IED विस्फोटक को डिफ्यूज करते वक्त उत्तराखंड का लाल शहीद

देहरादून। मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने जम्मू-कश्मीर के रजौरी स्थित नौशेरा सेक्टर में एलओसी के पास आई.ई.डी. ब्लास्ट में शहीद हुए देहरादून निवासी मेजर चित्रेश बिष्ट की शहादत पर गहरा दुःख व्यक्त किया है।

उन्होंने दिवंगत की आत्मा की शांति एवं दुःख की इस घड़ी में उनके परिजनों को धैर्य प्रदान करने की ईश्वर से कामना की है। मुख्यमंत्री ने कहा कि दुःख की इस घड़ी में हम सब शहीद मेजर चित्रेश बिष्ट के परिवार के साथ है।

गौरतलब है कि उत्तराखंड का एक और लाल देश की रक्षा के लिए शहीद हो गया है। जम्मू कश्मीर में तैनात मेजर बिष्ट राजौरी के नौशेरा सेक्टर में एलओसी के पास जांच के लिए जा रहे थे।

इस दौरान वहां लगाए गए आइईडी को डिफ्यूज करते वक्त विस्फोट हो गया। जिसमें वो शहीद हो गए। वहीं, राज्यपाल बेबी रानी मौर्य और मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मेजर चित्रेश बिष्ट की शहादत पर दुख जताया है।

बात दें कि मूलरूप से अल्मोड़ा जिले के पिपली निवासी मेजर चित्रेश बिष्ट उर्फ सोनू का परिवार देहरादून के नेहरू कॉलोनी में रहता है। उनके पिता एसएस बिष्ट रिटायर्ड पुलिस इंस्पेक्टर हैं। बता दें कि चित्रेश की सात मार्च को शादी होनी थी, इसके लिए कार्ड भी छप चुके थे।

वहीं राज्यपाल बेबी रानी मौर्य और मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने राजौरी के नौशेरा सेक्टर में आइईडी ब्लास्ट में शहीद मेजर चित्रेश बिष्ट की शहादत पर दुख जताया है। राज्यपाल व मुख्यमंत्री ने मेजर चित्रेश के सर्वोच्च बलिदान को कोटि-कोटि नमन करते हुए उनके परिजनों के प्रति संवेदना प्रकट की है। उन्होंने कहा कि पूरा देश इस मुश्किल समय में उनके साथ खड़ा है।

Sushil Kumar Josh

"उत्तराखण्ड जोश" एक न्यूज पोर्टल है जो अपने पाठकों को देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, फिल्मी, कहानी, कविता, व्यंग्य इत्यादि समाचार सोशल मीडिया के जरिये आप तक पहुंचाने का कार्य करता है। वहीं अन्य लोगों तक पहुंचाने या शेयर करने लिए आपका सहयोग चाहता है।

Leave a Reply