नशे के आदि इंसान ही नहीं पशु-पक्षी भी जान दांव पर लगाने को तैयार

आप ने इंसानों को नशे का आदि होते हुए बहुत सुना या देखा होगा, लेकिन क्या आपने कभी पशु-पक्षियों में नशे की लत लगते सुना है। लत भी ऐसी कि इंसान की तरह इसके आदि हो चुके पशु-पक्षी भी अपनी जान दांव पर लगाने को तैयार हैं।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार इन दिनों राजस्थान के किसानों को तोतों में लगी नशे की लत से काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। राजस्थान में उदयपुर संभाग के अफीम उत्पादक किसान आजकल अनोखी परेशानी झेल रहे हैं। नीलगाय द्वारा फसल खराब करने की समस्या उनके लिए पहले से ही थी, अब नई परेशानी तोते बन गए हैं। वे अफीम के पौधों पर लगे डोडे खाने लगे हैं। इस तरह तोतों में अफीम की लत बढ़ती जा रही है और वे लगातार फसल खराब कर रहे हैं।

हालांकि इससे बचने के लिए किसानों ने खेतों को जाल से ढंकना शुरू कर दिया है। उदयपुर जिले के मेनार, वल्लभनगर तथा चित्तौडगढ़ जिले में अफीम यानी काला सोना की खेती इन दिनों तैयार होने की कगार पर है। अ

फीम की खेती करने वाले किसान, फसल में तैयार डोडे पर चीरा लगाने की तैयारी में हैं, जिससे अफीम निकलनी शुरू होगी। खेतों में लगी अफीम की फसल उसके फूलों की वजह से बहुत सुंदर दिख रही है। यही खूबसूरत फूल किसानों की परेशानी की वजह बन गए हैं।

अफीम उत्पादक किसानों के मुताबिक खूबसूरत फूलों से आकर्षित होकर तोतों का झुंड रोजाना सुबह 5 से 7 बजे के बीच अफीम के फूल तथा डोड़ों को खा रहा है। वहीं कुछ पक्षी डोड़ा काटकर चोंच में दबाकर ले जाते हैं।

इसके चलते मेनार, वाना, अमरपुरा, खालसा, खेरोदा, इंटाली व वल्लभनगर के अफीम उत्पादक किसान ज्यादा परेशान हैं। किसान माधव मेनारिया का कहना है कि पूरे खेत पर जाल लगाने से किसानों के हजारों रुपए खर्च हो रहे हैं।

एनीमल फिडिंग एंड जेनेटिक्स, उदयपुर के प्रोफेसर आरके नागदा बताते हैं कि एक बार डोडा खाने के बाद तोते समेत अन्य पक्षियों और बंदरों में इसकी लत लगने लगती है। एक बार लत लग गयी तो पशु हो या पक्षी उनका शरीर 24 घंटे के अंतराल पर फिर से इस नशे की मांग करने लगता है।

पशु-पक्षियों में लगने वाली इस लत को छुड़ाना बहुत मुश्किल है। एक बार लत लगने के बाद फिर वह जान दांव पर लगाकर भी उसका स्वाद लेने के लिए जाने से नहीं हिचकते।

Sushil Kumar Josh

‘उत्तराखण्ड जोश’ एक वेब पोर्टल है जो देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, कहानी, कविता एवं व्यंग्य संबंधी समाचार एवं घटनाओं को सोशल मीडिया द्वारा अपने सुधीपाठकों एवं समाज तक पहुंचाता है। वहीं अपने सुधीपाठकों से यह आशा करता है कि खबरों को शेयर एवं लाइक जरूर करें। हमें आपके सहयोग की अतिआवश्यकता है। धन्यवाद

Leave a Reply