड़ी पूंजी उनके रिश्ते हैं। वही उनकी सबसे बड़ी सफलता है।करियर रहे न रहे, उन्होंने कभी इसको मायने नहीं दिया है। लेकिन रिश्तों का होना काफी मायने रखता है।इसलिए उन्होंने भले ही दोस्त कम बनाये हों, लेकिन एकदम पक्के वाले दोस्त बनाये हैं, जिन्हें वह कभी भी खोना नहीं चाहती हैं। वह मनोज के बारे में कहती हैं कि जब मुझे कुछ समझ में नहीं आता है तो मैं मनोज से बातें कर लेती हैं। फिर वह चाहे जिंदगी से जुड़ी कोई भी बात हो।तब्बू कहती हैं कि दुनिया ने जिस तब्बू को नहीं देखा है, मनोज जी उस तब्बू को जानते हैं और मेरे दोस्तों की दुनिया कुछ ऐसी ही रही है और इसलिए मुझे ये सभी बहुत प्यारे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *