जहरीली शराब पीने से टिहरी में दो की मौत; दो की आंख की रोशनी भी गायब

देहरादून। पहाड़ में जहरीली शराब पीने से दौ की मौत हो गई। गांव में अभी भी कई लोग बीमार हैं। बताया जा रहा है कि जहरीली शराब पीने से दो के आंख की रोशनी भी चली गई है। वहीं, दो लोगों का देहरादून में इलाज चल रहा है।

गौरतलब है कि रुड़की और सहारनपुर में जहरीली शराब पीने से सवा सौ से अधिक लोगों की मौत का मामला अभी ठंडा भी नहीं हुआ था कि उत्तराखण्ड के टिहरी गढ़वाल के सकलाना पट्टी के मरोड़ा गांव में जहरीली शराब पीने से हुई दो मौतों को लेकर स्थानीय पुलिस और प्रशासन ने पर्दा डालने का प्रयास किया।

यही वजह रही कि शिवरात्रि के दिन जहरीली शराब पीने से हुई मौत और बीमार लोगों की किसी को कानोंकान भनक तक नहीं लगने दी गई।  अब तक मिली जानकारी के अनुसार, जौनपुर ब्लाक के सकलाना पट्टी के मरोड़ा गांव में शिवरात्रि की रात एक आयोजन में शराब परोसी गई। शराब पीने के बाद कुछ लोगों की तबीयत अचानक से बिगडने लगी।

ग्राम प्रधान जुप्पल सिंह ने बताया कि सोमवार रात में जब लोगों की तबीयत खराब होने लगी तो पहले तो लोगों को कुछ समझ में नहीं आया। मंगलवार की सुबह सभी को देहरादून ले जाया गया। रमा (50) की रास्ते में ही मौत हो गई, जबकि हरि सिंह, जय सिंह और सोहन की तबीयत बिगड़ गई। सोहन की बुधवार को दून मेडिकल कॉलेज में उपचार के दौरान मौत हो गई।

प्रधान ने कहा कि डाक्टरों ने भी बताया है कि जहरीली शराब के सेवन से ग्रामीणों की तबीयत बिगड़ी और दो की मौत हुई है। मृतक रमा का उसके परिजनों ने बुधवार को अंतिम संस्कार कर दिया।

गंभीर तो यह पुलिस को मंगलवार को ही इस घटना की जानकारी हो गई थी, लेकिन पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठी रही। इस संबंध में टिहरी के एसएसपी डॉ. योगेंद्र सिंह रावत का कहना है कि घटना संज्ञान में है। शराब पीने से दो की मौत हुई है।

शराब जहरीली थी या नहीं और वह कहां से लाई गई थी, इस बारे में जानकारी जुटाई जा रही है। साथ ही गांव में टीम भेजकर लोगों की जांच भी कराई जा रही है।

Sushil Kumar Josh

‘उत्तराखण्ड जोश’ एक वेब पोर्टल है जो देश-विदेश, सरकारी, अर्धसरकारी, सामाजिक गतिविधियां, स्वस्थ्य, मनोरजंन, स्पोर्टस, कहानी, कविता एवं व्यंग्य संबंधी समाचार एवं घटनाओं को सोशल मीडिया द्वारा अपने सुधीपाठकों एवं समाज तक पहुंचाता है। वहीं अपने सुधीपाठकों से यह आशा करता है कि खबरों को शेयर एवं लाइक जरूर करें। हमें आपके सहयोग की अतिआवश्यकता है। धन्यवाद

Leave a Reply