कोरोना की इस जंग में लोगों के जीवन रक्षा के लिए एसएसजे परिसर का योग विभाग भी कूदा -जानिए खबर

अल्मोड़ा। संकट की इस घड़ी में जहां डाॅक्टर, नर्स, पुलिस, नेता, आम आदमी, समाजिक संस्थाएं, देश के लिए हरसम्भव मदद कर रहे है। वहीं कुमाऊँ विश्वविद्यालय के एस एस जे परिसर का योग विभाग रैन बसेरे में रह रहे राहगीरों को योग का प्रशिक्षण दे रहा है।

बता दें कि सम्पूर्ण विश्व में कोरोना जैसे महारोग का कहर जारी है। सरकारों के द्वारा कोरोना से बचाव के अनेकों उपाय व व्यवस्थाएं की जा रही है। उसके बावजूद भी संक्रमण का आंकड़ा निरन्तर बढ़ता ही जा रहा है। वहीं कोरोना से लोगों के बचाव के लिए योग विभाग मैदान में कूद पड़ा है।

बता दें कि योग विभाग के अध्यक्ष डॉ नवीन भट्ट का मानना है कि योग कोरोना से लड़ने का एक सशक्त व कारगर साधन है। योग व्यक्ति के रक्षा -प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत कर उनकी प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करने के साथ ही श्वसन तंत्र से संबंधित इस रोग को हराने में सक्षम है। विश्वविद्यालय का योग विभाग प्रशासन की अनुमति से लोगों के स्वास्थ्य संवर्धन की दिशा में कार्य कर रहा है।

उन्होंने कहा कि योग विभाग के प्रशिक्षित सर्वे भवन्तु सुखिन की संकल्पना को लेकर कार्य कर रहा है। राजकीय इंटर कालेज में राहगीरों हेतु रैन बसेरा विकसित किया गया है जिसमे सभी सुविधाएं दी जा रही है। योग विभाग के प्रशिक्षित चन्दन बिष्ट द्वारा राहगीरों को योग का प्रशिक्षण दिया गया जिसमें त्रिकोणासन, मत्स्यासन, वृक्षासन, चक्रासन, वज्रासन, मार्जारी आसन, शशांक आसन, अनुलोम-विलोम, सूर्यभेदन, नाड़ीशोधन के साथ ही अनेकों यौगिक क्रियाओं का प्रशिक्षण दिया गया।

वहीं प्रशिक्षक चन्दन बिष्ट ने बताया कि कोरोना रोग अधिकतर उन लोगों को अधिक ग्रसित कर रहा है। जिनकी प्रतिरोधक क्षमता कमजोर है। योग के द्वारा प्रतिरोधक क्षमता को विकसित करने के साथ ही शरीर के भीतर ऑक्सीजन की कमी न हो व फेफड़ों को मजबूत बनाने हेतु अनेकों शक्ति विकासक क्रियाओं का अभ्यास इन्हें कराया जा रहा है। जिसमें इनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत हो। उन्होंने बताया कि योग का प्रशिक्षण प्रशासन के निर्देशों तक जारी रहेगा।

ukjosh

‘उत्तराखण्ड जोश’ एक वेब पोर्टल है जो देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, कहानी, कविता एवं व्यंग्य संबंधी समाचार एवं घटनाओं को सोशल मीडिया द्वारा अपने सुधीपाठकों एवं समाज तक पहुंचाता है। वहीं अपने सुधीपाठकों से यह आशा करता है कि खबरों को शेयर एवं लाइक जरूर करें। हमें आपके सहयोग की अतिआवश्यकता है। धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *