प्राइवेट स्कूलों में सख्ती से लागू होगी एनसीईआरटी की पाठ्य पुस्तकें; जारी हुए निर्देश -जानिए खबर

देहरादून(ब्यूरो)। शिक्षा मंत्री उत्तराखण्ड श्री अरविन्द पाण्डेय ने मंगलवार को सचिवालय में केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री श्री रमेश पोखरियाल निशंक द्वारा देश के सभी राज्यों व केन्द्र शासित प्रदेशों के शिक्षा मंत्रीयो एवं सचिवों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से हुई बैठक में प्रतिभाग किया। जिसमें राज्य के सभी जनपदों के प्राइवेट स्कूलों पर एनसीईआरटी की पाठ्य पुस्तकों को सख्ती से लागू करवायी जायेगी।

केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री श्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि विद्यालयों में छुट्टियों के दौरान भी मिड डे मील का लाभ डीबीटी के माध्यम से छात्र छात्राओं को उपलब्ध कराया जाएगा। उन्होंने इसके लिए ₹ 957 करोड़ की राशि स्वीकृत की है। ज्ञताव्य हो कि गर्मियों की छुट्टियों के दौरान छात्र छात्राओं को मिड डे मील का लाभ नहीं मिलता था।

शिक्षा मंत्री श्री अरविन्द पाण्डेय ने कहा कि दूरदर्शन के माध्यम से राज्य में विभिन्न विषयों की कक्षाएं संचालित की जा रही हैं। प्रदेश के छात्र छात्राएं इसका लाभ ले रहे हैं। उन्होंने केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री से प्रदेश के दूरस्थ क्षेत्रों में कनेक्टिविटी में सुधार हेतु टेलीकॉम कंपनियों को निर्देशित करने का भी सुझाव दिया।

उन्होंने कक्षा 1 से कक्षा 8 तक के लिए 4 हफ्ते का पाठयक्रम जारी करने पर केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि इससे लॉकडाउन के मध्य विद्यालयों एवं बच्चों को सेलेक्टिव पाठयक्रम से काफी आसानी होगी।

बैठक के उपरान्त शिक्षा मंत्री श्री अरविन्द पाण्डेय ने सचिव शिक्षा श्री आर मीनाक्षी सुंदरम को निर्देश दिए कि प्रदेश के 4 बड़े जनपदों देहरादून, हरिद्वार, नैनीताल एवं उधमसिंह नगर सहित सभी जनपदों के प्राइवेट स्कूलों पर एनसीईआरटी की पाठ्य पुस्तकों को सख्ती से लागू करवाया जाए। ऐसे स्कूलों पर सख्त कार्यवाही की जाए।

उन्होंने सभी जनपदों से ऐसे स्कूलों पर भी सख्त कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं, जो स्कूल शुल्क बढ़ा रहे हैं अथवा अभिभावकों पर शुल्क जमा करने का दबाव बना रहे हैं। साथ ही शिक्षा मंत्री श्री पाण्डेय ने उन अधिकारियों की भी रिपोर्ट मांगी है जो अपने क्षेत्रों के प्राइवेट स्कूलों में एनसीईआरटी की पाठ्य पुस्तकें लागू करवाने में नाकाम रहे हैं। ऐसे अधिकारियों को नोटिस जारी करते हुए कठोर कदम उठाने के निर्देश दिए हैं। इस अवसर पर सचिव श्री आर मीनाक्षी सुंदरम और डॉ0 मुकुल कुमार सती भी मौजूद थे।

ukjosh

‘उत्तराखण्ड जोश’ एक वेब पोर्टल है जो देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, कहानी, कविता एवं व्यंग्य संबंधी समाचार एवं घटनाओं को सोशल मीडिया द्वारा अपने सुधीपाठकों एवं समाज तक पहुंचाता है। वहीं अपने सुधीपाठकों से यह आशा करता है कि खबरों को शेयर एवं लाइक जरूर करें। हमें आपके सहयोग की अतिआवश्यकता है। धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *