पूर्व प्रो. यशपाल सिंह पांगती की याद में डी.एस.बी. परिसर में…

नैनीताल। डी.एस.बी. परिसर के कला संकाय सेमीनार हाल में शनिवार 24 अगस्त 2019 को लगभग 11 बजे प्रो. यशपाल सिंह पांगती पूर्व आचार्य वनस्पति विज्ञान को उनकी पुण्यतिथि पर याद किया जायेगा। इस कार्यक्रम में पूर्व कुलपति फैले आॅफ नेशनल अकादमी प्रो. सुरेन्द्र प्रताप सिंह व्याख्यान देंगे।

बता दें कि कुमांऊ क्षेत्र के प्रसिद्ध वर्गीकरण शास्त्री तथा फर्न, आवृततीजी एवं आवृतवीजी (पुष्पीय पौधों) के विशेषज्ञ प्रो. यशपाल सिंह पांगती का जन्म 7 जुलाई 1944 को मिलम (गुनसारी) में पैदा हुए तथा डी.एस.वी. परिसर के वनस्पति विज्ञान विभाग में प्रोफेसर तथा डी.एस.बी. परिसर के अधिष्ठता छात्र कल्याण रहे है।

प्रो. पांगती पी.एच.डी. के अलवा डी.एस.सी., फैलो आॅफ नेशनल अकादमी आॅफ साइंसेज, यू.जी.सी. इमीरेटस रहे और 2005 में उन्होंने अवकाश प्राप्त किया।

बता दें कि कुमाउं क्षेत्र के वर्गीकरण शास्त्रों तथा इस क्षेत्र के पौधों को पहचानने की अद्भुत कला उनके पास थी। एक दर्जन से ज्यादा पुस्तकें जिनमें आर्थिक आॅफ कुमाउं, फर्न आॅफ नैनीताल, हाई एलटीट्यूड आॅफ हिमालया, नेपाल हिमालया प्रोबल्म आॅफ वेस्टर्न हिमालया, बायोडाइबर्सिटी पोर्टेशिंयल आॅफ हिमालय आदि शामिल है।

सरल व्यक्तित्व के धनी प्रो. पांगती अगस्त 2018 में इस संसार को छोड गये। उनकी पुत्री डा. तनुजा पांगती सुशीला तिवारी में तथा श्री पवन पांगती दिल्ली में कार्यरत है।

बता दें कि डा. वाई.पी.एम. पांगती फाउंडेशन फार रिसर्च एवं डेवलपमेंट द्वारा शनिवार 24 अगस्त के कार्यक्रम में प्रो. सुरेन्द्र प्रताप सिंह तथा हल्द्वानी के पौधे बांटने वाले आयुर्वेदिक डाक्टर आशुतोष पंत को लाइफ टाइम असीम भेंट हेतु सम्मानित किया जायेगा।

कार्यक्रम की अध्यक्षता निदेशक प्रो. एल.एम. जोशी करेंगें। प्रो. पांगती की याद में 2018-19 में उनके विद्यार्थियों द्वारा फ्लोरा आॅफ रानीखेत, क्रूद ड्रग प्लान्टस आॅफ उत्तराखण्ड, सेकेड फारेस्ट आॅफ पिथौरागढ़ वेस्ट हिमालय इंडिया उन्हें समर्पित पुस्तकें है।

वहीं अर्किंड्स आॅफ नैनीताल, एग्रीडाइवर्सिटी आॅफ कूलर वैली वेस्ट हिमालय इंडिया तथा टेरिरोफीटिक फ्लोरा आॅफ नैनीताल डिस्ट्रिक्ट वेस्टर्न हिमालय इंडिया प्रकाशन की कतार में है।

फाउन्डेशन के महासचिव प्रो. ललित तिवारी ने बताया कि कार्यक्रम में प्रो. वाई.सी.एस. पांगती के साथ-साथ कुमाउं विश्वविद्यालय के पूर्व तथा प्रथम कुलपति प्रो. डी.डी. पंत को श्रद्धांजलि दी जायेगी। संस्थान फाउण्डेशन के अध्यक्ष ने इस कार्यक्रम में सभी को आमंत्रित किया है।

Sushil Kumar Josh

‘उत्तराखण्ड जोश’ एक वेब पोर्टल है जो देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, कहानी, कविता एवं व्यंग्य संबंधी समाचार एवं घटनाओं को सोशल मीडिया द्वारा अपने सुधीपाठकों एवं समाज तक पहुंचाता है। वहीं अपने सुधीपाठकों से यह आशा करता है कि खबरों को शेयर एवं लाइक जरूर करें। हमें आपके सहयोग की अतिआवश्यकता है। धन्यवाद

Leave a Reply