भूस्खलन से पहाड़ के 57 संपर्क मार्ग बंद; सात जिलों में भारी बारिश की चेतावनी -जानिए खबर

देहरादून। मौसम विज्ञान केंद्र ने प्रदेश के सात जिलों में भारी बारिश की संभावन जारी की है। देहरादून, पौड़ी, हरिद्वार, नैनीताल, चंपावत, पिथौरागढ़ और ऊधम सिंह नगर में गुरुवार को भारी से भारी बारिश हो सकती है। जिसके मद्देनजर प्रशासन को अलर्ट पर रहने के निर्देश दिए गए हैं।

वहीं बुधवार सायं पर्वतीय क्षेत्रों में हो रही हल्की बारिश के बाद भी पहाड़ों से मलबा गिर रहा है। मंगलवार रात को हल्की बारिश के बाद ऋषिकेश-गंगोत्री हाइवे उत्तरकाशी जिले के चंगी-बड़ेथी के पास दिनभर अवरुद्ध रहा।

वहीं उत्तराखंड में बारिश का दौर जारी है, जिसके चलते भूस्खलन होने से 57 संपर्क मार्ग बंद हैं। रुद्रप्रयाग में गौरीकुंड हाइवे पत्थर गिरने से चार घंटे ठप रहा। देहरादून में दिन के समय कुछ क्षेत्रों में एक दौ दौर तेज बौछारें पड़ी। गंगोत्री हाइवे पर टिहरी के आगराखाल बाजार में ऊपर पहाड़ी से मलबा गिरने से दो दुकाने क्षतिग्रस्त हो गई है।

वहीं, हरिद्वार जिले में बुधवार की शाम को हुई बारिश के चलते चंद्राचार्य चैक क्षेत्र में और भगत सिंह रेलवे पुलिया के नीचे जलभराव हो गया। इससे कांवड़ यात्रियों के साथ ही लोगों को कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ा।

उधर नंदप्रयाग में भूस्खलन से हाइवे बंद होने से लगी वाहनों की कतार चमोली जिले के नंदप्रयाग में तड़के चट्टान टूटने से हाइवे चार घंटे बंद रहा, जिससे लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा।

बताया जा रहा है कि सुबह करीब पांच बजे हाइवे पर नंदप्रयाग के पास भारी भरकम चट्टान टूट गई, जिससे हाइवे बंद हो गया। एनएच महकमे की मशीने देरी से मौके पर पहुंची। सात बजे के करीब हाइवे पर मलबा हटाने का कार्य शुरू हुआ और नौ बजे हाइवे यातायात के लिए सुचारू हो पाया।

वहीं, पौड़ी में रुक-रुक कर हो रही बारिश के कारण दस मोटर मार्गों पर यातायात बाधित रहा। हालांकि अवरुद्ध मोटर मार्गों को खोलने के लिए संबंधित विभाग प्रयासरत है। बुधवार को जनपद के राज्यमार्ग थलीसैंण-बूंगीधार-जैनल-मानिला मोटरमार्ग पर भी तीन घंटे यातायात बंद रहा।

लोनिवि ने कड़ी मशक्कत के बाद जेसीबी की मदद से बंद मोटरमार्ग को यातायात के लिए खोला। इसके अलावा जिले के कौडियाला-व्यासघाट, अरकनी-जनासू, नोडखाल-सिंगटाली, रैतपुर-तिलस्या, टकोलीखाल-बीरोंखाल, पैठाणी-बड़ेथ, चंगीन-कुचैली, स्योली-डाटपुल से मल्ली स्योली, ढौर सकल्याणा मोटरमार्ग, एनएच 121 से सुनारगांव मोटरमार्ग पर यातायात बंद रहा।

वहीं जिलाधिकारी ने अधिकारियों को मौसम विभाग की चेतावनी को देखते हुए सर्तक और तत्परता बनाए रखने के निर्देश दिए हैं। मौसम विभाग अगले 48 घंटों में भारी वर्षा की संभावना व्यक्त की है।

Sushil Kumar Josh

‘उत्तराखण्ड जोश’ एक वेब पोर्टल है जो देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, कहानी, कविता एवं व्यंग्य संबंधी समाचार एवं घटनाओं को सोशल मीडिया द्वारा अपने सुधीपाठकों एवं समाज तक पहुंचाता है। वहीं अपने सुधीपाठकों से यह आशा करता है कि खबरों को शेयर एवं लाइक जरूर करें। हमें आपके सहयोग की अतिआवश्यकता है। धन्यवाद

Leave a Reply