दून में प्रेमी संग मिलकर महिला ने पति को उतारा मौत के घाट; महिला और उसका प्रेमी चढ़ा पुलिस के हत्थे -जानिए खबर

देहरादून। उत्तराखंड की राजधानी देहरादून से एक दर्दनाक आपराधिक वारदात की खबर सामने आयी है। प्राप्त जानकारी के अनुसार देहरादून के विकासनगर में जुडली आदूवाला गांव में हुई जनकू की हत्या उसकी ही पत्नी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर की थी। यह खुलासा कोतवाली पुलिस ने वारदात के बाद 24 घंटे में ही कर दिया। एसपी देहात परमिंदर डोभाल के अनुसार हत्या सिर में गोली मारकर की गई।

जनकू की पत्नी चेतन और उसके प्रेमी रविंद्र को गिरफ्तार कर लिया गया है। खास बात यह कि प्रेमी मृतक की पत्नी से 22 साल छोटा है। हत्या में इस्तेमाल किए गए असलहे की पुलिस तलाश कर रही है। उन्होंने खुलासे करने वाली पुलिस टीम को 2500 रुपये इनाम देने की घोषणा की है। शक तो पुलिस को वारदात के बाद से ही जनकू की पत्नी चेतन पर था। वजह थे हालात जिसमें बगल में सोए पति की हत्या होना और पत्नी को पता न लगना। चेतन पर शक जनकू के पिता मोल्हड़ पुत्र लाल सिंह निवासी जुडली ने भी जताया था।

पुलिस को दी तहरीर में उन्हेंने चेतन (42) के साथ-साथ पड़ोस में रहने वाले रविंद्र (20) पर भी शक जाहिर किया था। पुलिस ने रविंद्र पुत्र रीठू को हरिपुर तिराहा हरबर्टपुर के पास और पत्नी चेतन को उसके घर से हिरासत में लेकर पूछताछ की तो वे जल्द ही टूट गए और हत्या करना स्वीकार कर लिया।

आरोपी के पास से मृतक का मोबाइल फोन बरामद हुआ। पूछताछ के दौरान दोनों ने बताया कि उनके बीच प्रेम संबंध दो माह पूर्व जंगल में बने थे। उसके बाद से दोनों जनकू को रास्ते से हटाने का प्लान बना रहे थे। इसके लिए रविंद्र ने गांव निवासी शिवकुमार से असलहा भी खरीदा। रविंद्र शनिवार रात चेतन के घर पहुंचा। वहां चेतन ने जनकू के मरने के बाद जमीन और मकान बेचने की बात कही तो रविंद्र अपने घर से असलहा लेकर जनकू के घर पहुंचा। देर रात करीब तीन बजे उसने गोली मारकर जनकू की हत्या कर दी और उसका मोबाइल लेकर भाग गया।

पत्नी के बयान से बढ़ा शक

रविवार सुबह जनकू का शव घर के बरामदे में चारपाई पर मिला था। सिर पर चोट का निशान था। जनकू की पत्नी चेतन का कहना था कि शनिवार की रात को वह और जनकू खाना खाने के बाद बरामदे में ही अलग-अलग चारपाई पर सो रहे थे। सुबह उठी तो जनकू मरा हुआ था। इससे पुलिस को शक हुआ कि बगल में पति की बेहरमी से हत्या हो गई और चेतन को पता क्यों नहीं चला। कहीं, वह इसमें शामिल तो नहीं थी। पूछताछ में मामला खुल गया।

पोस्टमार्टम में सिर में मिली गोली

जनकू के शव का पोस्टमार्टम किया गया तो सिर के सिवाय कहीं भी चोट के निशान नहीं मिले। सिर में 0.22 की गोली मिली। पता चला कि हत्या के लिए सिर से तमंचा सटाकर गोली मारी गई थी। पुलिस हत्या में इस्तेमाल किए गए असलहे के बारे में आरोपी रविंद्र से पूछताछ कर रही है। असलहा आरोपियों के खिलाफ अहम सबूत होगा। इसके अलावा पुलिस उससे भी पूछताछ करेगी जिससे रविंद्र ने असलहा खरीदा था।

खुलासे को बनाई गई थी टीम

मामले के खुलासे के लिए सीओ बीएस धोनी और प्रभारी कोतवाल एसएसआई गिरीश नेगी के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया था। पुलिस टीम में चैकी प्रभारी हरबर्टपुर रवि प्रसाद, चैकी प्रभारी विकासनगर दीपक मैठाणी, चैकी प्रभारी कुल्हाल प्रमोद कुमार, महिला एसआई हिमानी चैधरी, कांस्टेबल नीरज कुमार, श्रीकांत मलिक, प्रविंद्र कुमार, नितिन कुमार, महिला कांस्टेबल दीक्षा यादव शामिल रहीं।

दो महीने पुराना था प्रेम

पुलिस पूछताछ में पता चला कि चेतन का अपने से 22 साल छोटे रविंद्र से प्रेम संबंध था। यह संबंध महज दो महीने पहले ही बना था। इससे पहले दोनों में अक्सर बातचीत होती थी। दोनों को प्रेम संबंध में जनकू बाधक लगता था। इसलिए दोनों ने उसे रास्ते से हटाने का प्लान बनाया। इसके लिए रविंद्र ने गांव के ही एक युवक से असलहा भी खरीदा।

ukjosh

‘उत्तराखण्ड जोश’ एक वेब पोर्टल है जो देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, कहानी, कविता एवं व्यंग्य संबंधी समाचार एवं घटनाओं को सोशल मीडिया द्वारा अपने सुधीपाठकों एवं समाज तक पहुंचाता है। वहीं अपने सुधीपाठकों से यह आशा करता है कि खबरों को शेयर एवं लाइक जरूर करें। हमें आपके सहयोग की अतिआवश्यकता है। धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *