प्रदेश में 15 अगस्त तक प्रभावी रहेगी रिवर ट्रेनिंग -जानिए खबर

देहरादून(ब्यूरो)। प्रदेश में रिवर ट्रेनिंग हेतु वर्ष 2018 में की गई आन्तरिक व्यवस्था को 15 अगस्त तक प्रभावी रखे जाने के निर्देश दिये गये हैं।

बता दें कि इस सम्बन्ध में अपर मुख्य सचिव श्री ओम प्रकाश ने निदेशक भूतत्व एवं खनिकर्म इकाई के साथ ही सभी जिलाधिकारियों को भेजे गये पत्र में निर्देश दिये हैं कि उत्तराखण्ड रिवर ट्रेनिंग नीति, 2016 में ऐसे क्षेत्र जहां नदी के द्वारा उपखनिज आर0बी0एम0 अत्यधिक मात्रा में निक्षेपित/जमा है तथा जिसके जमा होने से भू-कटाव एवं जान माल का खतरा होने की संभावना है, में से आर0बी0एम0 निस्तारित किये जाने हेतु निजी व्यक्ति/सरकारी विभाग का चयन कैसे किया जायेगा, का स्पष्ट प्रावधान न होने के कारण जनपद स्तर पर रिवर ट्रेनिंग नीति के क्रियान्वयन में आ रही है।

व्यवहारिक कठिनाईयों के दृष्टिगत जनपदों में स्थित ऐसे क्षेत्र, जहां नदी के द्वारा उपखनिज आर0बी0एम0 अत्यधिक मात्रा में निक्षेपित/जमा किया गया है तथा जिसके जमा होने से भू-कटाव एवं जान-माल का खतरा होने की संभावना है, से आर0बी0एम0 हटाये जाने हेतु वर्षा काल के प्रारम्भ होने तक निर्धारित अन्तरिम व्यवस्था को दिनांक 15 अगस्त, 2019 तक प्रभावी रखा जाय।

Sushil Kumar Josh

"उत्तराखण्ड जोश" एक न्यूज पोर्टल है जो अपने पाठकों को देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, फिल्मी, कहानी, कविता, व्यंग्य इत्यादि समाचार सोशल मीडिया के जरिये आप तक पहुंचाने का कार्य करता है। वहीं अन्य लोगों तक पहुंचाने या शेयर करने लिए आपका सहयोग चाहता है।

Leave a Reply