भाई−बहन के पावन प्रेम का प्रतीक भैयादूज पर भाई को खिलाएं खास मिठाई

भैयादूज का त्योहार भाई−बहन के पावन प्रेम का प्रतीक है, यह त्योहार हर किसी के लिए एक विशेष महत्व रखता है। इस दिन बहनें अपने भाई को तिलक करके उसकी दीर्घायु व सुख−समृद्धि की मंगल कामना करती हैं। इतना विशिष्ट अवसर मुंह मीठा किए बिना भला कैसे संपन्न हो सकता है। यूं तो आपको मार्केट में तरह−तरह की मिठाईयां मिल जाएंगी लेकिन इस बार क्यों न अपने हाथों से कुछ खास बनाकर भाई का मुंह मीठा करवाया जाए। ताकि उस व्यजंन से आपके प्रेम व अपनत्व की सौंधी−सौंधी खुशबू भी आए –

मिल्ककेक

सामग्री− दो लीटर दूध
दो चुटकी पिसी हुई फिटकरी
दो कप चीनी
दो बड़ा चम्मच घी
चांदी वर्क
बारीक कटा पिस्ता

विधि− मिल्ककेक बनाने के लिए सबसे पहले एक बड़े पैन में दूध डालकर गरम होने के लिए रख दें। दूध में उबाल आने के पश्चात इसमें फिटकरी डालें। ऐसा करने से दूध फटकर दानेदार हो जाएगा। इसके बाद दूध को लगातार चलाते रहें और गाढ़ा होने पर इसमें चीनी डालकर मिक्स करें और इसे चलाते रहें। करीबन दस मिनट बाद घी डालें और एक बार फिर चलाना शुरू करें। आप देखेंगे कि कुछ देर में यह गाढ़ा हो जाएगा। साथ ही इसका रंग भी बदल जाएगा। इसके बादे इसे एक गहरे तले वाली प्लेट में निकालें और करीबन आधा घंटा के लिए ठंडा होने दें। अब इसे मनचाहे आकार में काटकर सर्व करें। आप चाहें तो इसके उपर चांदी वर्क या बारीक कटा पिस्ता डालकर भी सर्व कर सकते हैं।

 

केसर काजू बर्फी

सामग्री−
एक किलो काजू
क्रीबन 600 ग्राम पिसी हुई चीनी
एक बड़ा चम्मच केसर
पिसी हुई इलायची
एक कप पानी
घी
चांदी वर्क

विधि− केसर काजू बर्फी बनाने के लिए सबसे पहले काजू को पीसकर उसका पाउडर बना लें। इसके बाद एक भारी तले वाली कड़ाही लेकर उसमें पानी व चीनी डालकर मध्यम आंच पर पकने दें। जब इसमें पहला उबाल आए तो गैस की आंच धीमी कीजिए और चाशनी को गाढ़ा होने दें। इसके बाद इसमें केसर डालें और फिर से चाशनी को तब तक पकाएं, जब तक वह तीन तार की न बन जाए। अब गैस बंद कीजिए और इसमें काजू का पाउडर डालकर अच्छी तरह मिलाएं। लेकिन इस दौरान ध्यान रखें कि इसमें गुठलियां न बनने पाएं। अब गैस को दोबारा ऑन कीजिए और धीमी आंच पर चलाते हुए मिश्रण को अच्छी तरह पकाएं। जब मिश्रण पक जाए तो गैस बंद कर दें। अब एक छोटी थाली में घी लगाकर उसे चिकना कर लें। अब इस टे में काजू का तैयार मिश्रण डालकर फैलाएं। कुछ देर बाद जब यह ठंडा हो जाए तो इसके उपर चांदी का वर्क लगाकर सजाएं। अंत में इस केसर काजू कतली को मनचाहे आकार में काटकर सर्व करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *