योग्य शिक्षक संसाधनों की कमी को पूरा कर सकते है: मुख्यमंत्री

देहरादून: 5 सितम्बर को शिक्षक दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री सचिवालय से वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से राज्य भर के शिक्षको से सीधा संवाद करेंगे। मुख्यमंत्री ने शिक्षक दिवस पर प्रदेश के सभी शिक्षकों को हार्दिक बधाई दी है।

उन्होंने शिक्षक दिवस पर जारी अपने संदेश में कहा है कि विद्यार्थियों का चरित्र निर्माण कर उन्हें योग्य नागरिक बनाने में शिक्षकों का महत्वपूर्ण योगदान है। शिक्षक सही मायनों में राष्ट्र निर्माता होते हैं। योग्य शिक्षक संसाधनों की कमी को भी पूरा कर सकते है। सुदृढ़ शिक्षा प्रणाली मजबूत राष्ट्र की आधारशिला है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखण्ड के परिप्रेक्ष्य में शिक्षकों से विशेष अपेक्षाएं है। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर भारत के पूर्व राष्ट्रपति और महान शिक्षक डॉ सर्वपल्ली राधा कृष्णन का स्मरण करते हुए उन्हें अपनी भाव भीनी श्रद्धांजलि दी है।

मुख्यमंत्री ने उत्तराखण्ड में आधुनिक शिक्षा को प्रभावशाली ढंग से कार्यान्वित करने हेतु शिक्षकों से विशेष प्रयास करने की भी अपेक्षा की है। मुख्यमंत्री ने अपने बधाई संदेश में शिक्षकों से सम्पूर्ण साक्षरता के लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए भी बढ़ चढ़ कर कार्य करने का आह्वान किया है।

उल्लेखनीय है कि 5 सितम्बर को शिक्षक दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सचिवालय से वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से राज्य भर के शिक्षको से सीधा संवाद करेंगे। इससे पूर्व उन्होंने राज्य भर के स्कूली छात्र-छात्राओं से भी वीडियो कान्फ्रेसिंग के जरिये संवाद किया था तथा विभिन्न मुद्दों पर उनके विचार, समस्याएं तथा सुझावों पर चर्चा की थी।

Sushil Kumar Josh

‘उत्तराखण्ड जोश’ एक वेब पोर्टल है जो देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, कहानी, कविता एवं व्यंग्य संबंधी समाचार एवं घटनाओं को सोशल मीडिया द्वारा अपने सुधीपाठकों एवं समाज तक पहुंचाता है। वहीं अपने सुधीपाठकों से यह आशा करता है कि खबरों को शेयर एवं लाइक जरूर करें। हमें आपके सहयोग की अतिआवश्यकता है। धन्यवाद

Leave a Reply