उत्तराखण्ड में पूंजी निवेश की अपार संभावनाएं

देहरादून। मुख्य सचिव श्री उत्पल कुमार सिंह की अध्यक्षता में मंगलवार को सीएसआई में यूनाईटेड किंगडम(यू.के.) से आये विभिन्न क्षेत्रों के 22 प्रतिनिधियों के साथ पूंजी निवेश के बारे में विचार-विमर्श हुआ। मुख्य सचिव श्री सिंह ने उद्योगपतियों को बताया कि राज्य में रेलवे, सड़क का नेटवर्क बढ़ रहा है। कानून व्यवस्था, बिजली की उपलब्धता, अवस्थापना सुविधाएं, राज्य सरकार द्वारा बनायी गयी विभिन्न नितियां निवेश के अनुकूल है।

प्रस्तुतीकरण के माध्यम से एम.डी.सिडकुल श्रीमती सौजन्या ने बताया कि उत्तराखण्ड में पूंजी निवेश की अपार संभावनाएं है। एसोचेम की रिपोर्ट के अनुसार उद्योग एवं सेवा क्षेत्र में पिछले 10 वर्षों से उत्तराखण्ड देश में उच्च स्थान पर है। परियोजना के लागू करने, निवेश परिदृश्य में सुधार करने के लिहाज से उत्तराखण्ड देश में दूसरा सर्वोत्तम परफाॅर्मिंग स्टेट है। औद्योगिक सुधार को लागू करने की दिशा में उत्तराखण्ड को ईज-आॅफ-डूइंग बिजनेस में देश में 9वां स्थान मिला था। उत्तराखण्ड को लीडर स्टेट का दर्जा दिया गया था। राज्य में अनुकूल स्थान है, पर्याप्त लेबरपूल है, सबसे कम बिजली की दर है, नीति और बुनियादी सुविधा में उत्तम है, 39000 किमी रोड नेटवर्क है, 02 घरेलू एयरपोर्ट है, 345.23 किमी रेल लाइन है।

राज्य में पर्यटन, वानिकी, फूल उत्पादन, वैलनेस और आयुष, औद्योगिक सुविधा केन्द्र, जल विद्युत के क्षेत्र में पूंजी निवेश की संभावना है। सिंगल विंडो सिस्टम के तहत उद्योगों को 15 दिन के अन्दर मंजूरी दी जाती है। 100 सेवाओं में सेवा के अधिकार के अन्तर्गत समयबद्ध मंजूरी दी जाती है। इसके लिये अधिनियम बनाया गया है। 100 निवेशक सेवाओं को अधिसूचित किया गया है। इसके अलावा आई.टी., एम.एस.एम.ई., स्टार्टअप, मेगा फूड पार्क, मेगा टैक्सटाईल, महिलाओं के लिये विशेष उद्यमिता, मेगा औद्योगिक और निवेश पाॅलिसी बनायी गयी है। राज्य में सितारगंज, काशीपुर, हरिद्वार, सेलाकुई, पंतनगर एवं कोटद्वार में सिडकुल क्षेत्र विकसित किये गये है। अमृतसर-कोलकाता इंडस्ट्रीयल काॅरीडोर के अन्तर्गत औद्योगिक क्लस्टर खुरपीया फाॅर्म, पंतनगर, काशीपुर और सितारगंज में स्थापित किये जाने वाले है।

स्मार्ट सिटी के सीईओ श्री दिलीप जावलकर ने बताया कि स्मार्ट सिटी के लिये आधुनिक तकनीक की पहल की जा रही है। इसके अन्तर्गत यूटिलीटी डक्ट और कमांड एंड कंट्रोल सेंटर, ई-वाहन और यातायात प्रबंधन के लिये स्मार्ट योजना बनायी जा रही है। सचिव कौशल विकास डाॅ.पंकज कुमार पाण्डेय ने बताया कि पर्यटन, वैलनेस, हाॅस्पिटेलिटी, लाइफ साइंस आदि विभिन्न क्षेत्रों में कौशल विकास का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। कुशल उत्तराखण्ड पोर्टल पर 13000 युवाओं को पंजीकृत किया गया है। उत्तराखण्ड अप्रैल में आयोजित होने वाली इंडिया स्किलस प्रतियोगिता में शामिल होगा। स्किल गैप का सर्वे किया जा रहा है। उसके अनुसार कौशल की ट्रेनिंग दी जायेगी।

सचिव शहरी विकास श्री नितेश झा, अपर सचिव श्री चन्द्रेश कुमार, श्री अरूणेन्द्र सिंह ने भी प्रस्तुतीकरण दिया। सीआईआई के प्रतिनिधि श्री मनु कोचर, सुश्री विभा मल्होत्रा, श्री राकेश अग्रवाल, श्री राकेश ओबराय, श्रीमती लतिका मोदी और श्री वी.के.धवन ने राज्य सरकार द्वारा औद्योगिक निवेश में दी जा रही सुविधाओं की सराहना की। यूके के प्रतिनिधियों ने विभिन्न क्षेत्रों में निवेश की इच्छा जाहिर की। इस अवसर पर ब्रिटिश डिप्टी हाई कमीशन के डिप्टी हाई कमीशनर श्री एंड्रयू आयरे, हेड आॅफ ट्रेड श्री दिपांकर चक्रवर्ती, प्रोस्पेरिटी एडवाइजर श्री जावेद मल्ला, यू.के.एन्वाॅयरोमेन्टल के एम.डी. श्री अमर सेठ, सी.क्यू.ए. इन्टरनेशनल के निदेशक श्री डेरेन ब्लान्ड, मेष प्रोजेक्ट एंड काॅस्ट मैनेजमेंट के निदेशक श्री रूप बन्धोपाध्याय, बोलिना बूम्स के भारतीय प्रतिनिधि श्री नरेन्द्र शर्मा, ग्रांट थाॅनटन के एसोसिएट डायरेक्टर श्री चिराग जैन, मैनेजर श्री राहुल मोहिन्दर, सी.डी.ई.एशिया लिमिटेड के रिजनल मैनेजर श्री सागर मछिन्द्रा, टिंटो मीटर इण्डिया प्रा. लि. के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री नीरज कर्णवाल, पार्किंग कन्ट्रोल मैनेजमेंट लि. के नेशनल मैनेजर श्री महेश मुन्द्रा, मसाबी के भारतीय प्रतिनिधि अल्पना खेडा, एस्लीमेटाइज के इण्डिया मैनेजर श्री जैनीफर स्टीवस्, मनिपाल सिटी एण्ड गिल्ट्स के सीनियर कंसलटेंट मनीषा सरीन, स्किल एनीटाईम के एजीएम, एजूकेशन एण्ड टेªनिंग के श्री रितेश वशिष्ट, बिजनेस डेवलपमेंट मैनेजर सुश्री पूजा चैहान, पर्सन एजुकेशन के डाॅयरेक्टर वोकेशनल श्री सचिन दुबे, रिजनल मैनेजर श्री बलजीत सिंह, रिनाॅसेंस ई-सर्विस लि. के डाॅयरेक्टर श्री शब्द मिश्रा, यूके स्किल लि. के ट्रस्टी एण्ड ग्लोगल हैड श्री तेजवंत चतवाल, ओसीएस ग्रुप यूके के जनरल मैनेजर बिजनेस डेवलपमेंट श्री अनुज मांगलिक उपस्थित थे।

Sushil Kumar Josh

"उत्तराखण्ड जोश" एक न्यूज पोर्टल है जो अपने पाठकों को देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, फिल्मी, कहानी, कविता, व्यंग्य इत्यादि समाचार सोशल मीडिया के जरिये आप तक पहुंचाने का कार्य करता है। वहीं अन्य लोगों तक पहुंचाने या शेयर करने लिए आपका सहयोग चाहता है।

Leave a Reply