दून व पहाड़ों में यादगार रहा नए साल का जश्न; हुड़दंगियों से निपटने को चप्पे-चप्पे पर तैनात रही पुलिस

दून व पहाड़ों में 2019 की अंतिम शाम हर किसी के लिए खास रही। दूनवासियों ने खट्टी-मीठी यादों के साथ पुराने साल को अलविदा कहा और तरक्की व खुशहाली की उम्मीद के साथ 2020 का स्वागत किया। शहर के तमाम होटल-रेस्तरां और क्लब मध्यरात्रि तक गुलजार रहे। जैसे ही घड़ी की सभी सुइयां 12 पर पहुंचीं, जश्न के साथ बधाइयों का दौर शुरू हो गया।

नए साल के जश्न के लिए दून में विशेष तैयारियां की गई थीं। प्रमुख होटलों में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए। कहीं डीजे नाइट तो कहीं लाइव कॉन्सर्ट में लोगों ने जश्न मनाया। बॉन फायर, गाला नाइट, ओपन माइक म्यूजिक आदि के बीच लोग जमकर झूमे।

शहर में शाम से ही चहल-पहल थी। शाम ढलने के साथ ही लोगों में जश्न को लेकर उत्सुकता बढ़ती गई। रात के आठ बजे तक अधिकांश लोग जश्न मनाने अपने-अपने डेस्टिनेशन पहुंच गए। कोई फैमिली के साथ तो कोई दोस्तों के साथ रात को यादगार बनाने पहुंचा।

नाच-गाने के बीच नए साल का इंतजार भी कम हो रहा था। धीरे-धीरे घड़ी की सुई 12 की ओर बढ़ी तो लोगों का उत्साह भी आसमान पर पहुंचने लगा। जैसे ही सुइयां 12 पर पहुंचीं तमाम होटल और रेस्तरां हैप्पी न्यू ईयर की बधाइयों से गूंज उठे।

पहाड़ों की रानी में यादगार रहा नए साल का जश्न

मसूरी में भी नए साल के जश्न का नशा पर्यटकों के सिर चढ़कर बोला। नए साल के जश्न को मसूरी सहित समीपवर्ती धनोल्टी, बुरांशखंडा, काणाताल, कैम्पटी में पर्यटक उमड़े। सुरक्षा के लिए पुलिस ने पुख्ता इंतजाम किए गए थे। मसूरी पहुंचे पर्यटकों में विशेषकर युवा और नवविवाहित जोड़े अधिक रहे। रात को नौ बजे के बाद मसूरी के प्रमुख बाजारों में भीड़ बढ़ गई। जैसे ही 12 बजे एक-दूसरे को नए साल की बधाइयों का दौर शुरू हो गया। नए साल के स्वागत के लिए बाजारों को खूब सजाया गया।

उधर, धनोल्टी, बुरांशखंडा, काणाताल भी शाम होते-होते पैक हो गए। बाजारों व होटल परिसरों में पर्यटकों के लिए अलाव की विशेष व्यवस्था की गई थी। दिनभर कैम्पटी फाल, कंपनी गार्डन, जॉर्ज एवरेस्ट, गनहिल व भट्टा फॉल पर्यटकों से गुलजार रहे। कोतवाली इंचार्ज वीवीएस नेगी ने बताया कि सुरक्षा के लिए मसूरी शहर सहित मसूरी-देहरादून हाईवे पर विभिन्न स्थानों पर पर्याप्त संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है।

हुड़दंगियों से निपटने को चप्पे-चप्पे पर तैनात रही पुलिस

नववर्ष के स्वागत में हुड़दंग का खलल न पड़े, इसके लिए दून पुलिस अलर्ट रही। डीआइजी अरुण मोहन जोशी ने तय समय से चार घंटे पहले ही पुलिसकर्मियों को ड्यूटी प्वाइंट पर मुस्तैद कर दिया। शहर को जाम से बचाए रखने के लिए सीपीयू की पूरी टुकड़ी सड़कों पर उतार दी। डीआइजी खुद भी देर रात तक शहर के विभिन्न इलाकों का भ्रमण कर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेते रहे।

Police

नए साल के जश्न के दौरान शांति और कानून व्यवस्था बनाए रखने को पुलिस ने पूरी तैयारी कर रखी थी। शहर में 47 स्थान चिह्नित कर वहां पुलिस और पीएसी की ड्यूटी लगाई गई थी। यहां 72 उपनिरीक्षक, चार महिला उपनिरीक्षक, 154 आरक्षी, छह कंपनी पीएसी की तैनाती की गई थी। घंटाघर, दिलाराम चौक, धर्मपुर तिराहा, पे्रमनगर, मसूरी डायवर्जन व मंडी चौराहा पटेलनगर पर एक-एक फायर टेंडर भी आपात स्थिति के लिए तैनात रखा गया।

डीआइजी अरुण मोहन जोशी ने बारी-बारी से शहर के सभी पांच जोन का भ्रमण कर सुरक्षा की स्थिति का जायजा भी लिया। इस दौरान कई पुलिस कर्मी ड्यूटी से नदारद भी मिले। उन्हें डीआइजी ने फटकार लगाते हुए तत्काल ड्यूटी प्वाइंट पर पहुंचने का निर्देश दिया।

चेतावनी

पुलिस की सतर्क निगाह के बाद भी कई लोग नशे में हुड़दंग करते रहे। कई लोग शराब के नशे में बाइक से रपट गए तो कइयों को पुलिस ने महज चेतावनी देकर छोड़ दिया। पुलिस का फोकस राजपुर रोड, जीएमएस रोड, मसूरी रोड, जाखन, दिलाराम तिराहा, घंटाघर आदि पर रहा।

ukjosh

‘उत्तराखण्ड जोश’ एक वेब पोर्टल है जो देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, कहानी, कविता एवं व्यंग्य संबंधी समाचार एवं घटनाओं को सोशल मीडिया द्वारा अपने सुधीपाठकों एवं समाज तक पहुंचाता है। वहीं अपने सुधीपाठकों से यह आशा करता है कि खबरों को शेयर एवं लाइक जरूर करें। हमें आपके सहयोग की अतिआवश्यकता है। धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *