मां के कहने पर बेटे ने की कुल्हाडी से पिता की हत्या -जानिए खबर

बैतूल। शारीरिक और मानसिक प्रताड़ना से तंग आकर बेटे के साथ मिलकर पति की हत्या करने का एक सनसनीखेज मामला मध्य प्रदेश में सामने आया है। बताया जा रहा है कि एक बंगाली चिकित्सक 25 साल से पत्नी को शारीरिक और मानसिक प्रताड़ना देकर मारपीट करता था। इससे तंग आकर पति को सोते समय नाबालिग बेटे के साथ मिलकर गैंती, कुल्हाड़ी और बसूला मारकर हत्या की।

बता दें कि मामला मध्य प्रदेश के बैतूल जिले का है। घटना का राज हथियारों पर आरोपी पत्नी और बेटे के फिंगर प्रिंट से खुला। पुलिस ने आरोपी पत्नी और नाबालिग बेटे को गिरफ्तार कर लिया है। यह खुलासा हत्या के लगभग ढाई माह बाद हुआ है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार चोपना थाना क्षेत्र के विष्णुपुर गांव में महादेव हलधर की एक जून को हत्या की गई थी।

इस मामले की रिपोर्ट महादेव की बेटी देवीश्री ने लिखाई थी। रिपोर्ट में नकाबपोशों द्वारा हमला किए जाने की बात कही गई थी। इस पर पुलिस जांच कर रही थी। आखिरकार आरोपी कोई और नहीं बल्कि मृतक की पत्नी विनीता ही निकली। चोपना थाने के प्रभारी राहुल रघुवंशी के अनुसार, आरोपी की खोज के दौरान पुलिस द्वारा घर वालों से कड़ाई से पूछताछ करने पर मृतक की पत्नी ने पुलिस को बताया कि उसका पति महादेव हलदर उसे और बच्चों को आए दिन छोटी-छोटी बात पर मारता रहता था। घटना के एक दिन पूर्व भी पति महादेव द्वारा पीटा गया, इस पर उसने पति को खत्म करने की योजना बना ली।

पुलिस को महिला द्वारा दिए गए बयान में बताया गया है कि घटना के दिन एक पहले जून की दोपहर मे जब सब घर बाले खाना खाकर सो रहे थे तभी दूसरे कमरे मे रखे लोहे के औजार (गेंती) से सोते हुये पति पर हमला कर दिया। पिता की चीख सुनकर बेटा भी आया और मां के कहने पर बगल में रखी कुल्हाडी से सिर पर वार कर दिया। इसके बाद महिला ने नकाबपोशों द्वारा हमले की कहानी गढ़ी व बेटी के जरिए थाने में रिपोर्ट लिखाई। पुलिस के अनुसार विनीता और उसके नाबालिग बेटे को गिरफ्तार कर लिया गया है।

ukjosh

‘उत्तराखण्ड जोश’ एक वेब पोर्टल है जो देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, कहानी, कविता एवं व्यंग्य संबंधी समाचार एवं घटनाओं को सोशल मीडिया द्वारा अपने सुधीपाठकों एवं समाज तक पहुंचाता है। वहीं अपने सुधीपाठकों से यह आशा करता है कि खबरों को शेयर एवं लाइक जरूर करें। हमें आपके सहयोग की अतिआवश्यकता है। धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *