डकैतों के साथ मुठभेड़ में शहीद दरोगा को वीरता पदक, परिवार को 50 लाख की आर्थिक सहायता

उत्तर प्रदेश के चित्रकूट में डकैतों के साथ मुठभेड में शहीद हुये दरोगा को वीरता पदक से सम्मानित किया जायेगा। शहीद दरोगा जय प्रकाश सिंह का शव गुरुवार देर रात उनके गांव बनेवरा पहुंच गया था। शव पहुंचते ही परिवार में कोहराम मच गया। सुबह से ही शहीद के अंतिम दर्शनों के लिए आसपास के क्षेत्रों काफी भीड़ एकत्रित हो गई थी।

वहीं सूबे के ग्रामीण विकास राज्यमंत्री महेंद्र सिंह और एडीजी लॉ एंड आर्डर आनंद कुमार भी शहीद को अंतिम सलामी देने के लिए उनके गांव पहुंचे। उन्होंने शहीद दरोगा के पिता से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की फोन पर बात कराई। सीएम योगी ने उन्हें हर संभव मदद भरोसा दिलाया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घोषणा की कि शहीद जेपी सिंह के परिवार को 25 लाख रुपये गृह विभाग और 25 लाख रुपये की आर्थिक सहायता मुख्यमंत्री कोष से दी जाएगी।

साथ ही मुख्यमंत्री ने शहीद के गांव की एक सड़क को उनके नाम पर रखने और वहां एक द्वार बनाने की भी घोषणा की। शहीद को वीरता पदक से सम्मानित किया जाएगा। उधर, जौनपुर, लखनऊ और बंदा परिक्षेत्र के जिलों के सभी पुलिसकर्मियों ने अपना एक दिन का वेतन परिवार को देने की घोषणा की है।

वहीं शहीद के पिता से यूपी के डीजीपी सुलखान सिंह ने भी बात की। उन्होंने हर संभव मदद का आश्वासन दिया। डीजीपी ने कहा शहादत बेकार नहीं जाएगी। इससे पहले रात सवा एक बजे शव पहुंचा। शहीद का अंतिम संस्कार वाराणसी के मणिकर्णिका घाट पर हुआ तथा आसपास के क्षेत्र एवं गावों से हजारों लोग ने अंतिम विदाई दी।

Sushil Kumar Josh

‘उत्तराखण्ड जोश’ एक वेब पोर्टल है जो देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, कहानी, कविता एवं व्यंग्य संबंधी समाचार एवं घटनाओं को सोशल मीडिया द्वारा अपने सुधीपाठकों एवं समाज तक पहुंचाता है। वहीं अपने सुधीपाठकों से यह आशा करता है कि खबरों को शेयर एवं लाइक जरूर करें। हमें आपके सहयोग की अतिआवश्यकता है। धन्यवाद

Leave a Reply