दून पिकनिक पर आए तीन छात्र नहाते हुए नदी में डूबे; एक को बचाया दो लापता

देहरादून घूमने आए उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले से छात्रों के दल में शामिल तीन छात्र नहाते वक्त यमुना नदी में डूब गए। स्थानीय तैराकों ने इनमें से एक को बचा लिया, जबकि अन्य दो का कुछ पता नहीं चल पाया। मूल रूप से कारगिल निवासी तीनों बच्चे अनाथ हैं और मुजफ्फरनगर स्थित डीएन पब्लिक स्कूल में पढ़ते हैं।

यहां संधावली कस्बे में अलजहरा चेरीटेबल फाउंडेशन संस्था अनाथ बच्चों की देखरेख कर रही थी। स्कूल का संचालन यही संस्था करती है। वही 170 बच्चों को पिकनिक पर लेकर आई हुई है।

हादसा शनिवार शाम के वक्त हुआ। मुजफ्फरनगर के संधावली से तीन बसों में ये सभी बच्चे टूर पर आए हुए हैं। दोपहर में उन्होंने भारतीय वन अनुसंधान संस्थान का भ्रमण किया। इसके बाद वे विकासनगर से करीब आठ किलोमीटर दूर इमामबाड़ा अंबाड़ी पहुंचे।

इस बीच छह बच्चे डाकपत्थर बैराज के पास यमुना नदी की तरफ चले गए। इनमें से अनवर(17 वर्ष) पुत्र मोहम्मद मूल निवासी लंकरचे कारगिल लददाक, मोहम्मद हुसैन (17 वर्ष) मूल निवासी सोत कारगिल और मोहम्मद जफर अली (13वर्ष) पुत्र मोहम्मद अली मूल निवासी लंकरचे कारगिल नदी में नहाने उतर गए। जबकि उनके साथी छात्र वहीं किनारे बैठ गए।

इसी दरम्यान मोहम्मद जफर पानी तेज बहाव में बहने लगा, यह देख अनवर व हुसैन उसे बचाने के लिए गहरे पानी में उतर उतरे और देखते ही देखते दोनों डूब गए। साथी छात्रों की चीख पुकार सुनकर बैराज रोड से गुजर रहे आदिल और इकराम ने उन्हें बचाने की कोशिश की, लेकिन वह अनवर को ही बचा गए। बाकी तेज बहाव में गुम हो गए।

अनवर को स्थानीय लोगों ने पास स्थित कालिंदी अस्पताल में भर्ती कराया। प्राथमिक उपचार के बाद उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया गया। जल पुलिस और स्थानीय तैराकों ने नदी में डूबे छात्रों की तलाश में रेस्क्यू चलाया, लेकिन उनका कुछ पता नहीं चला।

जल पुलिस के देरी से पहुंचने पर लोगों ने नाराजगी जाहिर की। टूर में साथ आए शिक्षक मौहम्मद हैदर ने बताया कि ये बच्चे बगैर बताए नहाने चले गए थे। थानाध्यक्ष ने बताया कि लापता छात्रों की तलाश की जा रही है।

Sushil Kumar Josh

"उत्तराखण्ड जोश" एक न्यूज पोर्टल है जो अपने पाठकों को देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, फिल्मी, कहानी, कविता, व्यंग्य इत्यादि समाचार सोशल मीडिया के जरिये आप तक पहुंचाने का कार्य करता है। वहीं अन्य लोगों तक पहुंचाने या शेयर करने लिए आपका सहयोग चाहता है।

Leave a Reply