6 करोड़ 12 लाख की हुई सेल के साथ सम्पन्न हुआ नेशनल हैण्डलूम एक्सपो

देहरादून। आयोजक उत्तराखण्ड हथकरघा एवं हस्तशिल्प विकास परिषद उद्योग निदेशालय, देहरादून एवं प्रायोजक विकास आयुक्त (हथकरघा) भारत सरकार द्वारा 21 दिसंबर से 10 जनवरी, 2019 तक आयोजित नैशनल हैण्डलूम एक्सपो का गुरूवार को विधिवत समापन हो गया।

समापन के अवसर पर उपनिदेशक उद्योग शैली डबराल ने कहा कि पिछले वर्ष की अपेक्षा इस वर्ष नैशनल हैण्डलूम एक्सपो को अच्छी प्रतिक्रिया मिली। देश के 17 राज्यों से आये 200 हथकरघा बुनकरों में उत्साह देखने को मिला, पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष अच्छी सेल देखने को मिली।

इस वर्ष पूरे नैशनल हैण्डलूम एक्सपो में कुल सेल 6 करोड़ 12 लाख हुई। उन्हांने कहा कि हमें खुशी है कि दूनवासी हथकरघा के प्रति अधिक उत्सुक दिखे। विभाग की ओर से सभी हथकरघा बुनकरों को एक्सपो समापन पर प्रमाण पत्र भी वितरित किये।

नैशनल हैण्डलूम एक्सपो में आंध्र प्रदेश के श्रीबाला जी हैण्डलूम शिल्क सोसाईटी द्वारा सर्वाधिक हथकरघा उत्पादों की बिक्री की गई। द्वितीय स्थान पर गणपति शिल्क तमिलनाडू हथकरघा एवं हस्तशिल्प रही।

उत्तराखण्ड राज्य में गरीब नवाज कॉपरेटिव सोसाईटी काशीपुर द्वारा प्रथम स्थान प्राप्त किया, तो द्वितीय स्थान पर हिमालया अंगूरा एवं ऊन विपणन विकास समिति तथा तृतीय स्थान पर कुटीर उद्योग कल्याण समिति हथकरघा उत्पाद विपणन करने में सफल रही।

प्रदर्शनी में प्रथम बार आये वासिक लद्दाख हैण्डलूम विवर्स इडस्ट्रीयल कोआपरेटिव सोसाईटी कारगिल लद्दाख के विशिष्ट ऊनी उत्पादों की भी एक्सपो में भारी मांग रही।

समापन के अवसर पर उप निदेशक शैली डबराल ने 17 राज्यों से आये हथकरघा बुनकरों का धन्यवाद किया। देश के विभिन्न प्रांतों से आये बुनकरों द्वारा बताया गया कि एक्सपो की व्यवस्थाऐं सुव्यवस्थित रहीं, तथा बुनकरों को एक्सपो में उपलब्ध व्यवस्थाऐं देश में आयोजित अन्य एक्सपो के अपेक्षा काफी बेहतर रही।

नैशनल हैण्डलूम एक्सपो के समापन के अवसर पर विभागिय अधिकारियों के अतिरिक्त उप निदेशक श्रीमती शैली डबराल, मेला अधिकारी केसी चमोली, जगमोहन बहुगुणा, एसएस नेगी सहित आदि मौजूद रहे।

Sushil Kumar Josh

"उत्तराखण्ड जोश" एक न्यूज पोर्टल है जो अपने पाठकों को देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, फिल्मी, कहानी, कविता, व्यंग्य इत्यादि समाचार सोशल मीडिया के जरिये आप तक पहुंचाने का कार्य करता है। वहीं अन्य लोगों तक पहुंचाने या शेयर करने लिए आपका सहयोग चाहता है।

Leave a Reply