रजाई-गद्दों की दुकान में लगी भीषण आग; लोगों में अफरा तफरी, दस दुकान स्वाह

उत्तरकाशी। एक रजाई-गद्दों की दुकान में अचानक भीषण आग लगने से अफरा तफरी मच गई। आग इतनी भयंकर थे कि देखते ही देखते करीब दस दुकानें स्वाह हो गई। इससे पहले कि आग पर काबू पाया जाता आग ने विकराल रूपधारण कर लिया। स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना फायर ब्रिगेड को दी। मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड के कर्मचारियों ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। आग लगने के कारणों का फिलहाल स्पष्ट पता नहीं चल पाया है।

बता दें कि सोमवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बड़कोट के समीप एक गली में लकड़ी के एक खोखेमें शरीफ अहमद की रजाई-गद्दों की दुकान थी, जिसमें दोपहर करीब 12ः15 बजे अचानक आग लग गई। लोगों ने जैसे ही रजाई-गद्दों को बाहर निकालना शुरू किया। आग भी उतनी तेजी से फैली कि देखते ही देखते आग आसपास की दुकानों में भी फैल गई, जिससे करीब दस दुकानें उसकी चपेट में आ गईं।

प्रत्यक्षदर्शी की माने तो आग लगने से रजाई-गद्दों के अलावा, मेडिकल, रेडीमेड स्टोर, प्रोविजन स्टोर, पान की दुकान और एक खाने का ढाबा भी जलकर पूरी तरह खाक हो गया। इससे दुकानदारों का लाखों का नुकसान हुआ। आग की सूचना पर पुलिस ने पहले फायर डिस्टिंगविशर से आग बुझाने का प्रयास किया, लेकिन आग बढने के बाद फायर सर्विस को भी बुलाया।

फायर सर्विस के आने पर कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया। आग आसपास और दुकानों में न फैल जाए इसके लिए स्थानीय दुकानदारों ने अपनी-अपनी दुकानें खाली कर दी वहीं लोगों में अफरा तफरी का माहौल बना रहा।

आग से प्रभावित दुकानदारों में जयेंद्र सिंह रावत, जयदेव सिंह, शरीफ अहमद, अरविंद कुमार, गौतम पंवार, संजय, मदन, गम्भीर आदि शामिल है। इस घटना के बाद से करीब एक घंटे तक मुख्य बाजार का ट्रैफिक पूरी तरह बन्द रहा।

राकेश रतूड़ी, पुरोला

Sushil Kumar Josh

"उत्तराखण्ड जोश" एक न्यूज पोर्टल है जो अपने पाठकों को देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, फिल्मी, कहानी, कविता, व्यंग्य इत्यादि समाचार सोशल मीडिया के जरिये आप तक पहुंचाने का कार्य करता है। वहीं अन्य लोगों तक पहुंचाने या शेयर करने लिए आपका सहयोग चाहता है।

Leave a Reply