सद्गुरु निरंकार प्रभु का आध्यात्मिक सन्देश बाहक होता है : ज्ञान प्रचारक

देहरादून। सद्गुरु आध्यात्मिक सन्देश बाहक होता है। पूर्ण सद्गुरू परमात्मा की जानकारी कराता है। परमात्मा को सद्गुरू की कृपा से जब हम अंग-संग देख लेतेे है तो नजर बदल जाती है। सारा संसार अपना नजर आता है। उक्त आशय के उद्गार स्थानीय ज्ञान प्रचारक बहन पिंकी जी ने निरंकारी सत्संग भवन, रैस्ट कैम्प के तत्वाधान में आयोजित रविवारीय सत्संग कार्यक्रम में पधारे हजारों श्रद्धालू भक्तों को सद्गुरू माता सुदीक्षा जी महाराज के पावन सन्देष देते हुये व्यक्त किये।

उन्होंने आगे कहा कि हर जीव अपने बनावट के हिसाब से अपनी क्रिया करता है जैसे सांप आकार में टेढा-मेढा होता है जब वह चलता है तो तब वह सीधा चलता है। परमात्मा ने मनुष्य को सीधा बनाया लेकिन वह चाले बडी टेढी चलता है। सद्गुरू ने हमारे जीवन को बहुत सीधा और सरल बनाया है हमें सद्गुरू के वचनों को अमल में लाकर अपने जीवन को आनन्दित बनाना है। परमात्मा ने सभी मनुष्यों को तीन शक्तियाॅं दी है पहली सुनने, दूसरी बोलने की एवं तीसरी मनन करने की, इन तीनों को जीवन में उतारने की शक्ति सद्गूरू ही देता है।

उन्होंने आगे फरमाया संत निरंकारी वार्षिक समागम के माध्यम से समस्त विश्व के कल्याण हेतु सद्गुरू माता सुदीक्षा जी महाराज निरंकार पार ब्रह्म की दिव्य ज्योति मानव मनों में प्रज्जवलित करने के लिये इसका आयोजन किया जा रहा है। हमेशा ही अवतारी महापुरूषों, सन्तों और भक्तों की भारत भूमि ने सदा ही विश्व को शांति और सद्भाव का संदेश दिया है। जाति, धर्म, भाषा, संस्कृति, पहरावे, देश व प्रान्त के आधार पर तमाम प्रकार की दूरियां बना रखी हैं जिस कारण इन्सान परस्पर सद्भाव को अपनाने की बजाय संकीर्णता में जी रहा है। आज जरूरत है दिव्य ज्ञान के उजाले से युक्त होना यानि प्यार व भाईचारे की भावना को जागृत करना। केवल नारों से बात नहीं बनती कि ’आवाज दो हम एक हैं’ ‘एकत्व’ की भावना से ही इन्सान-इन्सान के करीब आयेगा।

सत्संग समापन से पूर्व अनेकों प्रभु-प्रेमियों, भाई-बहनों एवं नन्हे-मुन्ने बच्चों ने गीतो एवं प्रवचनों के माध्यम से निरंकारी माता सुदीक्षा जी महाराज की कृपाओ का व्याख्यान कर संगत को निहाल किया। मंच का संचालन पूज्य शशि बिष्ट जी ने किया।

Sushil Kumar Josh

"उत्तराखण्ड जोश" एक न्यूज पोर्टल है जो अपने पाठकों को देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, फिल्मी, कहानी, कविता, व्यंग्य इत्यादि समाचार सोशल मीडिया के जरिये आप तक पहुंचाने का कार्य करता है। वहीं अन्य लोगों तक पहुंचाने या शेयर करने लिए आपका सहयोग चाहता है।

Leave a Reply