मानवता ही सच्चा धर्म है: निरंकारी सद्गुरु माता सुदीक्षा जी महाराज

देहरादून। मानवता की माला प्रभु परमात्मा रूपी धागे के बिना बननी असंभव है। हम केवल इंसान है और पूरी मानवता के कल्याण के लिए है। निरंकारी मिशन, मानवता की सेवा, भक्ति-भाव से करता है। वह यह सेवा अपने सद्गुरु के द्वारा दिये गये ब्रह्मज्ञान को जीवन में अपना कर कण-कण में रमे हुए राम का हरपल एहसास करते हुए करता है।

Satguru-Dehradun-Agamanनिरंकारी सद्गुरु माता सुदीक्षा जी महाराज ने उत्तराखण्ड की मानव कल्याण यात्रा का प्रथम पड़ाव देेवभूमि उत्तराखण्ड में संत निरंकारी भवन, हरिद्वार बाईपास, देहरादून में हजारों की संख्या में उमड़े जनसैलाब को अपना पावन संदेश देते हुए कहा कि बाबा हरदेव सिंह जी महाराज ने जो प्यार यहां दिया है।

Dehradun-Samagam-Satguru-We

आज वही दिव्य नजारा आपकी गरिमामय उपस्थिति से नजर आ रहा है। बाबा जी ने हमेशा प्यार ही बांटा और प्यार ही करना सिखाया। हम इसी तरह से आपसी प्यार से बाबा जी के सपनों को साकार करें। Dehradun-Samagam-sunte-logउन्होंने आगे कहा कि मानवता की सेवा जितनी भी की जाय बहुत कम है। आज संसार में अज्ञानता रूपी अंधेरा फैला हुआ है। इसी अज्ञानता के अंधेरे को ज्ञानरूपी उजाले से ही मिटाया जा सकता है। जैसे जला हुए एक दीपक से दूसरे को उजाला प्रदान कर सकता है।

Dehradun-Samagam

जब मनुष्य की बुद्धी, विवेक, चेतना, ब्रह्मज्ञान से जागृत हो जाती है तो फिर वह परोपकार में उपयोग होना प्रारम्भ हो जाता है। लड़ाई, झगड़े, सिखवे, शिकायत से दूर होकर दया, करुणा, प्रेम, नम्रता के दिव्य गुण को जीवन में प्रकट करने लगता है।

samagam-Sunte-sant

इस समागम को सफल बनाने में सेवादल के क्षेत्रीय संचालक एवं संचालकों के नेतृत्व में यातायात, पियाउ, पार्किंग, पब्लिकेशन, लंगर एवं पण्डाल की सेवाओं को हजारों की संख्या में सेवादल के भाई-बहनों ने सुन्दर रूप दिया।

समागम का मुख्य आकर्षण का केन्द्र बिन्दु सद्गुरु माता सुदीक्षा जी महाराज का शुभागमन रहा। इस दिव्य नजारे में सद्गुरु के स्वागत में बालसंगत का बैंड आगे रहा है। जोनल इंचार्ज हरभजन सिंह एवं संयोजक श्री कलम सिंह रावत ने सद्गुरु माता जी का स्वागत कर आभार प्रकट किया। वहीं समागम में अनेकों समाज के गणमान्य व्यक्तिों का भी शुभ आगमन हुआ। जिन्होंने सत्संग का भरपूर आनन्द उठाया। समागम में विकास नगर, सेलाकुई, बालावाला, डोईवाला, ऋषिकेश, रुड़की, हरिद्वार, टिहरी, सहसपुर एवं आसपास के सभी संगतों ने भाग लिया। मंच संचालन विजय रावत जी ने किया।

– सम्पादक

Sushil Kumar Josh

‘उत्तराखण्ड जोश’ एक वेब पोर्टल है जो देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, कहानी, कविता एवं व्यंग्य संबंधी समाचार एवं घटनाओं को सोशल मीडिया द्वारा अपने सुधीपाठकों एवं समाज तक पहुंचाता है। वहीं अपने सुधीपाठकों से यह आशा करता है कि खबरों को शेयर एवं लाइक जरूर करें। हमें आपके सहयोग की अतिआवश्यकता है। धन्यवाद

Leave a Reply