अब नहीं तो फिर कबः मनुष्य जन्म एक सुअवसर है परमात्मा को प्राप्त करने का!

जीव की सद्गति परमात्मा की कृपा से ही हो पाती है। परमात्मा को प्राप्त करने के लिए मनुष्य को सदा

Read more