CWG 2018: फ्रीस्‍टाइल में पहलवान सुशील कुमार ने जीता गोल्‍ड

गोल्ड कोस्ट। कॉमनवेल्थ गेम्स 2018 में आठवें दिन भारत ने अभी तक पांच मेडल जीत लिए हैं। भारतीय खिलाडि़यों का कॉमनवेल्थ गेम्स 2018 में शानदार प्रदर्शन जारी है। पहलवान सुशील कुमार ने फ्रीस्टाइल 74 किलोग्राम भारवर्ग में गोल्ड मेडल जीता है।

इससे पहले आज भारतीय शूटर तेजस्विनी सावंत ने दिन का पहला पदक हासिल किया। इसके बाद दूसरा सिल्वर मेडल कुश्ती में बबीता फोगाट ने दिलाया। बबीता ने ये रजत पदक 53 किलोग्राम फ्रीस्टाइल कुश्ती में जीता। इसके बाद राहुल आवरे ने भारत को आठवें दिन का पहला गोल्ड मेडल दिला दिया। राहुल ने ये स्वर्ण पदक 57 किलोग्राम फ्रीस्टाइल कुश्ती में जीता। इसके बाद किरन ने महिलाओं की 76 किलोग्राम फ्रीस्टाइल कुश्ती में कांस्य पदक जीता। अब इस सूची में सुशील कुमार का नाम भी जुड़ गया है, जिन्‍होंने स्‍वर्ण पदक अपने नाम किया है। स्टार पहलवान फाइनल में साउथ अफ्रीका के जोहानेस बो सुशील ने 10-0 से कामयाबी पाई। सुशील ने राष्ट्रमंडल खेलों का तीसरा स्वर्ण पदक जीता।

इससे पहले उन्होंने 2010 दिल्ली और 2014 ग्लास्गो कॉमनवेल्थ में गोल्ड मेडल जीते थे पर टूट पड़ा और केवल एक मिनट के भीतर फटाफट गोल्ड पर कब्जा कर लिया।सुशील के इस मेडल के बाद अब भारत के कुल 29 मेडल हो गए हैं। इन 29 में से भारतीय खिलाड़ियों ने 14 गोल्ड 6 सिल्वर और 9 ब्रॉन्ज जीते हैं। इससे पहले भारतीय निशानेबाज़ तेजस्विनी सावंत ने महिलाओं की 50 मीटर राइफल प्रोन स्पर्धा में सिल्वर मेडल हासिल किया। तेजस्विनी 618.9 अंक के साथ दूसरे स्थान रहीं, जबकि सिंगापुर की मार्टिना लिंडसे ने रिकॉर्ड 621.0 अंक हासिल कर गोल्ड पर कब्जा जमाया।\

स्कॉटलैंड की सिओनेड (618.1) ने ब्रॉन्ज जीता. इसी स्पर्धा में भारत की अंजुम मौदगिल (602.2) 16वें नंबर पर रहीं। इससे पहले बुधवार को भारतीय नेिशानेबाज़ श्रेयसी सिंह ने भारत को महिलाओं की डबल ट्रैप स्पर्धा में 12वां गोल्ड मेडल दिलाया था। इसके बाद पुरुष वर्ग में अंकुर मित्तल ने कांस्य पदक दिलाया है। अंकुर मित्तल ने मेडल शूटिंग डबल ट्रैप में जीता। शूटर ओम मिथरवाल ने 50 मीटर पिस्टल इवेंट में ब्रॉन्ज मेडल पर निशाना लगाया। गेम्स के सातवें दिन भारतीय शूटर्स जीतू राय और ओम मिथरवाल 50 मीटर पिस्टल इवेंट में शामिल हुए थे। गोल्ड मेडल जीतने वाली श्रेयसी का यह मुकाबला काफी रोमांचक रहा।

ऑस्ट्रेलिया की शूटर एम्मा कॉक्स श्रेयसी से तीन राउंड तक आगे थीं, लेकिन चौथे राउंड में वह महज 18 प्वाइंट्स ही हासिल कर सकीं और उनका स्कोर दूसरी पोजिशन पर मौजूद भारत की श्रेयसी के बराबर हो गया। शूटऑफ में श्रेयसी ने अपने दोनों निशाने सटीक लगाए लेकिन ऑस्ट्रेलियाई शूटर अपना एक निशाना सही नहीं लगा सकीं। गोल्ड मेडल भारत के नाम हुआ। शूटिंग में यह भारत का चौथा गोल्ड रहा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *