नही थम रहा है अधिकारी और फौजी के घरों में चोरी का सिलसिला -जानिए खबर

देहरादून। उत्तराखण्ड की राजधानी देहरादून में अधिकारियों और फौजियों के बंद घरों में हो रही चोरियां का सिलसिला थम नही रहा है। चोरियों को रोकने को लेकर किए जा रहे दावे एक बार फिर खोखले साबित हुए है।

मीडिया सूत्रों के अनुसार वसंत विहार थाना क्षेत्र के पंडितवाड़ी में महिला बाल विकास अधिकारी के बंद घर को निशाना बनाते हुए चोरों ने लाखों का सामान साफ कर लिया है। वहीं, रायपुर में फौजी के बंद घर का ताला तोड़ कर चोरों ने 15 हजार रुपये नकद और तीन लाख रुपये से अधिक की कीमत के जेवरात पर हाथ साफ कर दिए। पुलिस चोरों की तलाश में जुट हुई है पर अफसोस पुलिस के हाथ चोरों का कुछ भी सुराग नही है।

पुलिस के अनुसार महिला बाल विकास अधिकारी कामिनी गुप्ता बीते तेरह जून को परिवार के साथ नैनीताल चली गई थीं। बुधवार को वह वापस लौटीं तो घर की हालत देख सकते में आ गईं। दरवाजे पर लगा ताला टूटा हुआ था और सभी कमरों में सामान बिखरा पड़ा था।

एसओ वसंत विहार हेमंत खंडूड़ी ने बताया कि बीस हजार रुपये नगद, एक लैपटॉप व जेवरात चोरी होने की तहरीर मिली है। मुकदमा दर्ज कर मामले में जांच की जा रही है।

उधर, अशोक रेढ़वान निवासी सोड़ा सरौली कृष्णा विहार सेना में हैं और भूटान में तैनात हैं। इन दिनों वह छुट्टी पर घर आए हुए हैं। सुबह वह परिवार के साथ कहीं घूमने के लिए निकल गए। जब घर लौटे तो देखा कि मुख्य दरवाजे का ताला टूटा हुआ है। भीतर जाकर देखा तो होश उड़ गए। कमरों में सामान बिखरा पड़ा था और आलमारी के लॉकर टूटे हुए थे। सोने-चांदी के आभूषणों के डिब्बे खाली बिखरे पड़े थे।

सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने एफएसएल टीम के साथ घर के दरवाजों और बिखरे सामानों पर से फिंगर प्रिंट लिए। अशोक के घर के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे में एक बाइक पर दो युवक आते दिख रहे हैं। जाते समय उनके हाथ में दो बैग थे, जो अशोक रेढ़वान के ही घर के बताए जा रहे हैं।

इंस्पेक्टर रायपुर चंद्रभान सिंह अधिकारी ने बताया कि फुटेज में दिख रही बाइक और संदिग्धों की तलाश की जा रही है। जल्द ही आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Sushil Kumar Josh

"उत्तराखण्ड जोश" एक न्यूज पोर्टल है जो अपने पाठकों को देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, फिल्मी, कहानी, कविता, व्यंग्य इत्यादि समाचार सोशल मीडिया के जरिये आप तक पहुंचाने का कार्य करता है। वहीं अन्य लोगों तक पहुंचाने या शेयर करने लिए आपका सहयोग चाहता है।

Leave a Reply