युवाओं के बेहतर भविष्य को सवारने में शिक्षा प्रदान कर रही है एनआईएफटी

देहरादून। नाॅर्दन इण्डिया इन्सटीट्यूट आॅफ फैशन टेकनोलोजी (एनआईएफटी) फैशन, वस्त्र, प्रबंधन और प्रौद्योगिकी के छात्रों के करियर को संवारने के साथ उनके संचार कौशल को बढ़ाने में हर संभव प्रयास करता है। संस्थान का मानना है कि फैशन उद्योग के भविष्य के लिए एक करियर के रूप में फैशन, वस्त्र, विपणन और प्रौद्योगिकी को आगे बढ़ाने के लिए इस फील्ड में अध्ययनरत छात्रों को रोमांचक तरीके से प्रोत्साहित करने की जरूरत है।

मंगलवार को होटल पैसिफिक में पै्रस वार्ता के दौरान एनआईएफटी के निदेशक श्री के0एस0 ब्रार ने जानकारी देते हुए बताया कि एनआईएफटी पंजाब के फैशन उद्योग की आवश्यकता के अनुसार फैशन डिजाइन एवं क्लोदिंग टेकनोलोजी, अपेरेल मर्चेन्डाइजिंग के क्षेत्र में नए पेशेवर पाठ्यक्रम, अल्पकालिक सेर्टिफिकेट प्रोग्राम तथा व्यवसायिक प्रोग्राम भी पेश कर रहा है। के0 एस0 ब्रार ने कहा कि एनआईएफटी की स्थापना मोहाली में 1995 में पंजाब सरकार के द्वारा उद्योग एवं वाणिज्य मंत्रालय के तहत की गई। एनआईएफटी डिजाइन, प्रबन्धन एवं प्रोद्यौगिकी के क्षेत्र में शिक्षा प्रदान करता है, जहाँ देश भर से महत्वाकांक्षी विद्यार्थी आकर इसके शिक्षा कार्यक्रमों से लाभान्वित होते हैं। साल दर साल यह संस्थान अपने प्रोग्राम में नए पाठ्यक्रमों को शामिल कर रहा है और परिधान उद्योग के साथ इसके लगातार बेहतर संबंध स्थापित हो रहें हैं। फैशन के कारोबार में उद्योग जगत को प्रशिक्षित पेशेवर उपलब्ध कराने के लिए एनआईएफटी, मोहाली ने साल 2008 में लुधियाना केन्द्र की स्थापना की।

श्री इंद्रजीत सिंह रजिस्ट्रार एनआईएफटी ने कहा कि किसी भी कार्य की सफलता के लिए सामूहिक रूप से कार्य करना जरूरी है। एनआईएफटी देश का शीर्ष फैशन संस्थान है। उत्तर भारत का यह संस्थान डिजायन, प्रबंधन और प्रौद्योगिकी शिक्षा के क्षेत्र में एक प्रवत्ति सेटर किया गया है। आउटलुक पत्रिका द्वारा किए गए एक सर्वेक्षण के अनुसार यह संस्थान आज देश में नवें स्थान पर है। एनआईएफटी पंजाब के माननीय मुख्यमंत्री श्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के गतिशील नेतृत्व और सक्षम मार्गदर्शन के तहत काम कर रहे हैं। जो उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री पंजाब सरकार भी है।

श्री राकेश वर्मा, आईएएस, प्रमुख सचिव उद्योग एवं वाणिज्य पंजाब सरकार, अध्यक्ष एनआईएफटी एवं श्री डीपीएस खरबंदा, आईएएस, आयुक्त उद्योग एवं वाणिज्य पंजाब सरकार एनआईएफटी के महानिदेशक के पद का कार्यभार संभालने के साथ संस्थान के छात्रों के सुनहरे भविष्य के लिए अपना अमूल्य मार्गदर्शन दे रहे हैं। संस्थान निम्नलिखित पाठ्यक्रम उपलब्ध कराता हैः-

10.2 के बाद फैशन डिजाइन में बी. एस. सी.
10.2 के बाद टेक्सटाईल डिजाइन में बी. एस. सी.
10.2 के बाद फैशन डिजाइन (निट्स) में बी. एस. सी.

स्नातक के बाद परिधान विनिर्माण प्रोद्यौगिकी (गारमेन्ट मैनुफैक्चरिंग टेकनोलोजी) में एम. एस. सी.
स्नातक के बाद फैशन विपणन एवं प्रबन्धन (फैशन मार्केटिंग एण्ड मैनेजमेन्ट) में एम. एस. सी

विद्यार्थियों को भर्ती के लिए एक प्रवेश परीक्षा देनी होती है जिसका आयोजन तीन जून, 2018 को किया जाएगा तथा आॅनलाईन पंजीकरण अप्रैल, 2018 से शुरू हो गये हैं तथा आवेदन जमा करने की अंतिम तारीख 25 मई, 2018 है। परिणामों की घोषणा 20 जून, 2018 में की जाएगी तथा 26-27 जून, 2018 को सिचुएशन टेस्ट एवं पहली काउन्सलिंग की फीस 27 व 29 को ली जाएगी तथा विस्तृत विवरण वेबसाईट www.niiftindia.com पर उपलब्ध है।

एनआईएफटी मोहाली परिसर में फैला है। अत्याधुनिक इन्फ्रास्ट्रक्चर से युक्त यह परिसर सभी सुविधाओं से लैस है जैसेः पुस्तकालय, संसाधन केन्द्र, आर्ट स्टुडियो, अत्याधुनिक प्रयोगशालाएं, सूचना प्रोद्यौगिकी विभाग, डिजाइन साॅफ्टवेयर। लुधियाना में उपरोक्त सभी सुविधाएं मौजूद हैं।

प्लेसमेन्ट एनआईएफटी सभी क्षेत्रों जैसे फैशन डिजाइन, टेक्सटाईल डिजाइन, गारमेन्ट मैनुफैक्चरिंग टैकनोलोजी, फैशन मार्केटिंग मैनेजमेन्ट आदि से पास होने वाले विद्यार्थियों को लगभग 100 फीसदी प्लेसमेन्ट उपलब्ध कराता है। विद्यार्थियों को कई अग्रणी कम्पनियों जैसे वर्धमान, टाईनोर आॅर्थोटिक्स लिमिटेड, जिनी एण्ड जाॅनी, सत्यपाॅल, कैसकेड, आॅक्टेव, कैपसनस, स्पोर्टकिंग, ट्रिडेंट आदि में नौकरियां दी गई हैं। हमारे फैशन डिजाइन के विद्यार्थी ऐसी अंतः विषयी शिक्षा प्राप्त करते हैं जो उन्हें उद्योग जगत की भावी चुनौतियों का सामना करने के लिए तैयार करती है। दोनों संस्थानों एवं फैकल्टी के सहयोग से सभी विद्यार्थियों को अपने पेशे में कामयाबी हासिल करने का मौका मिलता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *