बेशर्मी का नंगा नृत्य करना उनका शौक . . .

व्यंग्य: पाक को बेशर्मी पसंद है

Lalit Sauriya
ललित शौर्य

अब बेशर्मी में मजा आने लगा है। वो खुल के बेशर्म हो रहे हैं। वो पहले भी बेशर्म थे। अब भी बेशर्म हैं और पूरी संभावना है कि भविष्य में भी बेशर्म ही रहेंगे। बेशर्मी का नंगा नृत्य करना उनका शौक है। बेशर्मी के कुंएँ में डुबकी लगाने में उनको मौज आती है। बेशर्मी और बेहयाई उनके डी.एन.ए में कबड्डी खेल रही है। नंगापन और टुच्चई में उनका मुल्क पी.एच-डी. किये हुए है। वहाँ मंचों से जहर उगला जाता है। सांप और अजगर वहाँ पानी बेचते हैं।

उनको आदम संस्कृति पसंद है। नंगा होने में उनको फर्क होता है। उनके कपड़े उतारे जाने पर भी उन्हें शर्म महसूस नहीं होती है। क्योंकि उनकी इंसानियत और शर्म कील पर टँगी हुई है। पाकिस्तान के हुक्मरान विदेशों में नंगे किये जा रहे हैं। उनके अंदर गर्व से कहो हम नंगे हैं वाली फीलिंग हिलोरे मार रही है। उनके नागरिकों को तो निर्वस्त्र किया ही जाता रहा है अब उनके देश के मुखिया भी अमेरिका के सामने निर्वस्त्र हो रहे है। ये उनकी वास्तविक स्थिति है। जिस देश के मुखिया अपने कपड़े ना संभाल पा रहे हों वो देश कैसे संभाल रहे होंगे अंदाजा लगाया जा सकता है। वैसे भी उनके मुल्क में तमाम ऐसे कुख्यात नेता हैं जो आयेदिन उनके पैजामे का नाड़ा खींचते रहते हैं। पर ये शायद पहला चांस था जब उन्हें अंतराष्ट्रीय स्तर पर बेइज्जत होने का सौभाग्य प्राप्त हुवा।

वैसे तो सांकेतिक रूप से वो अनेक मुल्कों द्वारा अंतराष्ट्रीय मंचों पर निर्वस्त्र हो चुके हैं। पर ये पहला मौका है जब अमेरिकी सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें साक्षात् निर्वस्त्र किया है। ये गौरव पाकिस्तानी पी. एम. को प्राप्त हुवा है। पाकिस्तान ऐसे अनेकों गौरव प्राप्त कर चुका है। अंतराष्ट्रीय स्तर पर बेशर्मी के अनेकों अवॉर्ड वो झटक चुका है। अब उसे निर्वस्त्र होना अखरता नहीँ है। वो अब एडजस्ट कर चुका है।वो जानता है जब वो पैदा हुवा था तो निर्वस्त्र था जब जायेगा तो निर्वस्त्र जायेगा तो जीते जी नंगे हो भी गए तो क्या जाता है। उसका नंगेपन में दृढ़ विश्वास है।

इसी विश्वास को कायम रखते हुए वो मुल्क और मुल्क से बाहर नंगे हुए जा रहा है। पी.एम. साहब का नंगा होना मुल्क की विशेषता दिखलाता है। उनकी सहजता और सरलता दिखलाता है। उनकी सहयोग की भावना प्रदर्शित करता है। उन्होंने सहजता से नंगा होना स्वीकार किया। और पूरी वीरता के साथ निर्वस्त्र हुए। आज उनका मुल्क गरीबी, अशिक्षा, बीमारियों और आतंकवाद से जूझ रहा है। पर वो अपने नंगेपन की गोलियां अपने पडोशी मुल्कों पर दाग रहा है। क्योंकि उसे बेशर्म होना पसंद है।

Sushil Kumar Josh

"उत्तराखण्ड जोश" एक न्यूज पोर्टल है जो अपने पाठकों को देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, फिल्मी, कहानी, कविता, व्यंग्य इत्यादि समाचार सोशल मीडिया के जरिये आप तक पहुंचाने का कार्य करता है। वहीं अन्य लोगों तक पहुंचाने या शेयर करने लिए आपका सहयोग चाहता है।

Leave a Reply